• Hindi News
  • Rajasthan
  • Bhim
  • सिगरेट के पैसों को लेकर हुए झगड़े में यातायात सलाहकार की हत्या, ढाबा संचालक ने दिया वारदात को अंजाम, आरोपी फरार
--Advertisement--

सिगरेट के पैसों को लेकर हुए झगड़े में यातायात सलाहकार की हत्या, ढाबा संचालक ने दिया वारदात को अंजाम, आरोपी फरार

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:20 AM IST

Bhim News - समीपवर्ती बरार क्षेत्र में शक्करगढ़ पेट्रोल पंप के पास स्थित चौराहा पर मंगलवार रात सिगरेट के पैसों के आपसी...

सिगरेट के पैसों को लेकर हुए झगड़े में यातायात सलाहकार की हत्या, ढाबा संचालक ने दिया वारदात को अंजाम, आरोपी फरार
समीपवर्ती बरार क्षेत्र में शक्करगढ़ पेट्रोल पंप के पास स्थित चौराहा पर मंगलवार रात सिगरेट के पैसों के आपसी लेन-देन के चलते होटल संचालक और उसके परिवार ने यातायात सलाहकार की लट्ठ से वार कर हत्या कर दी। शव को हाई-वे किनारे डालकर फरार हो गए। एक ही परिवार के तीन लोगों ने मिलकर हत्या कर दी। थानाधिकारी लाभूराम विश्नोई ने बताया कि रोड़ा नोखा बीकानेर हाल शक्करगढ़ निवासी यातायात सलाहकार बनवारीलाल (35) पुत्र गेनाराम विश्नोई देर रात बोलेरो जीप में डीजल भरवाने के लिए तीन साथियों के साथ पेट्रोल पंप की ओर जा रहा था। तभी रास्ते में घात लगाए बैठे शक्करगढ़ निवासी हंसराज पुत्र गेहरीलाल गर्ग, उसका भाई मुकेश गर्ग और मंजूदेवी प|ी मुकेश गर्ग ने बोलेरो रुकवाई और गाड़ी का कांच फोड़ते हुए लठ एवं कुल्हाड़ी से जानलेवा हमला कर बनवारीलाल की हत्या कर दी। घटना के बाद तीनों फरार हो गए। बताया गया कि बनवारीलाल डीजल भरवाने के बाद होटल जंभेश्वर से अपने तीनों साथियों के साथ हाई वे पर थोड़ी ही दूर चला कि मुकेश और उसके परिवार वालों ने बोलेरो रुकवा दी। हाई वे मोबाइल की सूचना पर रात एक बजे भीम पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और बनवारीलाल को भीम राजकीय रैफरल हॉस्पिटल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने बनवारीलाल को मृत घोषित कर दिया।

यातायात सलाहकार के हत्याकांड का पूरा घटनाक्रम ऐसे चला

भीम . यातायात सलाहकार की हत्या के बाद मौके पर जमा भीड़।

दूसरे के विवाद में दखल बना जान का दुश्मन

झगड़ा करने वाले दो जनों के बीच समझाइश करना बनवारीलाल के लिए जानलेवा साबित हुआ। घटना वाली रात बनवारी व सरवानिया निवासी खूमाराम मुकेश गर्ग के ढाबे पर सिगरेट पीने गए। यहां सिगरेट के पैसों को लेकर मुकेश गर्ग और खूमाराम के बीच विवाद हो गया। बनवारी और उसके भाई पप्पूलाल ने दोनों के बीच समझाइश की और होटल चले गए। होटल जाने के बाद खुमाराम की छाती में तेज दर्द हुआ तो बनवारी पप्पूलाल, बनवारी और खुमाराम तीनों देवगढ़ थाने में मामला दर्ज कराने गए। वापस आकर बनवारी ने खाना खाया। रात साढ़े 11 बजे बोलेरो में डीजल भरवाने बनवारी, खुमाराम व कहारी निवासी रमेश सालवी पेट्रोल पंप पहुंचे।

