Hindi News »Rajasthan »Bhinmal» जालोर, भीनमाल व रानीवाड़ा रेलवे स्टेशन पर होगा शिशु स्तनपान कक्ष

जालोर, भीनमाल व रानीवाड़ा रेलवे स्टेशन पर होगा शिशु स्तनपान कक्ष

रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड व अन्य सार्वजनिक स्थानों पर माताओं को अपने शिशु को स्तनपान करवाने में काफी असहजता महसूस...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 09, 2018, 02:25 AM IST

रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड व अन्य सार्वजनिक स्थानों पर माताओं को अपने शिशु को स्तनपान करवाने में काफी असहजता महसूस करनी पड़ती है। महिलाओं की इस समस्या को देखते हुए महावीर इंटरनेशनल संस्था ने अपने प्रोजेक्ट वात्सल्य के तहत हिमालय ड्रग कंपनी के सौजन्य से प्रथम चरण में जोधपुर रेल मंडल के 27 रेलवे स्टेशनों पर शिशु स्तन पान कक्ष शुरू करने का बीड़ा उठाया है।

इसके लिए अधिकांश जगहों पर कक्ष के केबिन बनाकर तैयार कर दिए गए हैं। उत्तर पश्चिम रेलवे जोधपुर के वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक ने महावीर इंटरनेशनल संस्था को जालोर, भीनमाल, रानीवाड़ा, मोदरान रेलवे स्टेशन सहित मकराना, जोधपुर, भगत की कोठी, राईका बाग पैलेस, फलौदी, गोटन, मेड़ता रोड जंक्शन, डेगाना जंक्शन, मारवाड़ मूंडवा, नागौर, नोखा, रामदेवरा, ओसियां, सुजानगढ़, लाडनूं, डीडवाना, देशनोक, बालोतरा, खाटू, बाड़मेर, मुनाबाव, पाली मारवाड़, छोटी खाटू, धनेरा, समदड़ी, मा. भीनमाल, रेलवे स्टेशनों पर शिशु स्तनपान कक्ष लगाने की स्वीकृति दी है। इसके तहत वात्सल्य कक्ष रिमूवेबल स्ट्रक्चर लगाने एवं उसमें इलेक्ट्रिक आइटम पंखा व लाइट फाइव स्टार रेटिंग के ही लगाने की स्वीकृति दी है। खास बात यह होगी कि प्रायोजक पार्टी का बूथ रूपी इन संपत्तियों पर स्थापना के बाद कोई अधिकार नहीं होगा व भविष्य में शिशु स्तनपान कक्ष रेलवे की संपत्ति ही माने जाएंगे।

स्तनपान कक्ष में ये रहेगी व्यवस्था

महावीर इंटरनेशनल के अजमेर जोन सचिव संजय धारीवाल ने बताया कि शिशु स्तनपान कक्ष में कुर्सी, टेबल, पंखा, लाइट सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएगी। ऐसे में अब महिलाएं अपने शिशु को बगैर किसी संकोच के स्तनपान करवा सकेंगी। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में चुनिंदा रेलवे स्टेशनों पर ही केबिन बनाए गए हैं। जिसके लिए हिमालय ड्रग कंपनी पूरा सहयोग कर रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhinmal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×