इस अलमारी में बंद कमीशन का राज

Bhilwara News - इस बड़ी अलमारी में 51 बिलों के 4.49 कराेड़ रुपए का हिसाब किताब है। इनमें कमीशन बांटा जाना था। एक लाख टेबल की रैक, दो...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:25 AM IST
Bhilwara News - rajasthan news the secret of the commissioned in this closet
इस बड़ी अलमारी में 51 बिलों के 4.49 कराेड़ रुपए का हिसाब किताब है। इनमें कमीशन बांटा जाना था।

एक लाख टेबल की रैक, दो लाख रु. फाइलाें में छिपा रखे थे, 51 फाइलाें के 4.49 कराेड़ के बिल पर अाॅफिस में बंटना था कमीशन

कमीशन के पैसों पर कोड वर्ड में ऐसे होती थी बातचीत

नरेंद्र जाट | भीलवाड़ा

एसीबी के छापे में पीडब्ल्यूडी एक्सईएन भंवरलाल जयपाल के चैंबर की टेबल के रैक में एक लाख अाैर उसके पीए के कमरे में दाे लाख रुपए के नाेट मिले थे। दाेनाें जगह पड़े रुपए कागजाें में छिपाकर रखे गए थे। तीन लाख रुपए ठेकेदाराें से कमिशन के अाए हुए थे जाे एक्सईएन सहित सभी कर्मचारियाें काे बंटने थे।

पड़ताल में अाैर भी कई चाैंकाने वाले खुलासे हुए हैं। इसमें सामने अाया कि असल में 4.49 कराेड़ रुपए के 51 बिलाें पर कमिशन अाॅफिस में बंटना था। इन बिलाें काे पास करने की प्रक्रिया चल रही थी। इससे पहले ही एसीबी की एंट्री हाे गई। ये 51 बिल अाैर इनसे संबंधित फाइलें इस अालमारी में पड़े हुए हैं। एसीबी के छापे के बाद एडिशनल चीफ इंजीनियर अाॅफिस, अजमेर से जांच के लिए अाई तीन सदस्यीय विशेष टीम की जांच में यह खुलासा हुअा है। जांच टीम ने अलग-अलग जगह इनसे संबंधित बिल अाैर फाइलाें काे इसी अालमारी में बंद कर सील कर दिया है। एसीबी की कार्रवाई के दाैरान एक्सईएन जयपाल चैंबर में था लेकिन पीए उसके कमरे में नहीं था।

जयपाल से चार्ज हटाया, रामेश्वर लाल नए एसई

जयपाल

कमीशन के लिए पूछते भी तो कोड वर्ड में

सूत्रों के मुताबिक पीडब्ल्यूडी एक्सईएन कार्यालय में रिश्वत और कमीशन का लंबे समय से चल रहा है। शुरुआती जांच में सामने आ रहा है कि कमीशन और पैसों के इस खेल में बातचीत कोड वर्ड में शुरू होती। कमीशन का पैसा आने पर कहा जाता था पत्थर भरी ट्रॉली आ गई। इसमें से हिस्सा मिल जाने पर कहा जाता ट्रॉली खाली हो चुकी है और यदि पैसा नहीं मिलता तो चर्चा यह चलती कि पत्थर की ट्रॉली आई तो थी, लेकिन खाली हुए बगैर चली गई। एसीबी की टीम कोड वर्ड के आधार पर बातचीत करने वालों की पहचान में जुटी है।

एक्सईएन ने अाॅफिस से जाते समय सहायक कर्मचारी से कहा था, अाज जरूरी काम है, लेट अाऊंगा... एसीबी के छापे वाले दिन एक्सईएन दिन में एक्सईएन भंवरलाल जयपाल अाॅफिस अाए थे, लेकिन जल्दी ही निकल गए। जब वे अाॅफिस से निकले थे तब चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी काे कहकर गए थे कि मैं शाम काे अाने में थाेड़ा लेट हाे जाऊंगा। तू जल्दी मत जाना, अाज जरूरी काम है। बताया गया कि एसीबी काे जाे पैसा मिला था वह उसी दिन एक्सईएन अाॅफिस में पहुंचा था। यह पैसा ठेकेदाराें से इकट्ठा हाेकर पहुंचा था। अाॅफिस में पैसा पहुंचने के बाद ही सूचना एसीबी पहुंच गई अाैर वहां से टीम ने घेराबंदी करके छापा मार दिया।

पीडब्ल्यूडी एसई आरएस झंवर छुट्‌टी पर चल रहे हैं इसलिए एक्सईएन जयपाल के पास एसई का अतिरिक्त चार्ज था। जयपाल के चैंबर में एसीबी के छापे के बाद गुरुवार को पीडब्ल्यूडी ने जयपाल से एसई का चार्ज हटा दिया है। उसकी जगह अब अजमेर में एसई- क्वालिटी कंट्रोल रामेश्वरलाल खटीक को अतिरिक्त चार्ज दिया है। रामेश्वरलाल जब चार्ज लेने भीलवाड़ा एसई ऑफिस पहुंचे तो एक्सईएन जयपाल को एसई ऑफिस बुलाने के लिए एक्सईएन ऑफिस फोन किया गया लेकिन जयपाल वहां पर नहीं थे।

कमीशन के रुपए अाने पर कहते थे- पत्थर से भरी ट्राॅली पहुंच गई है,

पैसे मिलने पर जवाब होता- ट्रॉली खाली हाेकर वापस चली गई है

किसके पास कितने रुपए के बिल प्रोसेस में थे जो अब अलमारी में बंद है

पीए के कमरे में रखी छोटी अलमारी के ऊपर पड़ी फाइलों के नीचे दबाकर रखे गए थे 2 लाख रुपए।

देर शाम तक अाॅफिस में बैठता था एक्सईएन, गुर्गे मिलने भी अाते थे... पीडब्ल्यूडी के कर्मचारियाें का कहना है कि एक्सईएन अकसर देर शाम तक अपने चैंबर में बैठते थे। इसलिए वहां पर एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की भी व्यवस्था की गई थी। वह चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी रात 10 बजे तक अाॅफिस रुकता था। बताया गया कि एक्सईएन से देर शाम तक उनके गुर्गे भी उनसे मिलने अाते थे। इनमें अापस में लेनदेन की बातें हाेती थी।

बाबूओं के पास

15 बिल

एक्सईएन के चैंबर की तिलस्मी कुंंदी... एक्सईएन के चैंबर व पीए के कमरे के बीच वाले गेट पर लगी तिलस्मी कुंदी चाराें तरफ चर्चा में थी। पीए के कमरे में जाने के लिए एक्सईएन के चैंबर से एक गेट था। इस गेट पर एक्सईएन चैंबर की साइट में कूंदी लगी हुई थी। इसकाे बंद करने के बाद पीए एक्सईएन के चैंबर में नहीं अा सकता था, लेकिन पीए के कमरे में गेट पर लगी कूंदी काे हटा दिया गया था इसलिए एक्सईएन जब चाहे पीए के कमरे में जा सकता था। लेकिन पीए कूंदी लगी हाेने के कारण एक्सईएन के कमरे में नहीं अा सकता था।

एक्सईएन का चैंबर

15 बिल

34510510

एक्सईएन का चैंबर

21 बिल

426811

10008933

Bhilwara News - rajasthan news the secret of the commissioned in this closet
Bhilwara News - rajasthan news the secret of the commissioned in this closet
X
Bhilwara News - rajasthan news the secret of the commissioned in this closet
Bhilwara News - rajasthan news the secret of the commissioned in this closet
Bhilwara News - rajasthan news the secret of the commissioned in this closet
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना