भीनमाल

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Bhinmal News
  • भगवान परशुराम के प्रचार-प्रसार के लिए निकली यात्रा पहुंची भीनमाल, जगह-जगह किया स्वागत
--Advertisement--

भगवान परशुराम के प्रचार-प्रसार के लिए निकली यात्रा पहुंची भीनमाल, जगह-जगह किया स्वागत

भगवान परशुराम की गौरवमयी शौर्य गाथा का संपूर्ण भारत में प्रचार-प्रसार करने के लिए लालसोट युगल पीठाधीश्वर आचार्य...

Dainik Bhaskar

Mar 12, 2018, 03:55 AM IST
भगवान परशुराम के प्रचार-प्रसार के लिए निकली यात्रा पहुंची भीनमाल, जगह-जगह किया स्वागत
भगवान परशुराम की गौरवमयी शौर्य गाथा का संपूर्ण भारत में प्रचार-प्रसार करने के लिए लालसोट युगल पीठाधीश्वर आचार्य राजेश्वर महाराज के सानिध्य में भारत भ्रमण के लिए निकली परशुराम यात्रा रविवार को भीनमाल पहुंची। यात्रा के भीनमाल पहुंचने पर यहां राजपुरोहित छात्रावास स्थित जागनाथ मंदिर में ब्राह्मण समाज की ओर से सामैया कर ढोल व पुष्पवर्षा से स्वागत किया गया। इसके पश्चात धर्मसभा का आयोजन हुआ। आचार्य राजेश्वर महाराज ने कहा कि जालोर देवनगरी है यहां कई देवी-देवताओं के प्राचीन मंदिर स्थित है। यात्रा का उद्देश्य संपूर्ण भारत में निवास करने वाले ब्राह्मण समाज बंधुओं तक भगवान परशुराम के जीवन चरित्र की जानकारी का प्रचार-प्रसार करना है। उन्होंने कहा कि जब-जब इस पृथ्वी पर अधर्म बढ़ा है तब स्वयं नारायण अवतरित होकर परशुराम, श्रीराम, श्रीकृष्ण के रूप में आते हैं। संचालन घनश्याम व्यास ने किया।

इस दौरान यह रहे उपस्थित : इस अवसर पर बद्रीनारायण गौड़, प्रेमसुख राजपुरोहित, दिनेश दवे नवीन, जयंतीलाल पुरोहित, हीरालाल बोहरा, श्याम बोहरा, मदनलाल शर्मा, घेवरचंद राजपुरोहित, दिनेश त्रिवेदी, नरेन्द्र आचार्य, जगदीश रामावत, भगवतीप्रसाद दवे, महेश व्यास, भरत राजपुरोहित, धीरज बोहरा, मीठालाल वैष्णव, राजू थलवाड़, दरगाराम राजपुरोहित, फूलचंद राजपुरोहित, सुरेन्द्र त्रिवेदी, शंभूदत्त दवे, चिरंजीलाल व्यास, नरोत्तम दवे, महेश कुमार व्यास, भंवर त्रिवेदी, लीलाधर व्यास, नरेश व्यास सहित कई ब्राह्मण समाज के लोग उपस्थित रहे।

1 लाख 11 हजार किमी दूरी तय करेगी यात्रा

झुंझुनूं जिले के लोहार्गल स्थित सूर्य मंदिर से 5 मार्च को रवाना हुई यात्रा भारत भ्रमण के दौरान 1 लाख 11 हजार किमी की दूरी तय करेगी। इस दौरान यात्रा भारत के 687 जिला व 4 हजार तहसील मुख्यालयों पर भगवान परशुराम के जीवन चरित्र, गौरवमयी शौर्य गाथा का प्रवचन करेंगी तथा 10 लाख विप्र बंधुओं से भेंट की जाएगी। समापन हरियाणा के कुरुक्षेत्र में होगा।

भीनमाल. भीनमाल पहुंचने पर परशुराम यात्रा का स्वागत किया गया।

ब्राह्मण समाज के लिए बनेगी हेल्पलाइन

इस यात्रा के दौरान देश के समस्त ब्राह्मण विप्र बंधुओं को एक सूत्र में बांधने के लिए महासंपर्क अभियान भी चलाया जा रहा है जिसमें एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया जाएगा। यह हेल्पलाइन ब्राह्मण समाज के छात्र-छात्राओं को रोजगार व शिक्षा के क्षेत्र में निशुल्क मार्गदर्शन प्रदान करेंगी।

X
भगवान परशुराम के प्रचार-प्रसार के लिए निकली यात्रा पहुंची भीनमाल, जगह-जगह किया स्वागत
Click to listen..