साध्वी विमलकंवर का शांतिभवन में प्रवेश

Bhilwara News - भीलवाड़ा | साध्वी विमलकंवर, मुक्तिप्रभा, संयमप्रभा, किरणप्रभा, शशिप्रभा, सुप्रज्ञा का हैड पाेस्ट अाॅफिस के पास...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:30 AM IST
Bhilwara News - rajasthan news sadhvi villalankar39s entry into shanti bhavana
भीलवाड़ा | साध्वी विमलकंवर, मुक्तिप्रभा, संयमप्रभा, किरणप्रभा, शशिप्रभा, सुप्रज्ञा का हैड पाेस्ट अाॅफिस के पास स्थित शांतिभवन में चातुर्मास के लिए मंगल प्रवेश हुअा। मंगल प्रवेश से पहले साध्वियां शास्त्रीनगर मैन सेक्टर स्थित कांफ्रेंस की प्रांतीय महिला अध्यक्ष पुष्पा गाेखरू के निवास स्थान से जुलूस के रूप में चातुर्मास स्थल पहुंची। मीडिया प्रभारी मनीष बंब ने बताया कि जुलूस सुबह 8 बजे रवाना हुअा, जाे वन विभाग, दुर्गा माता मंदिर, काशीपुरी, वकील कॉलोनी, बॉयज कॉलेज, चित्रकूट धाम होते हुए चातुर्मास स्थल शांतिभवन पहुंचा। जुलूस में श्रावक-श्राविकाएं भगवान महावीर स्वामी के जयकारे लगाते चल रहे थे। शांतिभवन के अध्यक्ष राजेंद्र चीपड ने बताया कि जुलूस के शांति भवन पहुंचने पर श्रावक-श्राविकाअाें ने साध्वियाें के प्रवचन एवं दर्शन का लाभ लिया।

सत्संग से मिलता है सुख

सात्विक व दृढ धर्म निष्ठा से विपरित प्रकृति व प्रवृत्ति वालों को भी सन्मार्ग पर लाया जा सकता है। इतिहास में ऐसे कई उदाहरण हैं, जिसमे सज्जन, महापुरुषों के सानिध्य से दुर्जन व्यक्तियों का भी ह्दय परिवर्तन हो गया। सुभाषनगर जैन स्थानक में उक्त भाव साध्वी राजश्री ने प्रकट किए। इससे पहले प्रवचन में साध्वी सत्यप्रभा ने कहा कि साधक विनीत, पराक्रमशाली व नम्र हो। सुभाषनगर संघ के अध्यक्ष हेमन्त कोठारी ने बताया कि महासतियाें की प्रेरणा से रविवार से आयम्बिल, एकासन, उपवास व तेले तप की लड़िया शुरू होगी।

धर्म एवं पुण्य से जीवन में आगे बढ़े

पिछले जन्म मंे किए पुण्यों का प्रतिफल हमें इस जीवन मंे मिली अनुकूलता है। जीवन में सतत धर्म एवं पुण्य मार्ग पर चलते हुए अगले भव में जीवन को सुखी एवं अनुकूल बनाना है। यह विचार साध्वी डाॅ. ज्ञानलता ने शनिवार सुबह शास्त्रीनगर में प्रवचन में व्यक्त किए। साध्वी ने कहा कि धर्म एवं पुण्य की कमाई करने वाला दुःख में भी सुख का अनुभव करता है। संघ अध्यक्ष अशोक पोखरना ने बताया कि प्रवचन में साध्वी डाॅ. दर्शनलता ने कहा कि धर्म की गहराई को समझने वाला जीवन में कभी भी दुःख महसूस नहीं करता है। शांति लाल कांकरिया ने बताया कि साध्वी डाॅ. ज्ञानलता का चातुर्मास प्रवेश रविवार सुबह सवा नाै बजे शास्त्रीनगर स्थित अहिंसा भवन में होगा।

X
Bhilwara News - rajasthan news sadhvi villalankar39s entry into shanti bhavana
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना