भीनमाल

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Bhinmal News
  • परिषद ने नियम विरुद्ध बने कॉम्पलेक्स और निजी अस्पताल समेत सभापति के मौसेरे भाई की बिल्डिंग को किया सीज 20 दिन पहले दिए थे नोटिस
--Advertisement--

परिषद ने नियम विरुद्ध बने कॉम्पलेक्स और निजी अस्पताल समेत सभापति के मौसेरे भाई की बिल्डिंग को किया सीज 20 दिन पहले दिए थे नोटिस

जालोर. वन-वे पर स्थित सभापति के मौसेरे भाई के भवन का भी नियम विरुद्ध निर्माण होने पर सीज करने की कार्रवाई की गई।...

Dainik Bhaskar

May 08, 2018, 02:15 AM IST
परिषद ने नियम विरुद्ध बने कॉम्पलेक्स और निजी अस्पताल समेत सभापति के मौसेरे भाई की बिल्डिंग को किया सीज 
 
 
 20 दिन पहले दिए थे नोटिस
जालोर. वन-वे पर स्थित सभापति के मौसेरे भाई के भवन का भी नियम विरुद्ध निर्माण होने पर सीज करने की कार्रवाई की गई।

बागोड़ा मार्ग पर नरपत कुमार की बिना इजाजत बनी बिल्डिंग पर लगाया ताला

भास्कर न्यूज. जालोर

शहर में जगह-जगह नियम विरुद्ध बन रही बिल्डिंग के खिलाफ आखिरकार सोमवार को नगर परिषद ने कार्यवाही करते हुए 5 बिल्डिंग को सीज किया। 20 दिन पूर्व नियम विरुद्ध बिल्डिंग बना रहे 12 मालिकों को नोटिस देकर तीन दिन में जबाव मांगा था, लेकिन जब जबाव नहीं दिया गया तो सोमवार को 5 के खिलाफ सीज की कार्यवाही की गई। आयुक्त शिकेस कांकरिया की मौजूदगी में हुई इस कार्यवाही में बिल्डिंग के मुख्य दरवाजों पर ताला लगाकर सील किया गया। किसी भवन में सेट बैक नहीं था तो कहीं आवासीय जमीन पर व्यवसायिक भवन बनाया गया है। कहीं इजाजत से ज्यादा ऊंचाई के भवन खड़े कर दिए हैं। नगर परिषद की इस कार्यवाही की सोमवार को शहर में चर्चा रही, लेकिन चर्चा यह भी रही कि परिषद इनके खिलाफ अब आगे की कार्यवाही कितनी सख्ती से करती है? कार्रवाई के दौरान आयुक्त समेत कार्यालय अधीक्षक मफाराम गर्ग, जेईएन हरीश गहलोत, तेजकरण, गणपतराम बिश्नोई, कल्पेश बालोत समेत नगरपरिषद के कार्मिक मौजूद थे।

अब आगे क्या?

सीज की गई इन बिल्डिंग की फाइलों को सीजर कमेटी में रखा जाएगा। इस कमेटी में आयुक्त, जेईएन व विधि सलाहकार शामिल है। बिल्डिंग मालिकों से शपथ पत्र अथवा अन्य आवश्यक खानापूर्ति कर सीजर खोलने की कार्यवाही करेंगे। इसके बाद भवन निर्माण कमेटी में फाइल जाएगी। जहां इन भवनों के इजाजत व निर्माण संबंधी रिपोर्ट बनाकर समझौता समिति में रखी जाएगी। जहां समझौता समिति इस पर जुर्माना अथवा बिल्डिंग तोड़ने तक का निर्णय ले सकती है।

आयुक्त बोले : नियमों के तहत कार्रवाई की जाएगी


कार्रवाई में विपक्ष भी पूरा सहयोग करेगा


वन-वे मार्ग दिलीप भंडारी की व्यवसायिक बिल्डिंग को डेढ़ साल में दूसरी बार किया सीज

सभापति के मौसेरे भाई प्रवीण कुमार की बिल्डिंग को किया सीज

शहर के वन-वे मार्ग पर आवासीय जमीन पर व्यवसायिक बिल्डिंग बनाने वाले प्रवीण कुमार पुत्र धन्नाराम माली की बिल्डिंग को सोमवार को सीज किया गया। आवासीय परमिशन लेकर व्यवसायिक बिल्डिंग बनाई गई है। इसे पूर्व में तत्कालीन आयुक्त सौरभ जिंदल के समय भी नोटिस दिए थे, लेकिन प्रवीण कुमार ने एक भी नोटिस का जबाव नहीं दिया। सभापति भंवरलाल माली का मौसेरा भाई होने के कारण प्रवीण कुमार बेखौफ होकर निर्माण करता रहा और अब दुकान तक लगा दी। सोमवार को इस बिल्डिंग को भी सीज किया गया।

