Hindi News »Rajasthan »Bhilwara» वरिष्ठों ने प्रदर्शनों में हिंसा व जान-माल की क्षति सहित घोटालों पर चिंता जताई

वरिष्ठों ने प्रदर्शनों में हिंसा व जान-माल की क्षति सहित घोटालों पर चिंता जताई

भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़ वरिष्ठ नागरिक मंच की संगोष्ठी रविवार को शास्त्रीनगर स्थित सामुदायिक भवन में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 06:35 AM IST

वरिष्ठों ने प्रदर्शनों में हिंसा व जान-माल की क्षति सहित घोटालों पर चिंता जताई
भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़

वरिष्ठ नागरिक मंच की संगोष्ठी रविवार को शास्त्रीनगर स्थित सामुदायिक भवन में हुई। इसमें वरिष्ठों ने देश में आन्दोलनों-हड़तालों, बंद प्रदर्शनों के दौरान होने वाली हिंसा व जान-माल की क्षति तथा बैंक घोटालों पर चिंता जताई।

संगोष्ठी के मुख्य अतिथि राजस्थान उच्च न्यायालय के सेवानिवृत न्यायाधीश जस्टिस सीएम तोतला थे। सेवानिवृत बैंक एजीएम केसरीमल भड़कतिया, भगवतीलाल काबरा के विशिष्ट थे। अध्यक्षता जैन समाज के राष्ट्रीय प्रभावक बसंतीलाल जैन ने की। मंच के वरिष्ठ प्रवक्ता देवेन्द्र शर्मा ने बताया कि संगोष्ठी में एडवोकेट केएल पोखरना के प्रस्ताव पर सभी वरिष्ठों ने एक स्वर से चिंता जताई कि हमारा देश कब तक आंदोलनों-हड़तालों, बंद प्रदर्शनों के दौरान होने वाली हिंसा व माल जान की क्षति को बर्दाश्त करता रहेगा। वरिष्ठों ने कहा कि विरोध प्रदर्शन के अधिकार के उपयोग के दौरान हिंसा व जानमाल की क्षति की इजाजत नहीं दी जा सकती है। महासचिव आरसी डाड ने हाल ही में एक बैंक के पूर्व सीएमडी पर 621 करोड़ के धोखाधड़ी के मामले में दर्ज कराई गई एफआईआर के मध्य नजर चिंता जताई कि बैंकों के घोटालों की दिन प्रतिदिन परते खुलती जा रही है आखिर कब इसका अंत आएगा। अभी तक समस्त घोटाले को पर्दाफाश करने की भी मांग उठाई गई तथा बैंक लोन बेड डेब्ट्स खातेदार के नाम व पते बैंक वाइज व जिले वाइज सार्वजनिक करने की मांग दोहराई है।

अमरकंठ उपाध्याय,— डीएस जोशी,— दिनेश कुमार खत्री, रामप्रसाद मालू, रामेश्वर पांड्या,— कमलाशंकर मौड़, गणेशलाल लक्षकार ने विचार व्यक्त किए। अध्यक्षता बसंतीलाल जैन ने की।— रेखा खत्री व दिनेश खत्री को दूरदर्शिता सम्मान से नवाजा। स्व शिक्षा पर भंवरलाल कोगटा, स्व सुरक्षा पर अंजना जैन तथा समय बद्धता पुरू से मीरा प|ी बद्रीलाल स्वर्णकार तथा अनुशासन बद्धता पर गणेशलाल लक्षकार को सम्मानित किया। संचालन डीएस जोशी एवं धन्यवाद डा. भगवतसिंह तंवर ने ज्ञापित किया।

शहर के शास्त्रीनगर स्थित सामुदायिक भवन में हुई वरिष्ठ नागरिक मंच की संगोष्ठी में वरिष्ठजनों का सम्मान भी किया

भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़

वरिष्ठ नागरिक मंच की संगोष्ठी रविवार को शास्त्रीनगर स्थित सामुदायिक भवन में हुई। इसमें वरिष्ठों ने देश में आन्दोलनों-हड़तालों, बंद प्रदर्शनों के दौरान होने वाली हिंसा व जान-माल की क्षति तथा बैंक घोटालों पर चिंता जताई।

