--Advertisement--

बाल विवाह रुकवाया, समय पर सूचना नहीं देने पर नोटिस

भवानीमंडी प्रशासन ने बुधवार रात उपखंड के गांव गुढ़ा में एक बाल विवाह रुकवा दिया। एसडीएम राकेश मीणा को इसकी सूचना...

Dainik Bhaskar

Apr 07, 2018, 02:45 AM IST
भवानीमंडी प्रशासन ने बुधवार रात उपखंड के गांव गुढ़ा में एक बाल विवाह रुकवा दिया। एसडीएम राकेश मीणा को इसकी सूचना मिली थी। इस बाल विवाह की गाज गांव में तैनात कर्मियों पर भी गिर गई है। बाल विवाह होने की तैयारी पहले से जारी थी।

गांव में तैनात कर्मचारियों से यह बाल विवाह कैसे छुपा रह गया। इसे आधार बनाते हुए एसडीएम ने संबंधित पटवारी बालमुकुंद मेघवाल, सचिव राहुल भटनागर, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हेमलता शर्मा, एएनएम राजकुमारी, प्रधानाचार्य प्रमोद बलसोरिया को बाल विवाह की समय पर सूचना नहीं देने पर अप्रत्यक्ष रूप से बाल विवाह में सहयोग करना मानते हुए नोटिस देकर सोमवार तक जवाब मांग लिया है। जवाब संतोषप्रद नहीं होने पर कार्रवाई की चेतावनी दी गई है। एसडीएम को बीती रात में गढ़ा में बाल विवाह होने की सूचना मिलने पर उन्होंने तहसीलदार मनमोहन गुप्ता को पुलिस के साथ मौके पर भेजा। तहसीलदार ने पहुंचकर देखा तो वहां पर कैलाशचंद पुत्र भैरुलाल बागरी अपनी नाबालिग लड़की का बाल विवाह करने की तैयारी में लगा था। तहसीलदार ने मौके पर पहुंचकर बाल विवाह रुकवा दिया। संबंधित पक्षों को बाल विवाह नहीं करने के लिए पाबंद भी करवा दिया।

भैरुपुरा में भी माता-पिता को किया पाबंद

खानपुर. भैरुपुरा में नाबालिग विवाह की सूचना पर पुलिस ने माता-पिता को पाबंद किया। एसडीएम डॉ. भास्कर विश्नोई को मिली सूचना पर कंवरपुरा पंचायत के भैरुपुरा में शुक्रवार को पुलिस को 15 वर्षीय नाबालिग पुत्री की 8 अप्रैल को शादी की सूचना मिली। इस पर पिता नंदलाल रैगर व प|ी सौरभ बाई को विवाह नहीं करने के लिए पाबंद किया।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..