• ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
अंतिम अपडेट : 22-06-2018 01:35PM
भागवत कथा में माखन व रासलीला प्रसंग पर सजाई झांकियां

भागवत कथा में माखन व रासलीला प्रसंग पर सजाई झांकियां

ईश्वर मन मंदिर में विराजमान हैं, सिर्फ पहचानने वाला होना चाहिए। पहचान का प्रमुख मार्ग हरि स्मरण है। उसके लिए कोई अमीर और गरीब नहीं होता है। कृष्ण नाम का रस पीने से जीवन भवसागर से पार हो जाता है। सुदामा पर चाहे जितनी विपदा आई, लेकिन वे हरि स्मरण नहीं...

ताज़ा ख़बरें

कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
Allow पर क्लिक करें।