निर्जला एकादशी पर हुए विभिन्न कार्यक्रम, प्याऊ लगाकर महिलाओं ने पिलाया मीठा पानी

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:35 AM IST

Bharatpur News - कस्बा सहित आसपास के ग्रामीण अंचल में निर्जला एकादशी पर महिलाओं ने पूजा अर्चना करते हुए उपवास रखा और भगवान से...

Bhusawar News - rajasthan news various programs on nirjala ekadashi women drinking sweet water
कस्बा सहित आसपास के ग्रामीण अंचल में निर्जला एकादशी पर महिलाओं ने पूजा अर्चना करते हुए उपवास रखा और भगवान से परिवार की सुख समृद्धि की कामना की। वहीं क्षेत्र में विभिन्न मन्दिरों एवं सार्वजनिक स्थानों पर मीठा पानी पिलाकर राहगीरों का स्वागत किया गया। भुसावर के कोठी वाले हनुमान मन्दिर पर निर्जला एकादशी पर महिला भक्त मंडल द्वारा शरबत वितरण किया। जिसमें महिलाओं ने राहगीरों सहित मन्दिर में आने वाले भक्तों को शरबत पिलाया।

वैर। गुरुवार को कस्बा वैर सहित ग्रामीण अंचल में निर्जला एकादशी का पर्व मनाया गया। व्रत रखने महिलाओं ने मंदिरों में जाकर फल जल व बीजना पंखा का दान किया तथा भजन कीर्तन गाए। मंदिर महंत ललित नारायण शर्मा ने बताया कि ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी को निर्जला एकादशी कहते है। इस व्रत में पानी का पीना वर्जित है। इसलिए इसे निर्जला एकादशी कहते है। निर्जला एकादशी का व्रत करने वाले जल के साथ अन्न का भी सेवन नही करती है। इसका व्रत करने से व्यक्ति को आयु आरोग्य एवं विष्णु लोक की प्राप्ति होती है। इसी कारण से निर्जला एकादशी व्रत का महत्व अन्य एकादशियों की तुलना में अधिक है। वही संगीतमयी श्रीराम कथा में भी कथा वाचक पंडित डिगम्बर प्रसाद शास्त्री ने एकादशी पर्व का महत्व बताने के साथ साथ एकादशी व्रत का प्रसंग सुनाया।

भुसावर. निर्जला एकादशी पर शरबत पिलाती महिलाएं।

X
Bhusawar News - rajasthan news various programs on nirjala ekadashi women drinking sweet water
COMMENT