Hindi News »Rajasthan »Bhinmal» खानपुर व कोटकास्तान ग्राम पंचायतों के बीच फंसी रपट, अब तक नहीं बनी

खानपुर व कोटकास्तान ग्राम पंचायतों के बीच फंसी रपट, अब तक नहीं बनी

गांवों को आपस में जोड़ने व आवागमन में लोगों को सुविधा मिले इसे लेकर केन्द्र सरकार की तरफ से करोड़ों रुपए का बजट...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 18, 2018, 02:05 AM IST

गांवों को आपस में जोड़ने व आवागमन में लोगों को सुविधा मिले इसे लेकर केन्द्र सरकार की तरफ से करोड़ों रुपए का बजट आवंटित किया जाता है लेकिन ग्राम पंचायत स्तर तक आते-आते यह कार्य उदासीनता की भेंट चढ़ जाते हैं और इस वजह से ग्राम पंचायतों में विकास कार्य नहीं हो पाते हैं। इस तरह का ही मामला है खानपुर व कोटकास्तान गांव के बीच बांडी नदी रपट का। यह दो अलग-अलग पंचायत समिति के ग्राम पंचायत क्षेत्र में होने से एक ग्राम पंचायत ने तो नदी में रपट निर्माण करवा दिया मगर दूसरी ग्राम पंचायत क्षेत्र में रपट निर्माण के लिए किसी तरह का कार्य नहीं करवाया गया है।

क्या कहते हैं सरपंच

हमने नरेगा योजना के तहत बांडी नदी में ७५ प्रतिशत रपट का निर्माण कार्य करवा दिया है। शेष रहा कार्य खानपुर ग्राम पंचायत के अधीन आता है जो वही ग्राम पंचायत करवाएगी। -वरदाराम माली, सरपंच कोटकास्तान

बांडी नदी में रपट निर्माण के लिए कोटकास्तान ग्राम पंचायत शेष रहा कार्य करवाती है तो हम एनओसी देने के लिए तैयार है। इस संबंध में पूर्व में भी कोटकास्तान सरपंच को शेष कार्य के लिए बोला था तो उन्होंने बजट नहीं होने का हवाला दिया था। कोटकास्तान ग्राम पंचायत अगर इस कार्य को नहीं करवाती है तो हम इसको करवाएंगे। -अशोक राजपुरोहित, सरपंच खानपुर

खानपुर व कोटकास्तान गांव के बीच बांडी नदी रपट का है मामला

भीनमाल. कोटकास्तान ग्राम पंचायत द्वारा खानपुर सरहद तक करवाया गया रपट निर्माण कार्य। फोटो | भास्कर

क्या है मामला

खानपुर और कोटकास्तान गांव के बीच स्थित मार्ग पर बांडी नदी होने की वजह से ग्रामीणों को आवागमन में परेशानी हो रही थी इस पर कोटकास्तान ग्राम पंचायत के सरपंच ने पहल करते हुए महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गांरटी योजना के तहत बांडी नदी में खानपुर सरहद तक ७५ प्रतिशत रपट का निर्माण कार्य करवा दिया है। दूसरी तरफ खानपुर ग्राम पंचायत को अपने क्षेत्र के अधीन आने वाली नदी में रपट का निर्माण कार्य करवाना था लेकिन खानपुर ग्राम पंचायत की ओर से इसके लिए किसी तरह का कार्य शुरू नहीं करवाया गया है। कोटकास्तान ग्राम पंचायत ने बांडी नदी में नरेगा के तहत स्वीकृत 49.26 लाख रुपए के बजट के अंतर्गत १६ मई २०१७ को शुरू किए इस कार्य को अपनी सरहद समाप्त होने पर हाल ही में यहां लाकर छोड़ दिया है। शेष रहा कार्य ग्राम पंचायत खानपुर के अंतर्गत आता मगर ग्राम पंचायत द्वारा अभी तक इस कार्य के लिए कवायद नहीं की गई है।

दोनों ग्राम पंचायतों की आपसी खींचतान

दरअसल, खानपुर ग्राम पंचायत जसवंतपुरा पंचायत समिति के अधीन आती है जबकि कोटकास्तान भीनमाल पंचायत समिति के अधीन। इस तरह दोनों ग्राम पंचायतों की पंचायत समितियां अलग-अलग होने से भी बांडी नदी में रपट निर्माण कार्य में अटकले पैदा हो रही है। एक सरपंच दूसरी ग्राम पंचायत के सरपंच पर इस कार्य को नहीं करवाने का आरोप लगा रहे हैं। खानपुर सरहद की तरफ बांडी नदी में रपट का निर्माण नहीं होने से कोटकास्तान ग्राम पंचायत की ओर से बनाई गई रपट भी बारिश के समय उपयोग में नहीं आएगी क्योंकि नदी का अत्यधिक पानी तो खानपुर सरहद की तरफ बहता है ऐसे में रपट के अभाव में वाहन नदी में धंस जाएंगे।

कार्य शुरू करवाएंगे

खानपुर-कोटकास्तान के बीच बांडी नदी में रपट निर्माण के लिए खानपुर ग्राम पंचायत में टेंडर प्रक्रिया में पिछले दिनों समस्या आई थी शेष रहा कार्य अगर समय पर पूरा नहीं होता है तो किया गया निर्माण कार्य भी न के बराबर होगा। मैं इसका पता करवाकर कार्य शुरू करवाएंगे। -नरपतसिंह भाटी, विकास अधिकारी जसवंतपुरा

भीनमाल. बांडी नदी में कोटकास्तान ग्राम पंचायत द्वारा करवाया गया कार्य।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhinmal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×