Hindi News »Rajasthan »Bhinmal» 9 में से 6 सोनोग्राफी मशीन बंद, एक खराब, दो पर डॉक्टर नहीं, मनमाने दाम वसूल रहे निजी अस्पताल

9 में से 6 सोनोग्राफी मशीन बंद, एक खराब, दो पर डॉक्टर नहीं, मनमाने दाम वसूल रहे निजी अस्पताल

दिलीप डूडी/ओमप्रकाश डारा | जालोर/सांचौर जिले में चिकित्सा महकमा में सरकारी व्यवस्थाओं में खामियों की वजह से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 11, 2018, 03:45 AM IST

दिलीप डूडी/ओमप्रकाश डारा | जालोर/सांचौर

जिले में चिकित्सा महकमा में सरकारी व्यवस्थाओं में खामियों की वजह से मरीजों को निजी अस्पतालों में मोटी रकम चुकाने को मजबूर होना पड़ रहा है। इतना ही नहीं, इसमें सबसे बड़ी कमी जनप्रतिनिधियों की सामने आ रही है। आपको बता दें कि जिले में वर्तमान में 28 में से सरकार की ओर से वर्तमान में केवल तीन सोनोग्राफी मशीन का ही संचालन किया जा रहा है। जबकि, इसके उलट 25 निजी अस्पतालों में सोनोग्राफी मशीन संचालित की जा रही है। सरकारी अस्पतालों में कमी होने के कारण मरीजों को बड़ी रकम चुकाने को मजबूर होना पड़ रहा है। सबसे विकट हालात सांचौर व जालोर के हैं। सांचौर में तो एक भी सोनोग्राफी मशीन का संचालन नहीं हो रहा है। इसके उलट 9 निजी अस्पतालों में इन मशीनों का संचालन कर दूर-दराज से चिकित्सा लाभ लेने आने वाले मरीजों से बड़ी रकम वसूली जा रही है।

सबसे बड़ा असर क्या

दरअसल, सरकार की ओर से संचालित की जाने वाली सोनोग्राफी मशीन पर जांच करने पर मरीजों से निर्धारित सौ रुपए फीस ही वसूल की जा सकती है। वहीं गर्भवती महिला की जांच निशुल्क करने का प्रावधान है, लेकिन निजी अस्पतालों में यही जांच पांच सौ से सात सौ रुपए तक वसूल किए जा रहे हैं। सांचौर क्षेत्र जैसे नेहड़ इलाके इलाके की गर्भवती महिलाओं के लिए विशेषकर यह बड़ा संकट बना हुआ है।

तीन स्थानों पर घोषणा के बाद भी विधायकों ने नहीं करवाई उपलब्ध, इधर निजी

अस्पतालों में संचालित सोनोग्राफी मशीन से वसूले जा रहे 4 से 5 सौ रुपये

जिले में यहां-यहां संचालित हो रही सोनोग्राफी मशीनें

ब्लॉक सरकारी निजी अस्पताल

जालोर 1 3

सांचौर 0 9

सायला 0 2

आहोर 1 3

भीनमाल 1 9

सांचौर में तो संचालन के लिए चिकित्सक तक नहीं

सांचौर में चिकित्सक उपलब्ध नहीं होने का हवाला देते हुए सोनोग्राफी बंद की हुई है। आपको बता दें कि रेडियोलॉजिस्ट, डीजीओ, डीएनबी, पीजी विशेष योग्यताधारी या फिर छह महीने का प्रशिक्षण प्राप्त कर चुका चिकित्सक सोनोग्राफी मशीन का संचालन कर सकता है। जबकि, सांचौर में नौ अस्पतालों में सोनोग्राफी संचालन की योग्यता रखने वाले चिकित्सक हैं, लेकिन सरकारी अस्पताल में चिकित्सक नियुक्त नहीं होना बड़ी विडंबना है।

कुछ इस तरह रही विधायकों की कमजोरी

सांचौर क्षेत्र में नौ निजी अस्पतालों में सोनोग्राफी संचालित की जा रही है, लेकिन सरकारी में एक डॉक्टर नियुक्त नहीं करवा पा रहे हैं।

सांचौर. सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर ताले में कैद सोनोग्राफी मशीन।

सांचौर व जसवंतपुरा में चिकित्सक के अभाव में बंद

जिले में वर्तमान में जालोर मुख्यालय पर स्थित एमसीएच, भीनमाल सीएचसी व आहोर सीएचसी पर सरकार की ओर से सोनोग्राफी मशीन का संचालन किया जा रहा है। वहीं सांचौर व जसवंतपुरा सीएचसी में चिकित्सकों के अभाव में सोनोग्राफी मशीन को ताले में बंद किया हुआ है। वहीं सायला, सियाणा व रानीवाड़ा में रजिस्ट्रेशन हो चुका है, लेकिन विधायकों ने घोषणा करने के बाद सोनोग्राफी मशीन उपलब्ध नहीं करवाई। जिस कारण अस्पतालों में इसकी व्यवस्था तक नहीं हो पाई है। साथ ही जिला मुख्यालय पर स्थित सामान्य अस्पताल में सोनोग्राफी मशीन खराब हो गई। जिसकी मरम्मत तक नहीं करवाई जा रही है।

रानीवाड़ा विधायक की ओर से घोषणा की जा चुकी है, लेकिन मशीन उपलब्ध नहीं करवाई गई। वहीं जसवंतपुरा में चिकित्सक नियुक्त नहीं करवा पाए।

आहोर क्षेत्र के सियाणा में विधायक की ओर से घोषणा की गई, लेकिन मशीन उपलब्ध नहीं करवाई गई।

जालोर विधायक की ओर से सायला में सोनोग्राफी मशीन की घोषणा की गई, लेकिन मशीन उपलब्ध नहीं करवाई गई। साथ ही सामान्य अस्पताल में पड़ी मशीन खराब हो गई।

कई बार अवगत करवाया

अस्पताल में रेडियोलोजिस्ट डॉक्टर नहीं होने से सोनोग्राफी मशीन बंद पड़ी है, इस बारे में उच्चाधिकारियों को अवगत करवा दिया गया है। -डॉ. वासुदेव जोशी, ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी, सांचौर

मैंने मशीन दिलाकर शुरू कराई थी

मैंने राज्यसभा सांसद अभिषेक मनु सिंघवी के कोष से सोनोग्राफी उपलब्ध करवाकर शुरू करवाई थी, अब चिकित्सक नहीं है। मैं प्रयास कर रहा हूं, इसे दुबारा शुरू की जाए। - सुखराम बिश्नोई, विधायक, सांचौर

जल्द करवाएंगे व्यवस्था

रानीवाड़ा में भी जल्द ही सोनोग्राफी मशीन शुरू करवाएंगे। हम प्रयासरत है। - नारायणसिंह देवल, विधायक, रानीवाड़ा

सियाणा में जल्द शुरू होगी सोनोग्राफी

सियाणा में सोनोग्राफी मशीन के लिए घोषणा की थी। वहां मशीन उपलब्ध करवानी शेष है। जल्द ही इस कार्य को भी पूरा कर देंगे। - शंकरसिंह राजपुरोहित, विधायक, आहोर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhinmal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×