आयुष्मान भारत... कैंसर, डाइबिटीज जैसी गंभीर बीमारियों के लिए नहीं जाना होगा निजी अस्पताल

Bharatpur News - आयुष्मान भारत कार्यक्रम के तहत केन्द्र सरकार ने प्रदेश में 1787 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों (पीएचसी) को स्वास्थ्य...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 08:11 AM IST
Deeg News - rajasthan news ayushman bharat private hospitals will not go for serious diseases like cancer diabetes
आयुष्मान भारत कार्यक्रम के तहत केन्द्र सरकार ने प्रदेश में 1787 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों (पीएचसी) को स्वास्थ्य कल्याण केन्द्रों (एचडब्ल्यूसी) में परिवर्तन किया है। एचडब्ल्यू सी में चयनित योजना में भरतपुर जिले के 58 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों (पीएचसी) का चयन हुआ है। जिसमें डीग ब्लाक की 4 पीएचसी शामिल हैं। आयुष्मान भारत कार्यक्रम के तहत अब जिले की चयनित पीएचसी में कैंसर, हाइपर टेंशन, डायबिटीज सहित कई गंभीर बीमारियों के लिए अब मरीजों को जिला मुख्यालय सहित अन्य निजी अस्पतालों में भटकने की आवश्यकता नही पडेगी। आयुष्मान भारत कार्यक्रम में शामिल पीएचसी पर सभी सुविधाएं मिल सकेंगी। चयनित पीएचसी पर रंग रोगन, ब्रांडिंग करवाने तथा पर्याप्त स्टाॅफ लगाए जाने के आदेश जारी हो चुके हैं। आदेशों में पर्याप्त चिकित्सक, एएनएम, जीएनएम सहित अन्य स्टाॅफ कार्यरत रहेगा। इसके लिए संबंधित चिकित्साधिकारियों को निर्देशित किया गया है।

योजना में जिले की कुम्हेर ब्लाक में अजान, अवार, अस्तावन, भटावली, पैंगोंर, साबोरा, सेवर ब्लाक में सेवर, नगला कल्याणपुर, जघीना, चिकसाना, बहनेरा, बांसी कलां, बांसी विरहना, कांमा ब्लाक में अंधावडी, बिलोंद, घडाजाना, घाटा, लेवडा, सोमका, बयाना ब्लाक में सिंघाडा, मेहरावर, कलसाडा, कपूरामलुका, झील का वाडा, भुसावर ब्लाक में अलीपुर, बाछरेन, बल्लभगढ, विजवारी, छोंकरवाडा कला, हलैना, जीवद, ललिता मूडिया, निठार, पथैना, रनधीरगढ, सलेमपुर कला, नगर ब्लाक में सुन्दरावली, रांफ, मूडिया नगर, मनौता कला, कैथवाडा, गोपालगढ, गुलपाडा, बरखेडा, रूपवास ब्लाक में चांदपुरा, जटमासी, खानुआं, रूदावल, बिनउआ, नदबई ब्लाक में पहरसर, लखनपुर, हंतरा, भदीरा, बरौलीछार एंव डीग ब्लाक में सिनसिनी, कौंरेर, जनूथर व खोह पीएचसी शामिल हैं। इस योजना से गंभीर बीमारी से ग्रसित गरीब परिवारों के लोगों को निश्चित रूप से फायदा मिल सकेगा।

डीग. एचडब्ल्यूसी मे चयनित डीग की जनूथर पीएचसी

डीग ब्लाक में 4 पीएचसी को स्वास्थ्य कल्याण केन्द्र के रूप में आयुष्मान योजना में शामिल किया गया है। ब्लाॅक की एक अन्य पीएचसी बहज पूर्व मंे ही योजना में शामिल हो चुकी है। इनमंे सुविधाएं बढाने का कार्य शुरू किया जा रहा है। आयुष्मान कार्यक्रम के तहत गंभीर बीमारियों की स्क्रीनिंग की भी सुविधा रहेगी। -डाॅ. हिमांशु पाराशर, ब्लाॅक खण्ड मुख्य चिकित्साधिकारी डीग

आप भी जानिए...

ये मिलेंगी सुविधाएं और इन गंभीर बीमारियों का हो सकेगा उपचार

आयुष्मान भारत कार्यक्रम के तहत एसडब्ल्यूसी में चयनित हुई पीएचसी पर बेहतर रंग रोगन, भवन की मरम्मत, नेम बोर्ड, नोटिस बोर्ड, आईईसी बैनर, सिटीजन चार्टर डिस्पले, योजनाओं की गाइड लाइन, फर्नीचर, कम्प्यूटर, इंटरनेट कनेक्टिविटी आदि सुविधाओं के साथ पीएचसी पर चिकित्सक, नर्स, आशा द्वारा मरीजों की देखभाल एंव उपचार गाइड लाइन दी जा रही है। पीएचसी में मरीजों एवं परिजनों को ओपीडी एवं इनडोर में डिस्पले बोर्ड पर कई प्रकार की जानकारियां भी उपलब्ध होंगी। बेहतर उपचार के लिए पीएचसी पर हाइपर टेंशन, डाइबिटीज, ओरल कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर सहित कई बीमारियों की एनसीडी की स्क्रीनिंग होगी। मरीजों को चिकित्सको द्वारा निशुल्क दवाइयां दी जाएंगी। स्क्रीनिंग कराने वाले मरीजों का ऑऩलाइन डाटा भरा जाएगा। जिसमें किसी भी प्रकार की बीमारियों के लक्षण मिलने से उनका सही समय पर उपचार हो सके। साथ ही पीएचसी पर भर्ती मरीजों को नियमित योगा व स्वस्थ रहने की एक्टीविटीज भी कराई जाएगी।

X
Deeg News - rajasthan news ayushman bharat private hospitals will not go for serious diseases like cancer diabetes
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना