--Advertisement--

भवानीमंडी से भोपाल की 20 किमी दूरी कम होगी

झालावाड़| सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो जल्द ही जिले को एक और स्टेट हाइवे मिलने वाला है। इसके लिए पीडब्ल्यूडी की ओर से...

Danik Bhaskar | Feb 19, 2018, 02:30 AM IST
झालावाड़| सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो जल्द ही जिले को एक और स्टेट हाइवे मिलने वाला है। इसके लिए पीडब्ल्यूडी की ओर से भवानीमंडी मध्यप्रदेश की सीमा से आसलपुर नेशनल हाइवे 52 तक 121 किमी की सड़क को स्टेट हाइवे बनाने का प्रस्ताव भेजा है। इस प्रस्ताव को हरी झंडी मिलते ही जिले से निकलने वाला यह 11 वां स्टेट हाइवे हो जाएगा। इसके बाद भवानीमंडी से भोपाल की दूरी करीब बीस किमी कम हो जाएगी। इसका सबसे अधिक फायदा नीचम से भोपाल जाने वालों को मिलेगा। नीचम से भोपाल तक के लिए लोगों को सीधा मार्ग मिल जाएगा। दरअसल, सीएम वसुंधरा राजे ने जिले में बड़ी संख्या में सड़कों की सौगातें दी हैं। यहां पर मंडावर बकानी मेगा हाईवे, अकलेरा से मनोहरथाना, सिटी फोरलेन सहित गौरव पथ और ग्रामीण क्षेत्रों को जोड़ने वाले महत्वपूर्ण मार्ग निर्माण हो चुके हैं। इन्हीं सब सड़कों के निर्माण के बाद भवानीमंडी क्षेत्र में मध्यप्रदेश की सीमा से लेकर गुराडियामाना, सिरपोई, रायपुर, देवनगर, करलगांव, रटलाई, भालता होते हुए आसलपुर के मार्ग से नेशनल हाईवे 52 तक के मार्ग को स्टेट हाइवे घोषित करवाने के प्रस्ताव भेजे गए हैं। ताकि स्टेट हाइवे बनते ही इस मार्ग से लोगों की राह तो आसान हो ही साथ ही मध्यप्रदेश तक पहुंचने की दूरी भी कम हो जाए। इस मार्ग को स्टेट हाईवे घोषित करने में सबसे बड़ा फायदा यह है कि इस मार्ग की अधिकतर सड़कें बनी हुई हैं। सड़कों के निर्माण के नाम पर यहां कोई बड़ा खर्च नहीं होगा।


झालावाड़. मामा भांजा से मूर्ति चौराहा की अोर जाने वाली सड़क से गुजरते वाहन।