• Home
  • Rajasthan News
  • Bhawani Mandi News
  • डॉक्टर के छुट्‌टी पर जाते ही बंद करना पड़ता है होम्योपैथी अस्पताल
--Advertisement--

डॉक्टर के छुट्‌टी पर जाते ही बंद करना पड़ता है होम्योपैथी अस्पताल

भवानीमंडी का मामला, कंपाउंडर लगाने की भेज रखी है मांग भवानीमंडी| कस्बे के होम्योपैथी अस्पताल में एकमात्र...

Danik Bhaskar | Jan 18, 2018, 02:35 AM IST
भवानीमंडी का मामला, कंपाउंडर लगाने की भेज रखी है मांग

भवानीमंडी| कस्बे के होम्योपैथी अस्पताल में एकमात्र महिला डॉक्टर होने से उनके अवकाश पर जाते ही लोगों को इलाज नहीं मिल पाता है। चर्मरोग में होम्योपैथी काफी प्रभावशाली रहती है। यहां डॉ. प्रियंका ओझा के अवकाश पर जाते ही अस्पताल पर ताला लगा देना पड़ता है। वे सोमवार, मंगलवार को अवकाश पर थी तो अस्पताल के ताला लगा देना पड़ा। बुधवार को अवकाश से लौटी तो बताया कि अस्पताल में कर्मचारी के नाम पर वे अकेली तैनात है। ऐसी स्थिति में जब कभी वे अवकाश पर होती है तो लोगों को इलाज नहीं मिल पाता है। इससे बाहर अवकाश की सूचना भी चस्पा कर देनी पड़ती है। वे बताती है कि इस समय 25 से 30 रोगी प्रतिदिन का आउटडोर बना हुआ है। यहां पर सभी काम उन्हें ही करना पड़ता है। निदेशालय से यहां पर कंपाउंडर लगाए जाने की मांग कर रखी है, लेकिन अभी तक नहीं लगाया है।