• Hindi News
  • Rajasthan
  • Bhinmal
  • आहोर के 22 गांवों में क्लस्टर प्रणाली के लिए 15 करोड़ मंजूर
--Advertisement--

आहोर के 22 गांवों में क्लस्टर प्रणाली के लिए 15 करोड़ मंजूर

Dainik Bhaskar

Mar 07, 2018, 03:45 AM IST

Bhinmal News - आहोर विधानसभा क्षेत्र के 22 गांवों में पेयजल की व्यवस्था के लिए क्लस्टर प्रणाली से पानी पहुंचाया जाएगा। इसके लिए 15...

आहोर के 22 गांवों में क्लस्टर प्रणाली के लिए 15 करोड़ मंजूर
आहोर विधानसभा क्षेत्र के 22 गांवों में पेयजल की व्यवस्था के लिए क्लस्टर प्रणाली से पानी पहुंचाया जाएगा। इसके लिए 15 करोड़ रुपए मंजूर किए जाएंगे। यह घोषणा पीएचईडी मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने मंगलवार को राज्य विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान शंकर सिंह राजपुरोहित और अन्य विधायकों के पूरक प्रश्नों के जवाब में की। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में ईआर क्लस्टर के तहत 256 गांवों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए 449 करोड़ रुपए की योजना को वर्तमान में तकनीकी परीक्षण के लिए भेजा है। रिपोर्ट आने के बाद वित्तीय संसाधनों की उपलब्धता के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

गोयल ने कहा कि क्षेत्र में ईआर क्लस्टर वितरण प्रणाली के माध्यम से 121 गांवों तक पेयजल उपलब्ध कराने की योजना को आगामी 21 मार्च, 2019 तक पूरा किया जाना प्रस्तावित है। योजना को जल्द से जल्द पूरा करवाने के प्रयास किए जाएंगे। गोयल ने कहा कि सतही जल स्रोत नर्मदा नहर आधारित परियोजनाओं से जालौर जिले के वर्ष 2001 की जनगणनानुसार कुल 697 ग्रामों को लाभान्वित करने के लिए चार आधारभूत परियोजनाएं (समस्त 697 ग्रामों के लिए ) स्वीकृत की गईं। उन्होंने कहा कि जिला जालौर के शेष रहे 675 ग्रामों में 419 ग्रामों के लिए कलस्टर वितरण प्रणाली की तीन योजनाएं विभाग ने स्वीकृत की हैं। इनमें से विधानसभा क्षेत्र, जालौर के 14 ग्रामों की कलस्टर वितरण प्रणाली की योजना पूर्ण की जाकर इन ग्रामों को लाभान्वित किया जा चुका है। 405 ग्रामों की स्वीकृत कलस्टर परियोजनाओं का कार्य वर्तमान में प्रगति पर है। गोयल ने कहा कि ई.आर. कलस्टर परियोजना में जालौर जिले के शेष रहे 256 ग्रामों को कलस्टर वितरण प्रणाली से लाभान्वित करने के लिए बनाई डी.पी.आर. पर सैद्धांतिक सहमति के बाद तकनीकी क्लीयरेंस एवं वित्तीय संसाधनों की उपलब्धता पर परियोजना की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति के संबंध में निर्णय लिया जाएगा। जालौर जिले के तीन शहर जालौर, भीनमाल एवं सांचौर पाइप्ड जल योजनाओं से वर्तमान में लाभान्वित हैं। जिले में वर्ष 2011 की जनगणनानुसार कुल सम्मिलित 793 आबाद राजस्व ग्रामों में से 64 ग्राम पाइप्ड जल योजना, 498 ग्राम क्षेत्रीय जल योजना, 212 ग्राम पम्प एवं टैंक जलयोजना, 2 ग्राम हैंडपंप जल योजना तथा 17 ग्राम अन्य जल योजनाओं से वर्तमान में लाभान्वित हैं।

विधानसभा

विधानसभा में विधायक शंकरसिंह राजपुरोहित सहित अन्य विधायकों के सवाल पर पीएचईडी मंत्री सुरेंद्र गोयल ने की घोषणा

विधानसभा में गोयल ने दी प्रोजेक्ट की पूरी जानकारी

गोयल ने बताया कि सतही जल स्रोत नर्मदा नहर से स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने के लिए नर्मदा ई.आर. आधारभूत परियोजना की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति विभागीय नीति निर्धारण समिति की 191वीं बैठक 19 सितंबर 2013 द्वारा राशि रुपए 455.16 करोड़ की जारी की गई। इस परियोजना से जिले के भीनमाल शहर एवं 256 ग्रामों (विधान सभा क्षेत्र आहोर, भीनमाल, जालौर, रानीवाड़ा एवं सांचौर के क्रमशः 22, 77, 21, 24 एवं 112 ग्राम) को पेयजल उपलब्ध कराने की योजना है। इसके लिए एसपीएमएल इन्फ्रा लिमिटेड को 24 सितंबर, 2013 को 372.70 करोड़ रुपए का कार्यादेश जारी किया गया। स्वीकृत परियोजना में प्राप्त जल के प्रवाह के लिए एक मुख्य ट्रांसमिशन लाइन तथा स्वच्छ जल के प्रवाह के लिए दो मुख्य ट्रांसमिशन लाइनें डाली जानी प्रावधित हैं। सांचौर के ग्राम डेडवा स्थित हैडवर्क्स से ग्राम पालड़ी सोलंकियान तक रॉ-वाटर के प्रवाह के लिए प्रस्तावित 1200 मिलीमीटर व्यास की 10.100 किलोमीटर एम.एस. पाइप लाइन के विरूद्ध 5.68 किलोमीटर पाइप लाइन बिछाई जा चुकी है।

X
आहोर के 22 गांवों में क्लस्टर प्रणाली के लिए 15 करोड़ मंजूर
Astrology

Recommended

Click to listen..