• Hindi News
  • Rajasthan
  • Bhinmal
  • तालमेल बनाने पहुंचे ऊर्जा राज्यमंत्री को पहले ही दिन भीनमाल में झेलना पड़ा आक्रोश, विधायक ने भी नहीं दी तव्वजो
--Advertisement--

तालमेल बनाने पहुंचे ऊर्जा राज्यमंत्री को पहले ही दिन भीनमाल में झेलना पड़ा आक्रोश, विधायक ने भी नहीं दी तव्वजो

Dainik Bhaskar

Mar 28, 2018, 02:05 AM IST

Bhinmal News - महेश्वर महादेव मंदिर में हुई बैठक में झेलना पड़ा विरोध भास्कर न्यूज | भीनमाल चुनावों को ध्यान में रखते हुए...

तालमेल बनाने पहुंचे ऊर्जा राज्यमंत्री को पहले ही दिन भीनमाल में झेलना पड़ा आक्रोश, विधायक ने भी नहीं दी तव्वजो
महेश्वर महादेव मंदिर में हुई बैठक में झेलना पड़ा विरोध

भास्कर न्यूज | भीनमाल

चुनावों को ध्यान में रखते हुए भारतीय जनता पार्टी ने सभी मंत्रियों को अलग-अलग जिलों का प्रभार देकर संगठन व सता के बीच की दूरियों को समाप्त करने की जिम्मेदारी सौंपी। जिसके तहत मंत्रियों को तीन-तीन दिन तक प्रत्येक जिले में गुजार कर हर विधानसभा क्षेत्र में संगठन के पदाधिकारियों, पूर्व प्रतिनिधियों, जनप्रतिनिधियों, कार्यकर्ताओं से रायशुमारी करने का दायित्व सौंपा हुआ है। इसी के तहत मंगलवार को ऊर्जा मंत्री पुष्पेन्द्रसिंह राणावत भीनमाल में पहुंचे। जहां उन्होंने कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों की बैठक ली। स्थानीय महेश्वर महादेव मंदिर में आयोजित बैठक में मंत्री राणावत को न केवल कार्यकर्ताओं की नाराजगी झेलनी पड़ी।

बल्कि कई सरपंचों का आक्रोश भी झेलना पड़ा। इतना ही नहीं जिस विधानसभा क्षेत्र में मंत्री बैठक ले रहे थे, वहां के विधायक ने भी उन्हें तव्वजो नहीं दी। विधायक पूराराम चौधरी बैठक से नदारद दिखे। बैठक में माहौल अनुकूल नहीं दिखने पर कुछ देर ही बाद ही मंत्री रानीवाड़ा के लिए रवाना हो गए। बैठक में भाजपा जिलाध्यक्ष रविन्द्रसिंह बालावत, जिला प्रमुख बन्नेसिंह गोहिल, उप जिला प्रमुख गिरधर कंवर, प्रधान धुखाराम राजपुरोहित व नगरध्यक्ष भरतसिंह भोजाणी समेत कई कार्यकर्ता मौजूद थे।

कार्यकर्ताओं ने अनदेखी करने का लगाया आरोप

बैठक के दौरान कुछ कार्यकर्ताओं ने बैठक की सूचना नहीं देने पर आपत्ति जाहिर की। उन्होंने बताया कि पार्टी में कार्यकर्ताओं की अनदेखी की जा रही है। जिस पर उन्हें कार्यकर्ताओं को बताया कि यह बैठक गुप्त रूप से आयोजित की गई थी तथा इसमें गिने-चुने पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं को ही आमंत्रित किया गया था। इसी दौरान कुछ सरपंचों ने भी समस्याओं को लेकर ज्ञापन दिया। इस अवसर पर शेखर व्यास, जोरावरसिंह राव, जसराज पुरोहित, किशोर सांखला, डॉ. शैतानसिंह चौहान, गुमानसिंह राव, ब्रदीनारायण गौड़, हाजी तयब बागवान सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

X
तालमेल बनाने पहुंचे ऊर्जा राज्यमंत्री को पहले ही दिन भीनमाल में झेलना पड़ा आक्रोश, विधायक ने भी नहीं दी तव्वजो
Astrology

Recommended

Click to listen..