--Advertisement--

यूरिया बैग 50 किलो की जगह 45 किलो का होगा

कृषि मंत्रालय ने उर्वरक की लागत को नियंत्रित करने के लिए यूरिया बैग का 5 किलो वजन कम किया गया है। इसके चलते खेती में...

Danik Bhaskar | Mar 05, 2018, 02:05 AM IST
कृषि मंत्रालय ने उर्वरक की लागत को नियंत्रित करने के लिए यूरिया बैग का 5 किलो वजन कम किया गया है। इसके चलते खेती में उपयोगी यूरिया के बैग 50 किलो की जगह जल्दी ही 45 किलो के हो जाएंगे।

5 किलो वजन कम किए जाने के पीछे उर्वरक की खपत को कम किया जाने को मुख्य वजह बताई जा रही है, लेकिन इसके पीछे लागत को नियंत्रित करना और डीलर का कमिशन बढ़ाना भी कारण बताया जा रहा है। बहरहाल केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने हाल ही वजन कम करने के लिए गजट प्रकाशन कर दिया है। भवानीमंडी क्षेत्र में खाद की सप्लाई में लगी कंपनियों के प्रतिनिधियों ने इसके बाद अपने विक्रेताओं के यहां एक अप्रैल से नई पैकिंग वजन का खाद आने के संकेत दे दिए हैं। गजट में 45 किलो के बैग की कीमत भी निर्धारित कर दी गई है। 45 किलो यूरिया की कीमत 242 रुपए तय की गई है। इसी तरह जिंक यूरिया बैग की कीमत 266 रुपए तय की है। इसमें केंद्रीय व स्थानीय कर अलग से है। इसकी नई खुदरा कीमतें क्या रहेगी यह नया माल आने के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा।

खेत में बैग के हिसाब से डाला जाता है यूरिया

अभी किसान अपने खेतों प्रति बैग के हिसाब से यूरिया आदि डालता है। यूरिया की अधिकता खेत के उपजाऊपन को नुकसान पहुंचाती है। कृषि मंत्रालय ने इसके उपयोग कम करने का यूरिया बैग का 5 किलो वजन कम करने के रूप में निकाला है।