संगोष्ठी के मुख्य अतिथि राजस्थान उच्च न्यायालय के सेवानिवृत न्यायाधीश जस्टिस सीएम तोतला थे। सेवानिवृत बैंक एजीएम केसरीमल भड़कतिया, भगवतीलाल काबरा के विशिष्ट थे। अध्यक्षता जैन समाज के राष्ट्रीय प्रभावक बसंतीलाल जैन ने की। मंच के वरिष्ठ प्रवक्ता देवेन्द्र शर्मा ने बताया कि संगोष्ठी में एडवोकेट केएल पोखरना के प्रस्ताव पर सभी वरिष्ठों ने एक स्वर से चिंता जताई कि हमारा देश कब तक आंदोलनों-हड़तालों, बंद प्रदर्शनों के दौरान होने वाली हिंसा व माल जान की क्षति को बर्दाश्त करता रहेगा। वरिष्ठों ने कहा कि विरोध प्रदर्शन के अधिकार के उपयोग के दौरान हिंसा व जानमाल की क्षति की इजाजत नहीं दी जा सकती है। महासचिव आरसी डाड ने हाल ही में एक बैंक के पूर्व सीएमडी पर 621 करोड़ के धोखाधड़ी के मामले में दर्ज कराई गई एफआईआर के मध्य नजर चिंता जताई कि बैंकों के घोटालों की दिन प्रतिदिन परते खुलती जा रही है आखिर कब इसका अंत आएगा। अभी तक समस्त घोटाले को पर्दाफाश करने की भी मांग उठाई गई तथा बैंक लोन बेड डेब्ट्स खातेदार के नाम व पते बैंक वाइज व जिले वाइज सार्वजनिक करने की मांग दोहराई है।

अमरकंठ उपाध्याय,— डीएस जोशी,— दिनेश कुमार खत्री, रामप्रसाद मालू, रामेश्वर पांड्या,— कमलाशंकर मौड़, गणेशलाल लक्षकार ने विचार व्यक्त किए। अध्यक्षता बसंतीलाल जैन ने की।— रेखा खत्री व दिनेश खत्री को दूरदर्शिता सम्मान से नवाजा। स्व शिक्षा पर भंवरलाल कोगटा, स्व सुरक्षा पर अंजना जैन तथा समय बद्धता पुरू से मीरा प|ी बद्रीलाल स्वर्णकार तथा अनुशासन बद्धता पर गणेशलाल लक्षकार को सम्मानित किया। संचालन डीएस जोशी एवं धन्यवाद डा. भगवतसिंह तंवर ने ज्ञापित किया।

भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़

वरिष्ठ नागरिक मंच की संगोष्ठी रविवार को शास्त्रीनगर स्थित सामुदायिक भवन में हुई। इसमें वरिष्ठों ने देश में आन्दोलनों-हड़तालों, बंद प्रदर्शनों के दौरान होने वाली हिंसा व जान-माल की क्षति तथा बैंक घोटालों पर चिंता जताई।

संगोष्ठी के मुख्य अतिथि राजस्थान उच्च न्यायालय के सेवानिवृत न्यायाधीश जस्टिस सीएम तोतला थे। सेवानिवृत बैंक एजीएम केसरीमल भड़कतिया, भगवतीलाल काबरा के विशिष्ट थे। अध्यक्षता जैन समाज के राष्ट्रीय प्रभावक बसंतीलाल जैन ने की। मंच के वरिष्ठ प्रवक्ता देवेन्द्र शर्मा ने बताया कि संगोष्ठी में एडवोकेट केएल पोखरना के प्रस्ताव पर सभी वरिष्ठों ने एक स्वर से चिंता जताई कि हमारा देश कब तक आंदोलनों-हड़तालों, बंद प्रदर्शनों के दौरान होने वाली हिंसा व माल जान की क्षति को बर्दाश्त करता रहेगा। वरिष्ठों ने कहा कि विरोध प्रदर्शन के अधिकार के उपयोग के दौरान हिंसा व जानमाल की क्षति की इजाजत नहीं दी जा सकती है। महासचिव आरसी डाड ने हाल ही में एक बैंक के पूर्व सीएमडी पर 621 करोड़ के धोखाधड़ी के मामले में दर्ज कराई गई एफआईआर के मध्य नजर चिंता जताई कि बैंकों के घोटालों की दिन प्रतिदिन परते खुलती जा रही है आखिर कब इसका अंत आएगा। अभी तक समस्त घोटाले को पर्दाफाश करने की भी मांग उठाई गई तथा बैंक लोन बेड डेब्ट्स खातेदार के नाम व पते बैंक वाइज व जिले वाइज सार्वजनिक करने की मांग दोहराई है।

अमरकंठ उपाध्याय,— डीएस जोशी,— दिनेश कुमार खत्री, रामप्रसाद मालू, रामेश्वर पांड्या,— कमलाशंकर मौड़, गणेशलाल लक्षकार ने विचार व्यक्त किए। अध्यक्षता बसंतीलाल जैन ने की।— रेखा खत्री व दिनेश खत्री को दूरदर्शिता सम्मान से नवाजा। स्व शिक्षा पर भंवरलाल कोगटा, स्व सुरक्षा पर अंजना जैन तथा समय बद्धता पुरू से मीरा प|ी बद्रीलाल स्वर्णकार तथा अनुशासन बद्धता पर गणेशलाल लक्षकार को सम्मानित किया। संचालन डीएस जोशी एवं धन्यवाद डा. भगवतसिंह तंवर ने ज्ञापित किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhilwara

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×