नृसिंहद्वारा महंत मस्तराम ने लक्ष्मणदास को बनाया उत्तराधिकारी

Bhilwara News - नृसिंहद्वारा के महंत वशिष्ठ जया शरण महाराज उर्फ मस्तराम बाबा ने भागवत कथा समापन के अवसर पर शुक्रवार काे अपना...

May 18, 2019, 08:11 AM IST
नृसिंहद्वारा के महंत वशिष्ठ जया शरण महाराज उर्फ मस्तराम बाबा ने भागवत कथा समापन के अवसर पर शुक्रवार काे अपना उत्तराधिकारी घोषित किया। संत समाज एवं श्रद्धालुओं ने उन्हें चादर ओढ़ाकर विधि विधान से पूजन किया। इसके बाद उनके उत्तराधिकारी की घोषणा की गई। वशिष्ठ जया शरण महाराज ने बताया कि उनके बाद नृसिंहद्वारा जहाजपुर का उत्तराधिकारी लक्ष्मण दास महाराज पंचमुखी दरबार भीलवाड़ा होंगे जो विरासत व्यवस्थाओं को संभालेंगे। संतों द्वारा लक्ष्मण दास जी महाराज को चादर अाेढ़ाने की रस्म निभाई गई। महंत गोपालदास सांगानेर, श्यामसुंदरदास, स्वामी जगदीश पुरी महाराज शक्करगढ़, राम अनुग्रह दास महाराज नृसिंहद्वारा कोटडी, हरिओम साईं भीलवाड़ा, उद्धव शरण आदि माैजूद थे। कायर्क्रम के दाैरान मंदिर परिसर भगवान के जयकारों से गूंज उठा।

महंत लक्ष्मणदास

70 के दशक में उदयपुर से आए बाबा मस्तराम आश्रम के नाम 20 कराेड़ रुपए की संपत्ति है

कस्बे के नृसिंहद्वारा के महंत जया शरण महाराज उर्फ मस्तराम बाबा 70 के दशक में उदयपुर से आए थे। वे अभी नृसिंहद्वारा में निवास कर रहे हैं। नृसिंहद्वारा से जुड़े अरविंद व्यास ने बताया कि बाबा मस्तराम महाराज ने अपने उत्तराधिकारी की घोषणा की। नृसिंहद्वारा की संपत्ति लगभग 20 करोड़ है। जिसमें कृषि भूमि मुख्य है। भागवत कथा के समापन पर सामूहिक भंडारे का आयोजन हुआ। जिसमें लगभग 8 हजार श्रद्धालुओं का भोजन तैयार किया गया।

बाबा मस्तराम।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना