भवानी मंडी

--Advertisement--

मुआवजा मांग रहे 35% किसानों ने नहीं दिए बैंक खाता नंबर

एक ओर किसान मौसम की मार से फसल खराब होने पर उसके मुआवजे की मांग करते रहते हैं। दूसरी ओर पचपहाड़ तहसील कार्यालय वर्ष...

Danik Bhaskar

Mar 07, 2018, 02:05 AM IST
एक ओर किसान मौसम की मार से फसल खराब होने पर उसके मुआवजे की मांग करते रहते हैं। दूसरी ओर पचपहाड़ तहसील कार्यालय वर्ष 2016 की इसी स्वीकृत मुआवजा (आदान अनुदान) राशि को भेजने के लिए किसानों से संबंधित बैंक खाता नंबर आदि मांग रहा है तो 35 प्रतिशत किसानों ने अभी तक इसे उपलब्घ ही नहीं कराया है।

तहसील कार्यालय को यह राशि 12 मार्च तक ही वितरण करने के निर्देश है, अगर तब तक भी किसानों ने बैंक खाता नंबर आदि उपलब्ध नहीं कराए और आगे तारीख नहीं बढ़ सकी तो उनकी मुआवजा राशि डूब भी सकती है।

तहसीलदार मनमोहन गुप्ता ने मंगलवार को बताया कि वर्ष 2016 की पहली फसल के मौसम की मार से खराब होने पर करीब 30 हजार किसानों का 15.35 करोड़ रुपए का मुआवजा आया था। यह राशि सीधे किसानों के बैंक खाते में भेजी जानी थी, इससे किसानों से उनके बैंक खाता नंबर, आईएफसी कोड, आधार पहचान पत्र आदि की फोटोकॉपी मांगी गई थी। लेकिन अभी तक करीब 65 प्रतिशत किसानों ने ही इसे उपलब्ध कराया। 60 प्रतिशत किसानों की राशि बैंक खातों में भेजना शुरू कर दी है। कई किसानों को यह मिल भी गई है, लेकिन बाकी किसानों ने बैंक खाता नंबर आदि अभी तक उपलब्ध नहीं कराए हैं, जिससे इनकी राशि अभी तक भी नहीं भेजी जा सकी है।


Click to listen..