शिवालयों में रात के चारों प्रहर पूजे गए भाेलेनाथ

Bhilwara News - हरणी महादेव धर्म कर्म महाशिवरात्रि पर्व शुक्रवार काे श्रद्धा, भक्ति एवं धार्मिक परंपरा के अनुसार मनाया...

Feb 22, 2020, 07:30 AM IST
Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night
हरणी महादेव

धर्म कर्म

महाशिवरात्रि पर्व शुक्रवार काे श्रद्धा, भक्ति एवं धार्मिक परंपरा के अनुसार मनाया गया। शहर में शाेभायात्रा व रैली निकाली गई। शिवालयाें में दुग्धाभिषेक व अनुष्ठान हुए। भक्त भाेले का व्रत-उपवास रखकर अाक-धतूरा व बिल्वपत्र चढ़ाकर अाराधना करते रहे। कई जगह भजन संध्या हुई ताे कई जगह रुद्राभिषेक व जलाभिषेक हुए। दर्शन के लिए दिनभर भाेले के भक्ताें की कतार लगी रही। हरणी महादेव स्थल पर इस बार श्रद्धालुअाें के लिए विशेष व्यवस्था की गई।

मेले की पहली शाम भजन संध्या की रसधारा के संग...मेरा भोला है भंडारी करे नंदी की सवारी

भीलवाड़ा | महाशिवरात्रि के उपलक्ष्य में तीन दिवसीय हरणी मेले की शुरुआत शुक्रवार सुबह से हुई। मेले का उद्घाटन सांसद सुभाषचंद्र बहेड़िया, विधायक विट्ठल शंकर अवस्थी, सभापति मंजू चेचाणी, उपसभापति मुकेश शर्मा ने किया। मेले की पहली शाम भजन संध्या का रंगारंग आयोजन हुआ। भोले के भजनों, भक्ति की रसधारा के अद्भुत संगम के बीच श्रोता ने जमकर लुत्फ उठाया। कामिनी ठाकुर का मेरा भोला है भंडारी हो या रतन राव का भोला अमली जी मार भजन का जबरदस्त क्रेज देखने को मिला। देररात तक चली भजन संध्या में शहरवासियों का जबरदस्त उत्साह देखने को मिला। नाटिका के माध्यम से काली के अवतार की प्रस्तुति भी दी।


आज यहां होगा कवि सम्मेलन...मेले की दूसरी शाम कवि सम्मेलन का आयोजन होगा। सूत्रधार योगेंद्र शर्मा, दिल्ली के डॉ. सुनील जोशी व प्रताप फाैजदार, कोटा से जगदीश सोलंकी, देवास से शशिकांत यादव, सवाई माधोपुर से ताऊ शेखावटी, भीलवाड़ा से नरेंद्र दाधीच, उज्जैन से राहुल शर्मा, चेचट से अर्जुन अल्हड़, रतलाम से सुमित्रा सरल अपनी प्रस्तुति देंगे।

भजनों के माध्यम से बही भक्ति की रसधारा... भजन संध्या की शुरुआत रतन राव ने गणेश वंदना के साथ की। इसके बाद भोला अमली जी मार शंकर अमली प्रस्तुति माहौल की रंगीन शुरुआत कर दी। इसके बाद मास्टर समीर ने भोले भांग तिहारी में गोटत गोटत हारी ने समां बांधना शुरू किया। रजनी शर्मा के दमादम मस्त कलंदर, मेरा भोला है भंडारी करें नंदी की सवारी और अमलिडो अमलिडो ने तो माहौल को भक्तिधारा के मझधार में लाकर रख दिया। कार्यक्रम का संचालन करने वाले जी म्यूजिकल ग्रुप के राजेंद्र शर्मा ने श्रोताओं को बांधे रखा। फिर कामिनी ठाकुर के मेरा भोला है भंडारी, सत्यम शिवम सुंदरम, बम बम बम लहरी, भोला नहीं माने रे, ‘भोले हो गए टनाटन भंग में मैं कहां करूं’ ने तो भजनों की कड़ी को अगले पड़ाव पर पहुंचा दिया। इस बीच काली आदित्य नाटिका के माध्यम से कलाकारों ने काली का अवतार की शानदार प्रस्तुति दी।

