--Advertisement--

लापरवाही: पल्स पोलियो की दवा पिलाई नहीं, मैरिज होम में वैक्सीन छोड़कर सुध भी नहीं ली

Bharatpur News - पल्स पोलियो अभियान में लापरवाही सामने आई है। वार्ड नंबर 2 में न बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई गई और न ही कोई टीम...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 04:16 AM IST
Bharatpur News - negligence pulse polio not drug do not care for vaccination in marriage home
पल्स पोलियो अभियान में लापरवाही सामने आई है। वार्ड नंबर 2 में न बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई गई और न ही कोई टीम पहुंची। हाल ये है कि एक मैरिज होम में पोलियो की वैक्सीन सहित बॉक्स, मार्किंग की चॉक का डिब्बा और रिपोर्टिंग के कारे कागजात पिछले माह 18 नवंबर से लावारिस हाल में पड़े हैं। जिन्हें आजतक न कोई लेने आया और न ही वार्ड में दवा पिलाने कोई टीम पहुंची। इस वजह से सैकड़ों बच्चे पल्स पोलियो की दवा पीने से वंचित रह गए। खास बात ये है कि ऐसी हालत में 21 दिन में वैक्सीन निर्धारित तापमान में नहीं होने से खराब हो गई है।

अनाह गेट तोप सर्किल के पास स्थित जय शिव मैरिज होम के संचालक मूलचंद का कहना है कि मेडिकल विभाग की जीप पल्स पोलियो अभियान के दौरान 18 नवंबर को हर बार की तरह बिना बताए वैक्सीन बॉक्स, रिपोर्टिंग के कोरे कागजात व चॉक का एक डिब्बा रख गए। जिन्हें लेने न तो कोई टीम आई और न ही कोई सुपरवाइजर आदि संकलित करने आया। यही वजह है कि वार्ड नंबर 2 में बच्चों को पोलियो की दवा नहीं पिलाई गई। मेरे छोटा कोई बच्चा नहीं है, लेकिन घर में विवाह समारोह है इस वजह से नवासा दीपावली की दौज पर आया था। जिसे पोलियो की दवा पिलाने की जरूरत हुई तो दूसरे वार्ड में जाना पड़ा। बाद में कई दिन तक जब कोई नहीं आया तो उस वैक्सीन बॉक्स को खोलकर देखा तो उसमें आइस बॉक्स पिघलकर पानी बन गया है। बीच में वैक्सीन की भरी सीसी थैली में रखी हैं। बच्चों को पाेलियो की दवा पिलाने की रिपोर्टिंग शीट के कागज कोरे रखे मिले हैं और घर-घर पर मार्किंग करने के चॉक का डिब्बा भी पैक मिला है। पहले भी ऐसा होता रहा है, लेकिन महीने-दो महीने बाद ले जाते थे। इस बार कोई लेने ही नहीं आया है। वार्ड के निवासी नीरज शर्मा का कहना है कि पूरे वार्ड के बच्चे हमेशा पोलियो की दवा पीए बिना ही रहते हैं, लेकिन कोई पूछने वाला नहीं।

भरतपुर. मैरिज होम में पड़ा वैक्सीन बॉक्स व अन्य सामान।

और यहां... वार्ड में इनके बच्चे पोलियो की खुराक से हैं वंचित

वार्ड 2 के दामोदर डागुर: मेरे खुद के छोटे बच्चे नहीं हैं, लेकिन बेटों के बच्चे हैं। जिनमें 11 माह की नातनी, 10 माह व 2 साल का नाती है, जिन्हें कोई दवा पिलाने नहीं आया।

केस- 1

वार्ड 2 के हरीबाबू शर्मा: मेरे 3, 6 और 9 साल की बेटी हैं। तीनों को हर बार कोई न कोई पोलियो की दवा पिलाने घर आ जाता था, लेकिन इस बार कोई नहीं पहुंचा।

केस- 2

आरसीएचओ से कराएंगे जांच

वैक्सीन बॉक्स अभियान के बाद जमा होते हैं। मामला मेरी जानकारी में आया है। फिर इस मामले में किसकी लापरवाही रही है, उसकी जांच आरसीएचओ से कराई जाएगी। दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। -डाॅ. गोपाल शर्मा, सीएमएचओ

वार्ड 2 के ताराचंद: मेरे तीन बच्चे हैं। जिनमें 12 वर्ष की बेटी, 7 व 3 वर्ष का बेटा है। तीनों बच्चों को कोई टीम पल्स पोलियो की दवा पिलाने आजतक नहीं पहुंची है।

केस- 3

X
Bharatpur News - negligence pulse polio not drug do not care for vaccination in marriage home
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..