निजी अस्पताल को इजाजत तीन मंजिला की, बना दी पांच मंजिला

शहर के भीनमाल मार्ग पर रोडवेज डिपो के पीछे निजी अस्पताल बनाया जा रहा है। जिसकी नगर परिषद से इजाजत तीन मंजिला ही ले रखी थी, लेकिन मालिक अनिल चांडक ने इस पांच मंजिला बिल्डिंग खड़ी कर दी। नगर परिषद ने गत दिनों अनिल चांडक जोधपुर को भी नोटिस दिया था तथा 3 दिन में जबाव मांगा था, लेकिन जबाव नहीं देने के बाद सामान को जब्त किया था। इसके बाद सोमवार को बिल्डिंग को सीज किया गया।

जालोर. निजी अस्पताल के लिए तैयार भवन को सीज करने की कार्रवाई करती नगरपरिषद की टीम।

वन वे मार्ग पर दिलीप भंडारी की बिल्डिंग का सेट बैक नहीं छोड़ा

जालोर. वन-वे पर नियविरुद्ध बने भवन को सीज करने पहुंची नगरपरिषद की टीम और मौके पर जमा हुई भीड़।

शहर के वन वे मार्ग पर दिलीप भंडारी ने व्यवसायिक कॉम्प्लेक्स का निर्माण कर रखा है। इसमें प्लान अनुसार निर्माण नहीं किया गया है। वहीं पार्किंग व सेट बैक भी नहीं छोड़ा गया है। जिसके कारण इसे सीज किया गया। गौरतलब है कि इस बिल्डिंग को जनवरी, 2017 में भी तत्कालीन आयुक्त त्रिकमदान चारण के समय भी सीज किया गया था। बाद में शपथ पत्र देकर यह बताया था कि वह नगर परिषद की ओर से दी गई इजाजत अनुरूप ही निर्माण करवाएगा, लेकिन इसके बाद भी इजाजत अनुसार निर्माण नहीं करवाया गया और बिल्डिंग को अब पूरा तैयार करवाकर बैंक को किराए तक दे दिया। शहर के मुख्य मार्ग पर होने के बावजूद इस जगह पर पार्किंग तक की व्यवस्था नहीं रखी है। गत दिनों परिषद ने दोबारा नोटिस दिया था।

जालोर. बागोड़ा मार्ग पर नियम विरुद्ध बने भवन को सीज करती नगरपरिषद की टीम।

बिना इजाजत नरपत कुमार माली ने खड़ी कर दी तीन मंजिला बिल्डिंग

शहर के बागोड़ा रोड स्थित गौरव पथ के पास नरपत कुमार माली ने बिना इजाजत तीन मंजिला बिल्डिंग खड़ी कर दी। इस संबंध में भास्कर ने खबर प्रकाशित की थी, जिसके बाद शिकायत होने पर नगर परिषद ने नोटिस जारी किया था। नरपत कुमार माली की ओर से नोटिस का जबाव तक नहीं दिया गया। जिसके बाद सोमवार को आयुक्त कांकरिया की टीम ने मौके पर जाकर बिल्डिंग को सीज किया।

जालोर. शिवाजी नगर स्थित नियम विरुद्ध ऊंचाई की बनाई गई बिल्डिंग को भी सीज किया गया।

शिवाजी नगर में इजाजत से ज्यादा ऊंची बनी बिल्डिंग को किया सीज

शहर के शिवाजी नगर में महेंद्रसिंह पुरोहित की ओर से इजाजत से अधिक ऊंची बिल्डिंग बनाई जा रही है। जिसे भी 16 अप्रैल को नोटिस देकर तीन दिन में जबाव मांगा गया था, लेकिन जबाव नहीं देने पर सोमवार को सीज करने की कार्यवाही की गई।

X
परिषद ने नियम विरुद्ध बने कॉम्पलेक्स और निजी अस्पताल समेत सभापति के मौसेरे भाई की बिल्डिंग को किया सीज 
 
 
 20 दिन पहले दिए थे नोटिस
Click to listen..