प्रजापति ब्रह्माकुमारी ने निकाली रैली

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी विश्वविद्यालय बापूनगर सेवा केंद्र की संचालिका नीतू बहन ने बताया कि बापूनगर के मुख्य मार्गों से रैली निकाली गई। रैली में बापूनगर, पटेलनगर व आस-पास के ब्रह्माकुमार-कुमारिया अपने हाथों में भगवान का त्रिमूर्ति झंडा लहराते गाजे-बाजे के साथ धवल वस्त्राें चल रहे थे। रैली यह संदेश दे रही थी कि अगर जीवन में सच्चा सुख व शांति चाहते हो तो शिव परमात्मा से अपना कनेक्शन जोड़कर अपने मन व बुद्धि को चार्ज करते रहो। अज्ञान व नींद से जागो, क्योंकि यही समय है स्वयं को पहचान कर परमपिता से मिलने का ताकि उद्दार हाे सके ।

बाबाधाम में महादेव का किया दुग्धाभिषेक

बाबाधाम मंदिर पर ऋण मुक्तेश्वर गौरीशंकर महादेव का विशेष श्रृंगार किया गया। यहां हर गुरूवार को भक्तांे द्वारा चने की दाल चढ़ाई जाती है ताकि पितृ ऋण, मातृ ऋण, सखा ऋण, नकद ऋण से मुक्ति मिल सके। चने की दाल मंदिर की तरफ से निःशुल्क उपलब्ध रहती है। जल, दूध, गन्ने व फलों के रस से भाेलेनाथ का अभिषेक किया गया। पंडित योगेन्द्र व प्रितम शर्मा के मंत्राेच्चारण के बीच अभिषेक व हवन पूजन किया गया। शाम 4.15 बजे 1008 किलो. दूध से सहस्त्रधारा, रूद्राभिषेक शुरू हुअा जाे शाम 7 बजे तक चला। आरती के बाद भक्तांे को ठंडाई प्रसाद बांटा गया।

महाशिवरात्रि पर किया पौधरोपण

सर्व रावणा राजपूत सेवा संस्थान द्वारा महाशिवरात्रि पर जिलाध्यक्ष भंवरसिंह भाटी व वरिष्ठ समाजसेवी भैरूसिंह भाटी के नेतृत्व में समाज के निर्माणाधीन हाइफा हीरो भवन एवं छात्रावास पर पौधरोपण किया गया। संस्थापक अध्यक्ष रतनसिंह राणावत ने बताया कि यहां करीब 25 पौधे राेपकर उनके पेड़ बनने तक सुरक्षा करने का संकल्प लिया। पौधरोपण करने वालाें में कोषाध्यक्ष बाबूसिंह राणावत, संगठन मंत्री प्रकाशसिंह, संरक्षक सोहन सिंह सोलंकी, पीरू सिंह गौड़, सम्पत सिंह राठौड़, मांगीलाल पालीवाल, डोली सिंह, गोरधन लाल सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे।

बैकुंठधाम में हुए अखंड रामायण पाठ

बैकुंठधाम अाश्रम मेवाड़ मिल के सामने खड़ेश्वरी महाराज के सानिध्य में अखंड रामायण पाठ शुरू हुए। {आत्माराम मुक्ति स्थल पर महाशिवरात्रि पर्व मनाया। मुखर्जी उद्यान से शोभायात्रा निकाली। पूर्व आरएएस अधिकारी नूर मोहम्मद अंसारी ने आत्माराम महाराज के जीवन पर प्रकाश डाला। नगर परिषद की पूर्व चेयरमैन मंजू पोखरना मुख्य अतिथि थी। {कोली समाज के महाकाल युवा संगठन द्वारा दादाबाड़ी कोली मोहल्ला से महाकाल ध्वज यात्रा बनिकाली गई।

Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night
Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night
Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night
Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night
Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night
Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night
X
Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night
Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night
Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night
Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night
Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night
Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night
Bhilwara News - rajasthan news bhalenath was worshiped in the pagoda at night

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना