--Advertisement--

बाल विवाह रोकने के लिए तीन महीने चलेगा अभियान

भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से जिले में बाल विवाह निषेध अभियान की शुरुआत...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 04:00 AM IST
भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा

राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से जिले में बाल विवाह निषेध अभियान की शुरुआत रविवार को नगर परिषद सभागार में हुई। अभियान 30 जून तक चलेगा।

प्राधिकरण के पूर्णकालिक सचिव डॉ. मोहित शर्मा ने बताया कि भीलवाड़ा जिला प्रदेश में बाल विवाह बाहुल्य क्षेत्र है। अक्षय तृतीया एवं पीपल पूर्णिमा पर यहां बड़ी संख्या में बाल विवाह होते हैं। इनकी रोकथाम पुलिस व प्रशासन के सहयोग से की जाएगी। मोबाइल वैन से न्यायिक अधिकारी, पैनल अधिवक्ता व पैरा लीगल वॉलियंटर गांव-गांव में शिविर लगाएंगे। बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष डॉ. सुमन त्रिवेदी ने बताया कि जिले में कहीं भी बाल विवाह हो तो सूचना चाइल्ड लाइन को भी दी जा सकती है। एडीएम सिटी राजेंद्रकुमार कविया एवं एडीएम प्रशासन लालाराम गुगरवाल ने प्रशासन के स्तर से होने वाली कार्रवाई के बारे में जानकारी दी। एसपी प्रदीपमोहन शर्मा ने पुलिस विभाग से की जाने वाली कार्रवाई से अवगत कराया। बार अध्यक्ष राजेंद्र कचौलिया ने भी वकीलों की ओर से अभियान में सहयोग का विश्वास दिलाया। जिला न्यायाधीश चंद्रकुमार सोनगरा ने बाल विवाह रोकथाम एक्ट की जानकारी दी। अतिथियों ने बाल विवाह रोकथाम संबंधी पोस्टर व पंपलेट का विमोचन भी किया। अंत में स्काउट गाइड व नर्सिंग के छात्रों के सहयोग से रैली निकाली गई। रैली शहर के विभिन्न क्षेत्रों में होते हुए नगर परिषद सभागार पहुंची। सीजेएम प्रशांत शर्मा ने आगंतुकों का धन्यवाद दिया।

समारोह में पैनल अधिवक्ता व विधि छात्र-छात्राओं ने भी बाल विवाह रोकथाम में सहयोग की अपील की। न्यायाधीश सचिन गुप्ता, अरुण जैन, सीपी सिंह, सोनाली प्रशांत शर्मा, ग्रीष्मा शर्मा, श्वेता दाधीच, देवांग्नि औदिच्य, स्वाति राव, सुमन गठाला, रिटेनिंग अधिवक्ता मोहम्मद अली, समाजसेवी मंजू पोखरना, आंगनबाड़ी सुपर वाइजर यास्मिन, स्काउट गाइड सीओ नरेंद्र कुमार, बार कार्यकारिणी के सदस्य, पैनल अधिवक्ता आदि उपस्थित थे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..