Hindi News »Rajasthan »Bhinmal» फर्जीवाड़ा कर ग्रेवल सड़क का 7.74 लाख का भुगतान उठाया, मौके पर नहीं हुआ कार्य

फर्जीवाड़ा कर ग्रेवल सड़क का 7.74 लाख का भुगतान उठाया, मौके पर नहीं हुआ कार्य

चाटवाडा में वीरथान से मंगलाराम गरूडा के खेत तक जाने वाले मार्ग की मौका स्थिति। ठेकेदार ने ऑनलाइन बिल पेश कर इस...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 24, 2018, 02:10 AM IST

फर्जीवाड़ा कर ग्रेवल सड़क का 7.74 लाख का भुगतान उठाया, मौके पर नहीं हुआ कार्य
चाटवाडा में वीरथान से मंगलाराम गरूडा के खेत तक जाने वाले मार्ग की मौका स्थिति।

ठेकेदार ने ऑनलाइन बिल पेश कर इस तरह उठाया भुगतान

फर्म के ठेकेदार द्वारा मनरेगा में ऑनलाइन बिल पेश कर अलग-अलग बिलों से एक ही तिथि को भुगतान उठाना गया है जिसमें फर्म ने बिल नं. 34,81 व 85 द्वारा 18 अप्रैल 2018 को 4 लाख 87 हजार 870 रूपए का भुगतान सामग्री के नाम से उठाया गया। इसी तरह ग्राम पंचायत ने भी २५६० दिन का भुगतान अलग-अलग मजदूरों के खाते में 2 लाख 87 हजार 36 रूपए उठाया गया है। कागजों में इस कार्य को एक साल तक चलना बताया गया है जबकि कार्य मात्र कुछ ही दिनों तक चलने के बाद बंद हो गया था। इतना ही नही यह मार्ग एक किमी ही है जबकि कागजों में करीब 3 किमी का भुगतान उठाया गया है।

क्या है मामला

महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत ग्राम पंचायत चाटवाडा द्वारा गांव में ही वीर का थान से मंगलाराम गरोडा के खेत तक करीब एक किमी ग्रेवल सड़क बनाने के लिए २० सितंबर २०१६ को 8 लाख 70 हजार की वित्तीय स्वीकृति ग्राम पंचायत को मिली थी जिसमें 3 लाख 21 हजार मजदूरी के व 5 लाख 49 हजार सामग्री व्यय सम्मिलित थे। जिसके बाद ग्राम पंचायत ने एक फर्म को इस कार्य ठेका दिया गया। इस कार्य को करीब १५० मीटर तक एक महीने तक चलाया गया इसके बाद कार्य को बंद कर दिया गया। वर्तमान में इस मार्ग पर भारी मात्रा में मिट्टी जमा है और ग्रेवल का नामों निशान भी नजर नहीं आ रहा है। ग्राम पंचायत द्वारा कागजों में इस कार्य को 4 फरवरी २०१७ को शुरू कर ४ फरवरी २०१८ के पूर्ण बताया गया है। जिसमें २५६० दिन का भुगतान मजदूरों को दिया बताया गया है। कागजों में बिल पेश कर कुल लागत 8 लाख 70 हजार में से मजदूरी के नाम 2 लाख 87 हजार 36 रूपए व ग्रेवल, क्रंकीट सामग्री के 4 लाख 87 हजार 870 हजार उठा लिए गए है। यानि कुल 7 लाख 74 हजार 906 रूपए का भुगतान उठाया गया है मगर धरातल पर यह मार्ग बदहाल स्थिति में पड़ा है ऐसे में ग्राम पंचायत द्वारा कागजों में ही फर्जीवाडा कर लाखों रूपए का भुगतान उठाकर राज्य सरकार को चूना लगाया है।

बोर्ड पर नहीं लिखते कार्य पूर्ण तिथि

ग्राम पंचायतों द्वारा करवाए जाने वाले निर्माण कार्यों में फर्जीवाडा कर अपना बचाव कर मामले को दबाने के लिए कार्य पूर्ण करने की तिथि बोर्ड पर अंकित नहीं करते है। ऐसे में आमजन की नजर में यह कार्य शुरू समझा जाता है। ग्राम पंचायत चाटवाडा में भी इस ग्रेवल कार्य को 4 फरवरी 2018 को पूर्ण कर लिया गया था मगर बोर्ड पर कार्य पूर्ण का कॉलम खाली छोड़ रखा है ताकि अपना बचाव हो सके।

इनका कहना है

वीर थान से मंगलाराम गरोडा के खेत तक जाने वाला मार्ग वर्तमान में बदहाल स्थिति में पड़ा है। इस मार्ग पर दो दर्जन ढाणियों का निवास है ऐसे में आवागमन में परेशानी हो रही है। - छोगाराम लौहार, पीराराम मेघवाल ग्रामीण चाटवाडा

ग्रेवल सड़क कार्य में फर्जीवाडे की जानकारी मुझे नहीं है। मामले की जांच की जाएगी अगर वास्तव में कही कुछ गडबड पाई जाती है तो संबंधित व्यक्तियों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। - हरिराम मीणा, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जालोर

इस मामले में मुझे कुछ नहीं कहना है। कार्य करवाने के लिए ग्रेवल डाला था मगर गांव के ही किसी व्यक्ति ने ग्रेवल कुछ जगह से उठा लिया था। - छोगाराम मेघवाल, सरपंच चाटवाडा

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhinmal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: फर्जीवाड़ा कर ग्रेवल सड़क का 7.74 लाख का भुगतान उठाया, मौके पर नहीं हुआ कार्य
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bhinmal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×