पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Rudawal News Viewers Watched The Stage Of Sarbang Rishi Dialogue In Ramlila

रामलीला में सरभंग ऋषि संवाद का मंचन देख भावविभोर हुए दर्शक

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रुदावल | कस्बे के प्राचीन दाऊजी मंदिर पर चल रही रात्रि रामलीला में सुतीक्षण, सरभंग ऋषि संवाद का मंचन हुआ। रामलीला मंचन को देखकर दर्शक भावविभोर हो गए। इस मंचन में बताया कि नारद पुत्र जयंता भगवान श्रीराम के बल की परीक्षा लेना चाहता है। उस समय भगवान श्रीराम सीता का श्रंगार कर रहे थे। तभी जयंता सीता के चरणों में चोंच देकर भाग गया। भगवान श्रीराम ने तीर मारकर जयंता को घायल कर दिया। तीर लगते ही जयंता विचलित हो गया। उसे किसी ने शरण नहीं दी। तब श्रीराम ने जयंता की एक आंख को फोड़कर पीड़ा से मुक्त करते है। इसके बाद श्रीराम सरभंग ऋषि के आश्रम पहुंचे। वहां पर अवरल भक्ति देकर सरभंग को स्वर्ग लोक भेजते है। इसके बाद श्रीराम सुतीक्षण के आश्रम पहुंचते है, वे श्रीराम के परम भक्त थे। सुतीक्षण श्रीराम को अपने गुरू की कथा सुनाते हुए उनके आश्रम ले जाते है। श्रीराम ने दोनों को अवरल भक्ति प्रदान की। रामलीला के मंचन को देखने के लिए काफी संख्या में लोग पहुंच रहे है। इस मौके पर जयनारायण, राजू शर्मा, सुभाष बंसल, राजू जांगिड़, जगदीश, सरपंच सुभाष कटारा, मोहरसिंह, कृष्णा शर्मा आदि मौजूद थे।

इस कॉलम के लिए  के सम्माननीय पाठक भी हमें खबर और फोटो भेज सकते हैं। हमारा ई-मेल आईडी है btpnews@gmall.comऔर वाट्सएप नंबर है 7062301085

खबरें और भी हैं...