रोड़ा नोखा बीकानेर निवासी पप्पूलाल, उसका भाई बनवारीलाल और रामलाल शक्करगढ़ के पास होटल चलाते हैं। बनवारीलाल होटल संचालन के साथ ही करीब पांच साल से यातायात सलाहकार का काम कर रहा था। पप्पूलाल ने बताया कि घटना वाली रात बनवारी व सरवानिया निवासी खूमाराम शक्करगढ़ चौराहा स्थित तुलसी पेट्रोल पंप के पास मुकेश गर्ग के ढाबे पर सिगरेट पीने गए थे। सिगरेट के पैसों को लेकर मुकेश गर्ग और खूमाराम के बीच विवाद हो गया। बनवारी और पप्पूलाल खूमाराम के बीच समझाइश कर होटल चले गए। होटल जाने के बाद खुमाराम की छाती में तेज दर्द होने पर पप्पूलाल, बनवारी और खुमाराम तीनों देवगढ़ थाने में मामला दर्ज कराने गए। थाने से वापस बनवारी ने खाना खाया। रात साढ़े 11 बजे बोलेरो में डीजल भरवाने बनवारी, खुमाराम व कहारी निवासी रमेश सालवी पेट्रोल पंप के लिए रवाना हुए। करीब 15 मिनट बाद पेट्रोल पंप के पास ढाबा चालक मुकेश, उसका भाई हंसराज गर्ग, मुकेश की प|ी मंजू सहित अन्य बनवारी के साथ मारपीट करने की सूचना पर पप्पूलाल स्कूटी लेकर मौके पर पहुंचा। यहां मुकेश गर्ग बनवारीलाल को घसीटते हुए हाइवे किनारे ले जा रहा था और हंसराज, मंजू गर्ग सहित अन्य लठ से मारपीट कर रहे थे। पप्पूलाल के चिल्लाने पर तीनों आरोपी बनवारी को छोड़कर भाग गए। कुछ देर बाद हाईवे मोबाइल पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।

प्रत्यक्षदर्शियों की जुबानी

खुमाराम : मंगलवार दोपहर होटल संचालक मुकेश गर्ग के लड़के और मेरे बीच विवाद हो गया। मुकेश के लड़के ने मेरे साथ मारपीट की। छाती में दर्द होने पर बनवारीलाल के साथ देवगढ़ थाने पर मारपीट का मामला दर्ज कराया। देर शाम बनवारी, रमेश और मैं होटल पर बैठे थे। तभी मुकेश, उसका भाई हंसराज, मुकेश की प|ी मंजू और लड़का हाथ में लठ लेकर आए और मेरे तथा बनवारी के साथ मारपीट करने लगे। मैं जान बचाने के लिए भागा और थोड़ा दूर जाकर देखा तो मुकेश और उसके परिवार वाले बनवारी के सिर में लठ से वार कर रहे थे। इसकी सूचना मैंने बनवारी के भाई पप्पूलाल को दी।

रमेश सालवी : मेरी बहन बीमार होने से देवगढ़ अस्पताल से आ रहा था। तभी बनवारी व खुमाराम को हाथ देकर रुकवाया। बनवारी की बोलेरो में बैठकर शक्करगढ़ चौराहे पर पहुंचे। तभी होटल पर मुकेश गर्ग, हंसराज मिलकर बनवारी के साथ लठ से वारकर मारपीट कर रहे थे। मारपीट होती देखकर वहां से भागा और बनवारी की होटल पर पप्पूलाल को सूचना दी।

सिगरेट के पैसों को लेकर हुए झगड़े में यातायात सलाहकार की हत्या, ढाबा संचालक ने दिया वारदात को अंजाम, आरोपी फरार
सिगरेट के पैसों को लेकर हुए झगड़े में यातायात सलाहकार की हत्या, ढाबा संचालक ने दिया वारदात को अंजाम, आरोपी फरार
X
सिगरेट के पैसों को लेकर हुए झगड़े में यातायात सलाहकार की हत्या, ढाबा संचालक ने दिया वारदात को अंजाम, आरोपी फरार
सिगरेट के पैसों को लेकर हुए झगड़े में यातायात सलाहकार की हत्या, ढाबा संचालक ने दिया वारदात को अंजाम, आरोपी फरार
सिगरेट के पैसों को लेकर हुए झगड़े में यातायात सलाहकार की हत्या, ढाबा संचालक ने दिया वारदात को अंजाम, आरोपी फरार
Astrology

Recommended

Click to listen..