Hindi News »Rajasthan »Bhawani Mandi» 17 साल बाद इस बार रविवार को आ रहा है मकर संक्रांति पर्व

17 साल बाद इस बार रविवार को आ रहा है मकर संक्रांति पर्व

ग्रहों के राजा सूर्यदेव के धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश का पर्व ‘मकर संक्रांति’ 17 साल बाद रविवार को मनाया जाएगा।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 14, 2018, 02:15 AM IST

ग्रहों के राजा सूर्यदेव के धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश का पर्व ‘मकर संक्रांति’ 17 साल बाद रविवार को मनाया जाएगा। दोपहर 1.47 बजे सूर्यदेव दक्षिणायन से उत्तरायण होंगे। पूरे दिन सर्वार्थसिद्धि योग प्रदोष तिथि का संयोग रहेगा। सूर्य के उत्तरायण होने के समय वृष लग्न व कुंभ नवांश रहेगा।

ये ज्योतिषीय योग दान-पुण्य आदि के लिए फलदायी रहते हैं। खास बात यह है कि वृष लग्न होने से इस साल मकर संक्रांति अत्यंत शुभ मंगलकारी रहेगी। शास्त्रों के अनुसार प्रदोष, सर्वार्थसिद्धि योग वृष लग्न में किए दान का फल 100 गुना मिलता है। हालांकि, दिनभर दान-पुण्य और स्नान आदि किए जा सकेंगे। फिर भी पुण्यकाल और महापुण्य काल का विशेष महत्व रहेगा। सर्वार्थसिद्धि योग दोपहर 1.14 बजे से शुरू होगा, जो दूसरे दिन सोमवार सुबह 7:20 बजे तक रहेगा। इससे पहले 2001 में रविवार को सूर्यदेव दक्षिणायान से उत्तरायण हुए थे।

इसलिए मनाया जाता संक्रांति पर्व

पंडित प्रदीप उपाध्याय के अनुसार मकर संक्रांति हिंदूओं के प्रमुख त्यौहारों में से एक है जब सूर्य मकर राशि पर आता है तब इसे संक्रांति कहा जाता है। इसी दिन आराध्य देवता धनु राशि काे छोड़कर मकर राशि में प्रवेश करते है। इसी दिन सूर्य की उतरायण गति आरंभ होती है। मकर संक्रांति को तमिलनाडु में पोंगल के रूप में मनाई जाती है। मकर संक्रांति को दान- पुण्य का पर्व भी कहा जाता है। इस दिन गाय को हरा चारा व तिल गुड का दान करे।

भवानीमंडी. मकर संक्रांति पर बाजार में बिकती पीएम मोदी और राहुल गांधी के फोटों वाली पतंगे।

खानपुर. बंगाली बाबा मेले में आए झूलंे चकरी।

बंगाली बाबा महोत्सव मकर संक्रांति संत समागम आज से

खानपुर. कस्बे में बंगाली बाबा ब्रह्माणी माता मंदिर पर मकर संक्रांति पर्व पर एक माह चलने वाले मेले का गणेश पूजन, जलयात्रा, विमान आगमन के साथ शुभारंभ हुअा। ट्रस्टी प्रदीप शर्मा ने बताया कि शुक्रवार को भगवान लक्ष्मीनाथ मंदिर बड़ा बाजार से विमान के साथ जलयात्रा निकाली गई। शनिवार को हाड़ौती अंचल से आई भजन मंडलियों के द्वारा कीर्तन प्रतियोगिता रात्रि 8 बजे से हुई। 14 जनवरी रविवार मकर संक्रांति पर्व पर गुरुदेव 1008 बंगाली बाबा की 48वीं पुण्यतिथि पर दोपहर 12 बजे 108 सनातन पुरी महाराज थेकड़ाधाम के सानिध्य में साधु संतों व भक्तों द्वारा बंगाली बाबा की समाधि पर विधि विधान के साथ चादर चढ़ाई जाएगी। दोपहर बाद बंगाली बाबा की चरण पादुकाओं पुष्प विमान में सजाकर शोभायात्रा नगर भ्रमण पर वीर तेजाजी समिति व खेड़ापति हनुमान मंदिर समिति की ओर से गुदरी के चौराहे पर प्रसाद का वितरण किया जाएगा। शोभायात्रा में एक दर्जन से अधिक भगवानों की सजीव झांकियां कीर्तन मंडलियां, गाजे बाजे क साथ चांदखेड़ी व खानपुर के व्यायामशालाओं के नवयुवकों द्वारा हेरत अंग्रेज प्रदर्शन किया जाएगा। ब्रह्माणी माता बंगाली बाबा आश्रम पर शोभायात्रा के समापन पर ट्रस्ट की ओर से आयोजित समारोह में कीर्तन प्रतियोगिता पुरस्कार देकर महाप्रसादी के साथ समापन होगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhawani Mandi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×