स्टूडेन्ट पुलिस कैडेट योजना से विद्यार्थियों में अनुशासन की भावना का होगा विकास : जैदी

Bharatpur News - उच्च प्राथमिक, माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में अब एनसीसी, एनएसएस, स्काउट गाइड की तरह से स्टूडेंट पुलिस...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:25 AM IST
Bharatpur News - rajasthan news student cadet yojana will develop the spirit of discipline among students zaidi
उच्च प्राथमिक, माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में अब एनसीसी, एनएसएस, स्काउट गाइड की तरह से स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना का शुभारंभ किया जाएगा। इस वर्ष से भरतपुर संभाग के करीब 50 से अधिक सरकारी व गैर सरकारी स्कूलों में स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना का शुभारंभ हो जाएगा। अब 8 से 12 वीं कक्षा के विद्यार्थियों को स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना से जोड़ा जाएगा। इस योजना को अपने विद्यालय में चलाने वाले स्कूल को सरकार की और से सालाना 50 हजार रुपए का बजट उपलब्ध कराया जाएगा। बजट की 60 प्रतिशत राशि केंद्र सरकार और 40 प्रतिशत राशि राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध कराई जाएगी। शनिवार को शहर के कला मंदिर उच्च माध्यमिक विद्यालय में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कम्यूनिटी पुलिसिंग) राजस्थान जयपुर एवं निदेशक माध्यमिक शिक्षा राजस्थान बीकानेर के निर्देश पर स्टूडेंट पुलिस कैडेट (एस0पी0सी0) योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए संभाग के चारों जिलों के 69 विद्यालयों के प्रधानाचार्यों एवं शारीरिक शिक्षकों को स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना का प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के दौरान संभागियों को पुलिस अधीक्षक हैदर अली जैदी बताया कि पुलिस अपराधियों में डर, आमजन में विश्वास के आधार पर कार्य कर रही है। अब विद्यार्थियों को पुलिस की कार्यशैली से अवगत कराते हुए यह प्रशिक्षण महत्वपूर्ण है। स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना से विद्यार्थियों में स्वअनुशासन की भावना जाग्रत होगी। मुख्य वक्ता के रूप में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कम्यूनिटी पुलिसिंग रानू शर्मा ने स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना के बारे में विस्तार से बताया कि चयनित विद्यालयों के विद्यार्थियों को योजना में चिन्हित कर प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। योजना के माध्यम से विद्यालयों में पुलिस विभाग के प्रशिक्षित कार्मिकों द्वारा ड्रिल कराई जावेगी। विद्यालय में असामाजिक तत्वों का आवागमन, बुलिंग की घटनायें, बालिकाओं में सुरक्षा की भाव नाओं विकास होगा तथा सम्प्रदाय व जातिवाद की घटाओ पर अंकुश लगेगा। विद्यार्थियों को न्यायालय, पुलिस थाना आदि स्थानों का भ्रमण कराया जाएगा। वहीं मास्टर ट्रेनर प्रधानाचार्य कैलाश चन्द, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डाॅ. मूलसिंह राणा ने स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना को सही भावना से लागू करने पर जोर दिया। प्रशिक्षण कार्यशाला की मुख्य अतिथि संयुक्त निदेशक स्कूल शिक्षा इन्दिरा सिंह द्वारा स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना को उपयोगी बताते हुए संभाग के चारों जिलो में पूर्ण क्रियान्वयन का आवश्वासन दिया गया। वहीं प्रशिक्षण कार्यक्रम की अध्यक्षता करते शिक्षा विभाग की उपनिदेशक डाॅ. प्रेमवती शर्मा ने बताया कि विद्यार्थियों के पूर्ण विकास के लिये चार-डी सिस्टम-ड्रीम, डिसिपिलेन, डेवलपमेन्ट एवं ड्यूटी का इस योजना से विकास होगा। इस मौके पर सीडीईओ रिपुसूदन सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी मुख्यालय माध्यमिक शिक्षा प्रेम सिंह, भूपेन्द्र सिंह, मंजूदेवी, कल्याण सिंह, रामेश्वर मीना, गंगासिंह, राजेश मीना, खेम चंद शर्मा, गंभीर सिंह, विजय सिंह, धीरेंद्र जैन आदि मौजूद रहे। संचालन अनुपमा चीमा ने किया।

भरतपुर। स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना के बारे में जानकारी देते एसपी हैदर अली जैदी।

सरकारी स्कूलों में छात्रों का प्रदर्शन दूसरों के लिए प्रेरणा: शर्मा

भरतपुर. एसपीसी की राज्य प्रमुख एडिशनल एसपी रानू शर्मा ने जिले के एकमात्र विद्यालय में संचालित स्टूडेंट्स पुलिस कैडेट यूनिट का मा. आदित्येन्द्र राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय मल्टीपरपज में शनिवार को निरीक्षण किया। उन्होंने विद्यालय के प्रधानाचार्य सुनील चतुर्वेदी व एसीपीओ तरुण श्रीवास्तव से विद्यालय में संचालित एसपीसी की गतिविधियों के बारे में विस्तार से जानकारी ली। प्रधानाचार्य ने बताया कि 4 वर्षों में विद्यालय की एसपीसी यूनिट ने जिला स्तर पर दो बार स्वतंत्रता दिवस एवं गणतंत्र दिवस पर आयोजित समारोह में परेड में दूसरा स्थान प्राप्त किया है। वर्ष 2017 के जिला मुख्यालय पर आयोजित राज्य स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में परेड में तीसरा स्थान प्राप्त किया था। एसपीसी के छात्रों से उन्होंने ने केवल 15 अगस्त व 26 जनवरी की परेड तक अपने आप को सीमित रखने बल्कि विद्यालय और उसके आसपास के वातावरण को स्वच्छ हरित एवं संस्कार युक्त बनाने में एसपीसी के योगदान के बारे में चर्चा की। प्रधानाचार्य सुनील चतुर्वेदी ने एसपीसी प्रमुख को विद्यालय की एकेडमिक गतिविधियों से अवगत कराते हुए उन छात्रों की अंकतालिकाएं दिखाईं जिन्होंने विद्यालय में 2017 में निजी विद्यालयों से 50 प्रतिशत या उसके आसपास 10वीं उत्तीर्ण कर प्रवेश लिया था और 2019 में इस विद्यालय से 75 प्रतिशत या उससे अधिक अंकों के साथ सभी संकायों में 12वीं कक्षा उत्तीर्ण की है। ऐसी अंक तालिकाओं को देखकर एएसपी शर्मा ने आश्चर्य व्यक्त करते हुए में विद्यालय प्रबंधन एवं स्टाफ की सराहना की।

X
Bharatpur News - rajasthan news student cadet yojana will develop the spirit of discipline among students zaidi
COMMENT