क्षमा मांगना वीरों का काम और क्षमा कर देना महावीर के सिद्धांतों का पालन करना सिखाता है: विनीत सागर

Bharatpur News - कामां. सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति देते बच्चे। कामां| पर्युषण महापर्व का शुभारंभ क्षमा से होता है तो...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:25 AM IST
Bayana News - rajasthan news apologizing and doing the work of heroes teaches us to follow the principles of mahavir vineet sagar
कामां. सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति देते बच्चे।

कामां| पर्युषण महापर्व का शुभारंभ क्षमा से होता है तो समापन भी क्षमा धर्म से ही होता है, क्षमा मांगना वीरों का काम है और क्षमा कर देना महावीर के सिद्धांतों का पालन करना सिखाता है। उक्त प्रवचन जैनाचार्य विनीत सागर महाराज ने शुक्रवार को विजयमती त्यागी आश्रम में व्यक्त किए।आचार्य ने कहा कि विगत दस दिनों में दस धर्मों क्षमा, मार्दव, आर्जव, शौच, सत्य, संयम, तप, त्याग, अकिंचन, ब्रह्मचर्य को जीवन मेधारण किया किन्तु ये सब केवल दस दिनों के ही धर्म नही हैं अपितु अनवरत इनका पालन कर ही जीवन को कल्याण के मार्ग पर लगाया जा सकता है। उधर विजयमती त्यागी आश्रम में प्रतिदिन आयोजित हो रहे सांस्कृतिक कार्यक्रमों में संजय सर्राफ, मनीषा, अल्का, संजना बड़जात्या, आर्यन जैन, मोनिका, नैतिक जैन द्वारा जिंदगी की राहों में एक बेटी की गुहार नाटक का सफल मंचन कर बेटी पढ़ाओं बेटी बचाओ का संदेश दिया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ जितेंद्र शास्त्री के निर्देशन में कोमल जैन, सुहानी, गरिमा, हर्षिता के भक्ति नृत्य से हुआ। वर्षायोग समिति के अध्यक्ष पदम चन्द जैन ने बताया कि शांतिनाथ दिगंबर जैन मंदिर के विजयमती स्वाध्याय भवन में सामूहिक क्षमा याचना पर्व का आयोजन शानिवार को आयोजित किया जाएगा।

दशलक्षण पर्व के समापन पर निकाली शाेभायात्रा, तेला व्रतधारी श्रद्धालुओं का बैंडबाजों के साथ किया स्वागत

बयाना. तेला व्रतधारी श्रद्धालुअों का स्वागत करते जैन समाज के लोग।

बयाना। पिछले दस दिनों से जैन समाज के चल रहे दशलक्षण पर्व के समापन पर शुक्रवार को जैन धर्मावलंबियों की ओर से दिगंबर जैन मंदिर में पूजन अभिषेक किए गए। जिसके लिए अनीता रांवका, नीरु रांवका, राहुल रांवका ने तीन दिन तक निर्जला तेला व्रत रखे। व्रतधारी श्रद्धालुओं का जैन समाज के लाेगाें की अाेर से मंदिर परिसर मे ढोल नगाड़े व बैंड बाजों के साथ स्वागत कर शोभायात्रा निकाली गई। जुलूस में जगह-जगह फूलों की वर्षा का कार्यक्रम कर उनका स्वागत किया। इस अवसर पर शांति चांदवाड, किरण जैन, जैन समाज के अध्यक्ष सुनील जैन, प्रमाेद जैन, संतोष जैन, भागचंद जैन, सुभाष, दिनेश,मनोज, विनय, प्रदीप जैन राजकुमार जैन आदि मौजूद रहे।

Bayana News - rajasthan news apologizing and doing the work of heroes teaches us to follow the principles of mahavir vineet sagar
X
Bayana News - rajasthan news apologizing and doing the work of heroes teaches us to follow the principles of mahavir vineet sagar
Bayana News - rajasthan news apologizing and doing the work of heroes teaches us to follow the principles of mahavir vineet sagar
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना