--Advertisement--

आरटीएम श्रमिक ने ब्लेड से गला काटा, नसें सुरक्षित-बच गई जान

भवानीमंडी| राजस्थान टेक्सटाइल मिल में कार्यरत एक श्रमिक ने शुक्रवार सुबह धागा काटने की ब्लेड से अपना गला काटकर...

Danik Bhaskar | Feb 17, 2018, 02:30 AM IST
भवानीमंडी| राजस्थान टेक्सटाइल मिल में कार्यरत एक श्रमिक ने शुक्रवार सुबह धागा काटने की ब्लेड से अपना गला काटकर आत्महत्या का प्रयास किया। ब्लेड से गले की ऊपर की चमड़ी ही कटने से वह बच गया। पुलिस ने बताया कि गांव कोटड़ा बुजुर्ग निवासी मुकेश (25) पुत्र भैरूलाल मेघवाल आरटीएम में रात की शिफ्ट में काम करता है। शुक्रवार सुबह 7 बजे ड्यूटी पूरी होने के बाद उसने ब्लेड से अपना गला काट लिया। उसे एक निजी अस्पताल में लाया गया। ब्लेड से गले की नसों को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। चमड़ी पर 6 टांके आए हैं। पुलिस ने श्रमिक के खिलाफ आत्महत्या के प्रयास की धारा में मामला दर्ज कर लिया। पुलिस ने बताया कि घायल श्रमिक घटना का कोई स्पष्ट कारण नहीं बता रहा है। वह बार-बार बयान को बदल रहा है। पहले उसने कहा कि वह गुरुवार को गांव से सवारी बस में आ रहा था। पास में दो लड़कियों से शौचालय बने होने के बारे में पूछते समय उसके पिता ने बात करते हुए देख लिया। इससे वह डरा हुआ था। पुलिस ने सच्चाई पता करना चाहा तो वह उन लड़कियों की पहचान नहीं बता सका। यह भी आशंका जताई गई कि वह पहले कालाव स्थान के पास किराए के मकान में रह रहा था। वहां दो-तीन दिन पहले किसी महिला से कहासुनी को लेकर डरा हुआ है।