• Hindi News
  • Rajasthan
  • Bhawani Mandi
  • ध्वनि विस्तारक पर रोक के आदेश की पहले दिन ही नहीं हुई पालना
--Advertisement--

ध्वनि विस्तारक पर रोक के आदेश की पहले दिन ही नहीं हुई पालना

वैसे तो रात को 10 बजे बाद तेज आवाज में बज रहे डीजे पर सुप्रीम कोर्ट से ही स्थाई रूप से रोक लगी हुई है। इस आदेश की तो...

Dainik Bhaskar

Feb 26, 2018, 02:55 AM IST
ध्वनि विस्तारक पर रोक के आदेश की पहले दिन ही नहीं हुई पालना
वैसे तो रात को 10 बजे बाद तेज आवाज में बज रहे डीजे पर सुप्रीम कोर्ट से ही स्थाई रूप से रोक लगी हुई है। इस आदेश की तो भवानीमंडी में धज्जियां उड़ ही रही थी, अब प्रशासन ने परीक्षा को देखते हुए नए आदेश जारी कर दिए हैं।

एसडीएम राकेश मीणा ने यूनिवर्सिटी और बोर्ड परीक्षा के मद्देनजर कह दिया है कि 23 फरवरी से आगामी आदेश तक रात को 10 से सुबह 6 बजे तक ध्वनि विस्तारकों ( डीजे ) पर पूरी तरह रोक रहेगी। इसी तरह सभी परीक्षा केंद्रों के आसपास पांच सौ मीटर के दायरे में दिन के समय सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक ध्वनि विस्तारकों का उपयोग पूरी तरह निषेध रहेगा। इस अवधि में कार्यालय की अनुमति के बिना इनका उपयोग दंडनीय अपराध की श्रेणी में आएगा। यह आदेश अगले आदेश तक लागू रहेगा। इस आदेश की शुक्रवार को पहले दिन से ही धज्जियां उड़ती दिखीं। रात 10 बजे बाद भी तेज आवाज में डीजे बजते दिखें। पुलिस का साफ कहना है कि कोई उन्हें देर रात डीजे बजने की शिकायत करेगा तो ही वे कार्रवाई करेंगे। नागरिकों के सामने सवाल यह कि शिकायत करने पर उसका नाम उजागर होने से उसे दुश्मनी मोल लेनी पड़ेगी। आदेश के बावजूद शुक्रवार रात यहां पर धड़ल्ले से डीजे बजते रहें।

यह है रास्ता

प्रशासन पहले ही डीजे, बैंड की वालों की बैठक बुलाकर कह दें कि रात 10 बजे बाद डीजे बजते दिखे तो उस दिन तो समारोह में कुछ नहीं किया जाएगा, लेकिन अगले दिन डीजे वाले के सारे सामान जब्त कर मामला दर्ज किया जाएगा। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ऐसा कोई फोन नंबर दे, जिसमें शिकायतकर्ता का नाम गुप्त रखा जाए।

X
ध्वनि विस्तारक पर रोक के आदेश की पहले दिन ही नहीं हुई पालना
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..