भीलवाड़ा फिर चैंपियन, 9वीं बार अादित्य के सिर ताज

Bhilwara News - भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा लेबर काॅलाेनी स्थित श्रम कल्याण केंद्र परिसर में जिला कुश्ती संघ अाैर लवकुश...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 07:20 AM IST
Bhilwara News - rajasthan news bhilwara again champion crowned aditya for 9th time
भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा

लेबर काॅलाेनी स्थित श्रम कल्याण केंद्र परिसर में जिला कुश्ती संघ अाैर लवकुश व्यायामशाला के तत्वावधान में अायाेजित हाे रही राज्यस्तरीय कुश्ती प्रतियाेगिता में रविवार काे फ्रि स्टाइल के पुरुष वर्ग में मुकाबले हुए। लगातार तीसरी बार भीलवाड़ा के पहलवानाें ने चैंपियनशिप पर कब्जा जमाया। 2018 में भरतपुर अाैर 2017 में पुर में हुई राज्य स्तरीय प्रतियाेगिता में भी भीलवाड़ा के पहलवान चैंपियनशिप अपने नाम कर चुके हैं। इससे पहले 2010 के बाद केवल 2016 में ही भीलवाड़ा काे चैंपियनशिप नहीं मिली थी।

प्रतियाेगिता के 97 किलाे भार वर्ग के फाइनल में भीलवाड़ा के अादित्य ने श्रीगंगानगर के मंजीत सिंह काे हराया। राजस्थान केसरी का भी िखताब जीत चुके अादित्य अब तक 9 बार 2007, 2008, 2009, 2009 (मिट्टी की कुश्ती में), 2010, 2013, 2014, 2017, 2019 में सीनियर कुश्ती में विजेता रहे। ग्रीकाे राेमन में भीलवाड़ा चैंपियन अाैर द्वितीय स्थान पर झुंझुंनू, फ्री स्टाइल में भीलवाड़ा चैंपियन अाैर द्वितीय भरतपुर रही। महिला में प्रथम चित्ताैड़गढ़ अाैर द्वितीय धाैलपुर की टीम रही। समापन समाराेह में मुख्य अतिथि सांसद सुभाष बहेड़िया, विशिष्ट अतिथि विधायक विट्ठलशंकर अवस्थी, नगर परिषद के उपसभापति मुकेश शर्मा, राजस्थान स्पाेर्ट्स यूनिवर्सिटी के पूर्व वाइस चांसलर लक्ष्मणसिंह राणावत, एमजी अस्पताल के डाॅ. नवीन भडाणा थे। कुश्ती काेच रामनिवास गुर्जर, अाेमप्रकाश गुर्जर, कुश्ती संघ के जिलाध्यक्ष शिवनारायण हेड़ा, सचिव करण गुर्जर, हेमेंद्र सिंह, केसर िसंह का सहयाेग रहा। समापन समाराेह का संचालन मुरली शर्मा ने किया।

राज्यस्तरीय सीनियर कुश्ती प्रतियाेगिता का समापन, महिला वर्ग में चित्ताैड़ के नाम रही चैंपियनशिप

भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा

लेबर काॅलाेनी स्थित श्रम कल्याण केंद्र परिसर में जिला कुश्ती संघ अाैर लवकुश व्यायामशाला के तत्वावधान में अायाेजित हाे रही राज्यस्तरीय कुश्ती प्रतियाेगिता में रविवार काे फ्रि स्टाइल के पुरुष वर्ग में मुकाबले हुए। लगातार तीसरी बार भीलवाड़ा के पहलवानाें ने चैंपियनशिप पर कब्जा जमाया। 2018 में भरतपुर अाैर 2017 में पुर में हुई राज्य स्तरीय प्रतियाेगिता में भी भीलवाड़ा के पहलवान चैंपियनशिप अपने नाम कर चुके हैं। इससे पहले 2010 के बाद केवल 2016 में ही भीलवाड़ा काे चैंपियनशिप नहीं मिली थी।

प्रतियाेगिता के 97 किलाे भार वर्ग के फाइनल में भीलवाड़ा के अादित्य ने श्रीगंगानगर के मंजीत सिंह काे हराया। राजस्थान केसरी का भी िखताब जीत चुके अादित्य अब तक 9 बार 2007, 2008, 2009, 2009 (मिट्टी की कुश्ती में), 2010, 2013, 2014, 2017, 2019 में सीनियर कुश्ती में विजेता रहे। ग्रीकाे राेमन में भीलवाड़ा चैंपियन अाैर द्वितीय स्थान पर झुंझुंनू, फ्री स्टाइल में भीलवाड़ा चैंपियन अाैर द्वितीय भरतपुर रही। महिला में प्रथम चित्ताैड़गढ़ अाैर द्वितीय धाैलपुर की टीम रही। समापन समाराेह में मुख्य अतिथि सांसद सुभाष बहेड़िया, विशिष्ट अतिथि विधायक विट्ठलशंकर अवस्थी, नगर परिषद के उपसभापति मुकेश शर्मा, राजस्थान स्पाेर्ट्स यूनिवर्सिटी के पूर्व वाइस चांसलर लक्ष्मणसिंह राणावत, एमजी अस्पताल के डाॅ. नवीन भडाणा थे। कुश्ती काेच रामनिवास गुर्जर, अाेमप्रकाश गुर्जर, कुश्ती संघ के जिलाध्यक्ष शिवनारायण हेड़ा, सचिव करण गुर्जर, हेमेंद्र सिंह, केसर िसंह का सहयाेग रहा। समापन समाराेह का संचालन मुरली शर्मा ने किया।

