• Hindi News
  • National
  • Mandal News Rajasthan News Hymns Presented By Mandalians On Baba Hariram39s Versi

बाबा हरिराम की वर्सी पर मंडलियाें ने पेश किए भजन

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा

हरिशेवा अाश्रम में गुरुअाें का चार दिवसीय वर्सी उत्सव बुधवार काे शुरू हुअा। पहले दिन बाबा हरिराम की 72वीं वर्सी मनाई। रामायण का अखंड पाठ शुरू हुअा। सत्संग में भगत मंडलियाें ने भजन प्रस्तुत किए।

भानपुरा पीठ के शंकराचार्य के साथ ही विभिन्न जगह से अाए संत-महात्माअाें ने प्रवचन में गुरुअाें की महिमा बताई। गुरुवार से श्रीचन्द्र सिद्धांत सागर का अखंड पाठ शुरू हाेगा। शाम काे भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा का स्वागत किया जाएगा। हरीशेवा उदासीन आश्रम सनातन मंदिर में सुबह वैदिक मंत्रोच्चार के साथ हवन हुआ। मां अन्नपूर्णा की पूजा-अर्चना कर भण्डारा स्थल पर अग्नि प्रज्ज्वलित की गई। उसके बाद श्रद्धालुअाें ने गुरुअाें की समाधियों पर शीश नवाया। नितनेम के बाद रामायण का अखण्ड पाठ शुरू हुअा। दाेपहर में अजमेर के महंत स्वरूपदास, पुष्कर के महंत हनुमानराम, अजमेर के विश्वंभर देव, सांई अर्जुनदास, भोपाल के स्वामी मोहनदास, भीलवाड़ा के महंत गणेशदास सहित अन्य संत-महात्माअाें ने भजन प्रस्तुत किए। अायाेजन में शामिल हाेने के लिए संत-महात्माओं के साथ ही श्रद्धालुअाें का अाना जारी है। ज्योतिर्मठ अवान्तर भानपुरा पीठ के शंकराचार्य स्वामी ज्ञानानंद तीर्थ ने कहा कि सतगुरुअाें के चरणों में की गई प्रार्थना कभी व्यर्थ नहीं जाती है। ब्रह्मा, विष्णु, महेश के समान कार्य गुरु ही कर सकता है। महामंडलेश्वर हंसराम उदासीन, संत मयाराम, संत राजाराम व बालक मण्डली ने सतगुरु बाबा हरीराम की 72वीं वर्सी पर भजन प्रस्तुत कर गुरुअाें का गुणगान किया। कई भगत मंडलियाें ने भजन प्रस्तुत किए। वर्सी उत्सव में देश के विभिन्न क्षेत्राें से श्रद्धालुअाें का हरीशेवा अाश्रम पहुंचे।

अाज शुरू हाेगा श्रीचंद्र सिंद्धांतसागर का अखंड पाठ
वर्सी उत्सव के दूसरे दिन गुरुवार काे नितनेम, संत-महात्माओं का सत्संग प्रवचन के अलावा श्रीचन्द्र सिद्धान्त सागर का अखण्ड पाठ शुरू हाेगा। रामायण के अखंड पाठ का भोग पड़ेगा। शाम काे हरीशेवा आश्रम में धर्म ध्वजा रोहण होगा। कांवाखेड़ा स्थित जगन्नाथ मंदिर से पहुंचने वाली भगवान जगन्नाथ की यात्रा के आश्रम पहुंचने पर स्वागत किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...