--Advertisement--

राजसमंद को ये फायदे

Danik Bhaskar | Feb 02, 2018, 05:30 AM IST

डेढ़ लाख महिलाओं को जोड़ने का लक्ष्य

महिलाओं को धुएं से मुक्ति के लिए उज्ज्वला योजना कारगर साबित हुई है। जिले में डेढ़ लाख महिलाओं को उज्ज्वला योजना में कनेक्शन से जोड़ने का लक्ष्य है। तीन साल में एक लाख 15 हजार कनेक्शन जारी कर दिए हैं। 35 हजार महिलाएं योजना से वंचित चल रही है। इन्हें फायदा मिलेगा।


1300 टीबी मरीज, इन्हें 500 रुपए पेंशन

चिकित्सा क्षेत्र में टीबी मरीजों को 500 रुपए प्रतिमाह मिलने की योजना से जिले के एक हजार 300 टीबी मरीजों को फायदा होगा। तीन लोकसभा पर एक मेडिकल कॉलेज व अस्पताल से राजसमंद लोकसभा को फायदा मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। वर्तमान में जिले में 44 पीएचसी है। बजट में स्वास्थ्य केंद्रों की घोषणा से 3 नई पीएचसी बन सकती है। संक्रमण से होने वाली बीमारियों की रोकथाम के लिए आयुष्मान योजना का लाभ मिलेगा।


ग्रीन हाउस संचालन में फायदा

बजट में किसानों को खेती के साथ ही फूड प्रोसेसिंग करने की स्कीम को लागू करने की घोषणा की है। जिले में कुंभलगढ़ का सीताफल, रतनजोत, खमनोर हल्दीघाटी में गुलाब की खेती व ग्रीन हाउस में ज्यादा टमाटर की पैदावार होने से भी फूड प्रोसेसिंग की संभावना बढ़ गई है।


कुंभलगढ़ क्षेत्र में मिलेगा लाभ

गांव के हर घर को बिजली से जोड़ने का लक्ष्य रखते हुए सरकार ने फंड भी तय किया है। जिले में अभी कुंभलगढ़, भीम, खमनोर क्षेत्र के कई गांवों में बिजली नहीं है। कुंभलगढ़ क्षेत्र पहाड़ी इलाका होने से बिजली नहीं पहुंच पाई है। इसका लाभ मिलेगा।

सांसद-मंत्री बोले: सांसद हरिओमसिंह राठौड़ का कहना है कि बजट में किसानों का ध्यान रखा है। तीन लोकसभा पर एक मेडिकल कॉलेज व अस्पताल की घोषणा से राजसमंद को लाभ की उम्मीद बढ़ी है। रेल बजट का विस्तार से विवरण आया नहीं है। इधर, मंत्री किरण माहेश्वरी ने बजट को चहुंमुखी विकास को समर्पित बजट बताया है।