पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Shahpura News Rajasthan News Govta Chhalka Eat 6 Gates Of Jetpura Dam For Two Hours

गोवटा छलका, जेतपुरा बांध के 6 गेट दो घंटे तक खाेले

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
काछोला 5.2

कोटड़ी 5

मांडलगढ़ 4.48

सरेरी बांध 4.6

जिलेभर में अधिक बारिश की वजह से 11 बांध छलके

17 घंटों में मानसून की 7.67 प्रतिशत बारिश, अब तक सामान्य से 22.58 प्रतिशत अधिक

भीलवाड़ा | सावन में दूसरी बार शहर समेत पूरे जिले में जमकर बारिश हुई है। अच्छी बारिश का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 17 घंटों में ही मानसून की कुल बारिश की 7.67 प्रतिशत बारिश हो गई। इसका प्रभाव है कि दस छोटे-बड़े बांध ओवरफ्लो हो गए। कुछ पर तो डेढ़ से दो फीट की चादर चलने लगी। बारिश का दौर गुरुवार रात दस बजे शुरू होकर गुरुवार शाम चार बजे तक जारी रहा। इसके बाद फिर बारिश रुक रुककर आती रही। कुल 17 घंटों में सबसे अधिक काछोला में 5.2 बारिश हुई है। कोटड़ी में 5 इंच, मांडलगढ़ में 4.48, सरेरी डेम पर 4.6, शक्करगढ़ में 3.8, जहाजपुर में 3.56, हमीरगढ़ में 3.2, मांडल में 3 इंच बारिश हुई है। इसके अलावा डेढ़ से दो इंच बारिश जिले के अधिकांश स्थानों पर हुई है।

मानसून की 68.63 प्रतिशत बारिश लेकिन मेजा बांध का नहीं चढ़ा ग्राफ

पिछले साल से 17.33 प्रतिशत अधिक बारिश इस साल हो चुकी है। वैसे भी मानसून की कुल बारिश का 68.63 प्रतिशत बारिश हो चुकी है इसके बावजूद मेजा का गेज नहीं चढ़ा है।

सामान्य से 22.58 प्रतिशत अधिक बारिश... जिले के मौसम रिकॉर्ड के अनुसार 7 अगस्त तक 51.3 फीसदी बारिश होनी थी। लेकिन अच्छे मानसून की बदौलत इस बार 73.88 फीसदी बारिश हो गई। यानि सामान्य से 22.58 फीसदी अधिक बारिश।

भारी बारिश की चेतावनी

मौसम विभाग जयपुर की ओर से भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। इसके अनुसार भीलवाड़ा समेत पड़ोसी जिलों में 9 अगस्त तक भारी बारिश की आशंका जताई गई है।

11 छोटे व मध्यम बांध भरकर छलके

मानसून की एक दो अच्छी बारिश में भरने वाले गोवटा बांध ने इस बार काफी इंतजार कराया। 4 जुलाई को शुरू हुए मानसून के बाद 34वें दिन जाकर भरा। बुधवार को ही दो फीट की चादर चल गई। इसके अलावा अन्य बांध भी छलक गए। बनेड़ा तहसील के जालियां डेम, कोटड़ी के शिवसागर पारोली और सकारा उंडी, शाहपुरा के भीमसागर ढिकोला, मांडलगढ़ का देवरी नाला, अनवासा, कुंडिया खाल और जेतपुरा, बिजौलियां का जूड का नाका, जहाजपुर शक्करगढ़ छलक चुके है।

रोडवेज की दो बसों का रूट बदलना पड़ा

बरसात से पारोली के पास पुलिया टूट गई। इस वजह से कोटड़ी होकर भीलवाड़ा आने वाली रोडवेज निगम की दो बसों के रूट बदले गए। इन्हें त्रिवेणी होकर चलाना पड़ा।

(पेज 14 भी देखें)

जिले में बारिश का असर

कोटड़ी. चारभुजा सरोवर छलका। इस पर डेढ़ फीट चादर चली। पाल में गल्ला लगा। फतहसागर में भी पानी की अच्छी आवक।

बनेड़ा. बरण पंचायत के नया रायसिंहपुरा के राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल में पानी भरा।

खजूरी. भीमपुरा बांध पर एक फीट की चादर चली। आठ साल बाद यह बांध ओवरफ्लो।

गाेवटा बांध

खबरें और भी हैं...