नोटबंदी में 7 लोगों के खाते में जमा हुए एक करोड़ से ज्यादा

Bharatpur News - आयकर विभाग ने नोटबंदी के बाद तय सीमा 2.5 लाख रुपए से अधिक की राशि अपने बैंक खातों में जमा करने वाले करीब 170 लोगों को...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:25 AM IST
Bharatpur News - rajasthan news more than 1 crore deposited in account of 7 people
आयकर विभाग ने नोटबंदी के बाद तय सीमा 2.5 लाख रुपए से अधिक की राशि अपने बैंक खातों में जमा करने वाले करीब 170 लोगों को नोटिस जारी किए हैं। इनमें 7 ऐसे लोग भी चिन्हित हुए हैं, जिन्होंने उस दौरान अपने खाते में 1 करोड़ से रुपए से अधिक की राशि जमा कराई थी। इनमें तेल उद्योग, प्रॉपर्टी डीलर, कांट्रेक्टर और कंस्ट्रक्शन से जुड़े लोग बताए गए हैं। इन सभी से एक ही जवाब मांगा गया है कि उनके पास इतनी बड़ी रकम कहां से आई। क्योंकि उनके खातों में इससे पहले कभी इतनी बड़ी रकम का लेन-देन नहीं हुआ है।

जिलेभर में ऐसे लोगों की संख्या 12000 से ज्यादा बताई जा रही है जिन्होंने उस दौरान खातों में तय रकम से ज्यादा राशि जमा कराई है। व्यापारियों की सुरक्षा की दृष्टि से आयकर विभाग ने नामों का खुलासा करने से इनकार कर दिया है। आयकर विभाग का मानना है कि चिन्हित किए गए सभी लोग हालांकि आयकर दाता हैं। लेकिन, इनके बैंक खातों में इससे पहले कभी इतनी बड़ी रकम एक साथ जमा नहीं हुई है। इसीलिए ऐसे सभी लोग अब बैंक सूचना के आधार पर आयकर विभाग के राडार पर हैं। बैंकों से जैसे-जैसे खातों की डिटेल मिल रही है, उसके आधार पर जांच का दायरा बढ़ रहा है। इसलिए हो सकता है नोटबंदी के दौरान तय सीमा से ज्यादा रकम खाते में जमा कराने वालों की संख्या और भी ज्यादा हो जाए। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर, 2016 को अचानक देशभर में 500 और 1000 के नोटों का प्रचलन बंद कर दिया था। नकदी को लेकर लोगों को ज्यादा असुविधा न हो, इसलिए सभी लोगों को बैंकों से एक तय सीमा तक पुराने नोट बदलने के साथ ही बैंक खाते में 2.50 लाख रुपए तक के पुराने नोट जमा कराने की छूट दी गई थी। इससे ज्यादा रकम जमा करवाने वालों को उसका स्रोत बताना था। साथ ही उनकी जानकारी इनकम टैक्स रिटर्न से भी मेल खानी चाहिए थी। इसलिए आशंका है कि भरतपुर जिले में जिन लोगों को भी आयकर ने नोटिस जारी किए हैं, उनमें से अधिकांश ने अपना कालाधन सफेद किया हो।

अब आयकर दाता से विभाग द्वारा बैंक में जमा रकम का स्रोत पूछा गया हैः मित्तल

वर्ष 2016-17 में 8 नवंबर को लागू हुई नोटबंदी के दौरान कई लोगों ने काफी मात्रा में नकदी जमा कराई थी। यह जानकारी बैंकों के जरिए आयकर विभाग को पहुंची है। इसलिए बैंकों में जमा रकम का स्त्रोत विभाग ने पूछा है। इस संबंध में कई लोगों को नोटिस जारी हुए हैं। आयकर विभाग द्वारा बैंकों से मिली जानकारी को एकत्रित कर अब इन लोगों से डिटेल मांगी गई है। - अतुल मित्तल सीए

जांच का दायरा... इनमें अधिकांश वे लोग शामिल हैं, जिन्होंने 1000 के नोट ज्यादा जमा कराए

आयकर विभाग ने पूछा, इतनी बड़ी रकम कहां से आई

आशंका... कहीं काले धन को सफेद तो नहीं किया गया था

X
Bharatpur News - rajasthan news more than 1 crore deposited in account of 7 people
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना