• Hindi News
  • Rajasthan
  • Bharatpur
  • Bhusawar News rajasthan news two bikes collided face to face 8 inch long bones of elderly person sitting on the other bike entered in the thigh of a rider pulled out from the operation

आमने-सामने भिड़ीं दो बाइक, एक सवार की जांघ में घुसी दूसरी बाइक पर बैठे बुजुर्ग के पांव की 8 इंच लंबी हड्‌डी, आॅपरेशन से निकाली

Bharatpur News - नरेंद्र की जांघ में जिस दूसरे बुजुर्ग की हड्‌डी घुसी उसका जयपुर में काटना पड़ा पांव यह थी कहानी... 17 फरवरी को...

Feb 22, 2020, 07:36 AM IST
Bhusawar News - rajasthan news two bikes collided face to face 8 inch long bones of elderly person sitting on the other bike entered in the thigh of a rider pulled out from the operation
नरेंद्र की जांघ में जिस दूसरे बुजुर्ग की हड्‌डी घुसी उसका जयपुर में काटना पड़ा पांव

यह थी कहानी... 17 फरवरी को पथैना के पास दो बाइकें भिड़ीं जिन पर पांच लोग सवार थे। इनमें 3 घायल भरतपुर आ गए जबकि दो जयपुर चले गए। मामला दर्ज नहीं होने से कुछ पता नहीं लग सका।

ऐसे उलझा मामला... बड़ा सवाल ये था कि रोगी नरेंद्र एक्सीडेंट के बारे में ज्यादा कुछ बता नहीं पा रहा था। बाइक पर उसके साथ बैठे लोगों के भी एक्सरे कराए तो उनके शरीर में भी सभी हडि्डयां सुरक्षित थीं।

यूं सुलझी गुत्थी: भास्कर ने जोड़ी कड़ी से कड़ी और ढूंढ़ निकाला दूसरा घायल

यह रोचक मामला सामने आने के बाद दैनिक भास्कर ने पूरे मामले की पड़ताल की। इसके लिए करीब 2 थाने 3 पुलिस चौकियों पर फोन किए। शहर के 4 अस्पताल, नेशनल हाइवे और स्टेट हाइवे समेत स्थानीय एंबूलेंस कर्मियों समेत करीब 50 लोगों से पूछताछ की। पता चला कि 17 फरवरी दोपहर के वक्त खेडली मोड इलाके में पथैना के पास दो बाइकों की भिड़ंत हुई थी। एक बाइक के घायलों को भरतपुर आरबीएम में तो दूसरी बाइक के घायलों को जयपुर एसएमएस ले जाया गया। एंबूलेंस कर्मियों से पता चला कि पथैना के पास घायल खानवा निवासी चन्नू जोगी (55) और मंगतू (60) जयपुर एसएमएस में भर्ती है। मंगतू के बेटे कारे जोगी से बात की तो दुर्घटना की पुष्टि हो गई। उसने बताया कि मंगतू का जयपुर में पैर काटना पड़ा है। वह दुर्घटना के वक्त बेटी के ससुर के साथ बाइक पर खेड़ली जा रहा था। तभी यह दुर्घटना हो गई।

भरतपुर | मेडिकल फील्ड में काम करते हुए करीब 15 साल हो गए। पहली बार ऐसा मामला देखा है जब दुर्घटना में घायल मरीज के शरीर की सभी 206 हड्डियां सुरक्षित हों और उसकी जांघ में करीब 8 इंच की इंसानी जांघ की दूसरी हड्डी गोली की तरह घुसी हुई हो। ऐसा कभी सुना भी नहीं था। अब तक भी पता नहीं चला कि ये हड्डी आखिर रोगी के शरीर में घुसी कैसे। क्योंकि बाइक पर बैठे अन्य दो रोगियों के शरीर की भी सभी हड्डियां सुरक्षित हैं। रोगी एक्सीडेंट को लेकर कोई पुख्ता सूचना भी नहीं दे पा रहा है। एक्सीडेंट में अगर कोई अन्य व्यक्ति घायल हुआ तो वह कहां है, यह भी पता नहीं चल रहा था। लेकिन, हमारे लिए यह अजूबा ही है। खैर, ऑपरेशन करके फिलहाल रोगी की जांघ में फंसी अतिरिक्त हड्डी अब निकाल दी गई है। रोगी नरेंद्र अब खतरे से बाहर है।

हुआ यह कि सोमवार 17 फरवरी को सड़क दुर्घटना में घायल आरबीएम जिला अस्पताल में भुसावर के सलैमपुर खुर्द निवासी नरेंद्र को भर्ती कराया गया था। उसकी दाईं जांघ के निचले हिस्से में चोट का छोटा सा घाव और सूजन थी। वो दर्द से काफी परेशान था। जांघ का एक्स-रे कराया तो जांघ की हड्डियां एकदम ठीक दिखीं। लेकिन बीच में करीब 8 इंच लंबी एक और हड्डी फंसी हुई थी। खाल में यह करीब 3 सेमी अंदर गोली की तरह फंसी और दूसरी ओर बाहर भी नहीं दिऱ रही थी। मरीज नरेंद्र दुर्घटना के बारे में ज्यादा जानकारी भी नहीं दे पा रहा था। उसने बस इतना बताया कि दुर्घटना के बाद वह बेहोश हो गया था।

हमें लगा कि जांघ के ऊपर या नीचे के हिस्से से ही कोई हड्डी टूटकर नीचे आ गई है। इस पर हमने पूरे पैर के तीन एक्स-रे किए, उनमें भी कोई हड्डी टूटी नहीं मिली। फिर पूरे शरीर को चेक किया तो कहीं भी गंभीर चोट के निशान नहीं मिले और शरीर की सभी 206 हड्डियां सुरक्षित थीं। इसके बाद नरेंद्र से फिर दुर्घटना की डिटेल जानकारी ली। उसने बताया कि दो बाइकों की टक्कर हुई थी जिसमें एक बाइक पर वह खुद, उसका छोटा भाई सोनू और दोस्त पप्पू भी था। उनके भी चोटें आई थीं। वे दोनों आरबीएम अस्पताल में भर्ती हैं। इस पर उन दो अन्य रोगियों का भी पता लगाया। दोनों के शरीर का परीक्षण किया गया तो उनमें भी हड्डी टूटकर बाहर निकलने जैसा मामला नहीं दिखा था। आखिर निर्णय लिया गया कि एक बार ऑपरेशन करके पहले नरेंद्र की जांघ में फंसी अतिरिक्त हड्डी को निकाला जाए। फिर डॉ. सत्यवीर सिंह, नर्सिंग कर्मी धर्मेंद्र चौधरी के सहयोग से शुक्रवार को एक घंटे तक चले ऑपरेशन में अतिरिक्त हड्डी को निकाल दिया गया।

डाॅ. योगेश अग्रवाल

विभागाध्यक्ष, अस्थि रोग, मेडिकल काॅलेज (इन्होंने किया रोगी नरेंद्र का ऑपरेशन)

Bhusawar News - rajasthan news two bikes collided face to face 8 inch long bones of elderly person sitting on the other bike entered in the thigh of a rider pulled out from the operation
Bhusawar News - rajasthan news two bikes collided face to face 8 inch long bones of elderly person sitting on the other bike entered in the thigh of a rider pulled out from the operation
Bhusawar News - rajasthan news two bikes collided face to face 8 inch long bones of elderly person sitting on the other bike entered in the thigh of a rider pulled out from the operation
Bhusawar News - rajasthan news two bikes collided face to face 8 inch long bones of elderly person sitting on the other bike entered in the thigh of a rider pulled out from the operation
X
Bhusawar News - rajasthan news two bikes collided face to face 8 inch long bones of elderly person sitting on the other bike entered in the thigh of a rider pulled out from the operation
Bhusawar News - rajasthan news two bikes collided face to face 8 inch long bones of elderly person sitting on the other bike entered in the thigh of a rider pulled out from the operation
Bhusawar News - rajasthan news two bikes collided face to face 8 inch long bones of elderly person sitting on the other bike entered in the thigh of a rider pulled out from the operation
Bhusawar News - rajasthan news two bikes collided face to face 8 inch long bones of elderly person sitting on the other bike entered in the thigh of a rider pulled out from the operation
Bhusawar News - rajasthan news two bikes collided face to face 8 inch long bones of elderly person sitting on the other bike entered in the thigh of a rider pulled out from the operation

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना