--Advertisement--

डेढ़ साल बाद ही धंस गई 48 लाख रुपए से बनाई पुलिया

जवाहर नवोदय स्कूल के पीछे बनाई गई पुलिया डेढ़ साल में ही बैठ गई। 48 लाख रुपए से बनाई गई इस पुलिया के धंस जाने से...

Danik Bhaskar | Feb 18, 2018, 02:05 AM IST
जवाहर नवोदय स्कूल के पीछे बनाई गई पुलिया डेढ़ साल में ही बैठ गई। 48 लाख रुपए से बनाई गई इस पुलिया के धंस जाने से भ्रष्टाचार की कलई खुल गई। नगर पालिका की ओर से बनवाई गई यह पुलिया पहले भी चर्चा में रही।

डेढ़ साल पहले जब इसका निर्माण कराया जा रहा था तो कुछ विशेष लोगों को फायदा पहुंचाने के आरोप-प्रत्यारोप का दौर चला था। इसकी जरूरत पर सवाल उठे तो नगर पालिका ने कहा कि यह पुलिया बाईपास से सीधा देवरिया के कच्चे रास्ते को जोड़ती है। इसके दोनों ओर सड़क बन जाने से यह उपयोगी हो जाएगी। ग्रामीणों ने बताया कि पुलिया बरसात में सुगम आवागमन के लिए बनाई गई थी, लेकिन इसे बनाते समय पिपलाद नदी में हर साल आने वाली बाढ़ का ध्यान नहीं रखा गया। दरअसल नदी का जलस्तर इतना बढ़ जाता है कि पुलिया की ऊंचाई छोटी पड़ जाती है। पहली ही बारिश में नदी का पानी पुलिया के ऊपर से चल रहा था। इधर, पुलिया के दोनों ओर एप्रोच रोड के धंस जाने से लोग मिट्‌टी डालकर आवाजाही कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि उन्होंने इसकी नगरपालिका में शिकायत की थी, लेकिन पुलिया की एप्रोच को नहीं सुधारा गया तो मिट्टी डालकर उसे समतल करना पड़ा। इस संबंध में पालिका के जेईएन धर्मराज का कहना है कि वह पुलिया का मौका दिखवाएंगे।

भवानीमंडी. नवोदय स्कूल के पीछे बनाई गई पुलिया डेढ़ साल में ही क्षतिग्रस्त हो गई।

पुलिया से हर दिन गुजरते हैं रेत और मिट्‌टी के ओवरलोड वाहन: इस पुलिया से होकर रोज रेत और मिट्टी के ट्रक निकलते हैं। पुलिया के आस-पास की नदी की पालों में अवैध खनन करने वालों ने उसे खोखला कर दिया है, लेकिन प्रशासन ने इन्हें रोकने के लिए भी कोई कार्रवाई नहीं की।