Hindi News »Rajasthan »Bhawani Mandi» आशाओं ने बताई पीड़ा, ऑपरेटर केस की एंट्री ऑनलाइन नहीं

आशाओं ने बताई पीड़ा, ऑपरेटर केस की एंट्री ऑनलाइन नहीं

कस्बे की पीएचसी में आशा सहयोगिनियों की मासिक बैठक चिकित्सा प्रभारी डॉ. राहुल आचोलिया के नेतृत्व में हुई। इसमें...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 26, 2018, 02:55 AM IST

कस्बे की पीएचसी में आशा सहयोगिनियों की मासिक बैठक चिकित्सा प्रभारी डॉ. राहुल आचोलिया के नेतृत्व में हुई। इसमें आशा सुपरवाइजर रामलाल वर्मा ने परिवार कल्याण, नसबंदी केस पर ज्यादा ध्यान देने, एएनसी, पीएनसी के बारे में अवगत कराया।

डॉ. रघुवीर शर्मा ने टीबी डॉट्स में हुए बदलाव के कारण नए डॉट्स को किस तरह मरीजों को देना है। इसके बारे में बताया। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस पर हाई रिक्स गर्भवतियों को आयरन व सुक्रोज लगाने के बारे में समझाया। आशाओं ने अधिकारियों को अपना पैसा नहीं मिलने की पीड़ा बताई। उन्होंने कहा कि जो डिलेवरी भवानीमंडी व डग के अस्पताल में होती है। उनके केस ऑपरेटरों द्वारा समय पर ऑनलाइन नहीं किए जाते हैं। इससे आशाओं को पैसा नहीं मिल पाता है। आशा द्वारा डिलेवरी वाली महिला व उसके बच्चे की 42 दिन में संस्थागत प्रसव पर 6 जांच की जाती है। समय पर ऑनलाइन केस नहीं चढ़ पाने से इनको पैसा नहीं मिल सकेगा। चिकित्सा प्रभारी डॉ. राहुल आचोलिया ने बताया कि यह डग-भवानीमंडी अस्पताल का मामला है। दोनों जगह के अधिकारियों को अवगत कराया जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhawani Mandi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×