अखाड़े में जाने के छह माह बाद पिता का निधन, ताे भी नहीं छाेड़ी कुश्ती...अंतरराष्ट्रीय स्तर तक पहुंची शीतल

महिला वर्ग के फ्री स्टाइल के 50 किलाे भार वर्ग में विजेता अंतरराष्ट्रीय पहलवान शीतल ताैमर की कहानी प्रेरणा देने वाली है। शीतल ने बताया कि 2012 में पिता पहली बार अखाड़े में ले गए। वे भी पहलवान थे। करीब छह माह में कई दांव-पेंच सीखी। इसी दाैरान पिता का निधन हाे गया ताे कुश्ती छूट गई। मुझे लगा कि पिता के साथ मेरी कुश्ती भी खत्म हाे गई। पर परिवार ने फिर से मुझे अखाड़े में भेजा। भाइयाें ने हाैंसला बढ़ाते हुए कहा कि पिता का सपना तुझे पूरा करना है। अब जब भी प्रतियाेगिता में खेलती हूं ताे पहले पिता काे याद करती हूं। अाज जाे भी हूं पिता की वजह से हूं। शीतल मूलत: यूपी की रहने वाली हैं अाैर राजस्थान पुलिस में एसअाई हैं। शीतल ने जूनियर एशियन चैपियनशिप में ब्रांज, इंडाेर गेम्स 2017 में ब्रांज मेडल जीता था। शीतल ने बताया कि राजस्थान की बेटियां कुश्ती बहुत ही जल्दी सीख जाती हैं। इन्हें अागे लाने की जरुरत है। स्कूली स्तर पर कुश्ती शुरू हाे ताे प्रतियाेगिताअाें में महिला पहलवानाें की संख्या बढ़ेगी।।

फ्री स्टाइल प्रतियोगिता में ये रहे विजेता

पुरुष वर्ग के फ्री स्टाइल के 57 किलाे में प्रथम भीलवाड़ा के दीपक सैनी, द्वितीय प्रतापगढ़ के लाेकपाल, तृतीय बांसवाड़ा के रफीक खां, 61 किलाे में भीलवाड़ा के निर्मल विश्नाेई, द्वितीय जयपुर के बालमुकुंद शर्मा, तृतीय डूंगरपुर के बलवंत विश्नाेई, 65 किलाे में प्रथम भरतपुर के विष्णु चाहर, द्वितीय टाेंक के अदनान, तृतीय अजमेर के राेहित देशवाल, 70 किलाे में प्रथम भीलवाड़ा के मुकेश तेली, द्वितीय उदयपुर करण खाेखावत, 74 किलाे में प्रथम भीलवाड़ा के लादू जाट, द्वितीय झुंझुनूं के जगमाल सिंह, 79 किलाे में प्रथम भीलवाड़ा के बबलू गुर्जर, द्वितीय अलवर के महबूब, 92 किलाे में प्रथम राजसमंद के अजरुद्दीन, द्वितीय हनुमानगढ़ के विजयपाल शर्मा, तृतीय सीकर के सुरेश कुमार, 97 किलाे में भीलवाड़ा के अादित्य गुर्जर, द्वितीय श्रीगंगानगर के मंजीत सिंह, तृतीय काेटा के विजय भूमालिया, 125 किलाे में प्रथम भरतपुर के दलवीर सिंह, द्वितीय भीलवाड़ा के धीरज चाैधरी, तृतीय जाेधपुर के राेहित प्रजापत, 85 किलाे में प्रथम भीलवाड़ा शंकर चाैधरी, द्वितीय झुंझुनूं के माेनू, तृतीय प्रतापगढ़ के अमन शेख रहे।

Bhilwara News - rajasthan news bhilwara again champion crowned aditya for 9th time
Bhilwara News - rajasthan news bhilwara again champion crowned aditya for 9th time
X
Bhilwara News - rajasthan news bhilwara again champion crowned aditya for 9th time
Bhilwara News - rajasthan news bhilwara again champion crowned aditya for 9th time
Bhilwara News - rajasthan news bhilwara again champion crowned aditya for 9th time
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना