Hindi News »Rajasthan »Bhinmal» प्रधानाध्यापक का तबादला, ग्रामीणों ने स्कूल को ताला लगा डेढ़ घंटे रोका भीनमाल-दासपां मार्ग

प्रधानाध्यापक का तबादला, ग्रामीणों ने स्कूल को ताला लगा डेढ़ घंटे रोका भीनमाल-दासपां मार्ग

निकटवर्ती नरता के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक का तबादला रद्द करवाने के लिए दस दिनों से चल रहे...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 10, 2018, 02:20 AM IST

  • प्रधानाध्यापक का तबादला, ग्रामीणों ने स्कूल को ताला लगा डेढ़ घंटे रोका भीनमाल-दासपां मार्ग
    +1और स्लाइड देखें
    निकटवर्ती नरता के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक का तबादला रद्द करवाने के लिए दस दिनों से चल रहे विरोध के तहत 11वें दिन छात्र व ग्रामीणों ने विद्यालय के ताला जड़ भीनमाल-दासपां मार्ग को करीब डेढ़ घंटे तक अवरुद्ध किया। जिससे इस मार्ग से गुजरने वाले वाहनों को डायवर्ट करना पड़ा। राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय नरता में कार्यरत प्रधानाध्यापक तेजाराम विश्नोई का तबादला भरूड़ी विद्यालय में हो गया है। जिसके विरोध में नरता-कुशलापुरा के ग्रामीण पिछले दस दिनों से लगातार प्रदर्शन कर रहे है, लेकिन प्रशासन द्वारा सुनवाई नहीं होने पर सोमवार सुबह 9 बजे के करीब ग्रामीणों व छात्रों ने विद्यालय के ताला जड़ प्रदर्शन किया। दो घंटे बाद भी किसी के मौके पर नही पहुंचने पर नाराज ग्रामीण व छात्रों ने भीनमाल-दासपा मार्ग को कंटीली झाडिय़ों व पत्थरों से अवरुद्ध कर दिया। इससे इस मार्ग पर चलने वाहनों को नरता के अन्य कच्चे मार्ग से होकर डायवर्ट किया।

    स्कूल का वातावरण सुधरा, फिर भी स्थानांतरण कर दिया : नरता सरपंच खेदाराम चौधरी ने बताया कि नरता विद्यालय में कार्यरत प्रधानाध्यापक तेजाराम विश्नोई का तबादला भरूडी किए जाने से ग्रामीणों में रोष व्याप्त है। विश्नोई ने विद्यालय में बालिका नामांकन को बढ़ाने, विद्यालय अनुशासन बनाया था। ग्रामीण मकनाराम चौधरी व रमेश माली ने भी उनके स्थानांतरण का विरोध जताया है।

    पहले स्कूल के आगे प्रदर्शन, दो घंटे तक अधिकारी नहीं आए तो रोका मार्ग

    भीनमाल. नरता में प्रधानाध्यापक का तबादला रद्द करने की मांग को लेकर विद्यालय के सामने प्रदर्शन करते छात्र व ग्रामीण।

    तबादला रद्द करने को लेकर भीनमाल-दासपां मार्ग को किया अवरुद्ध।

    रोड़ जाम करने की सूचना मिली तो पहुंचा प्रशासन

    मार्ग अवरुद्ध होने की सूचना मिलने पर भीनमाल तहसीलदार शंकराराम गर्ग, पुलिस निरीक्षक कैलाशचंद्र मीणा ने मौके पर पहुंच ग्रामीणों से समझाइश की। हालांकि सवेरे सूचना मिलते ही पुलिस जाब्ता मौके पर पहुंच गया था। ग्रामीणों ने मौके पर पहुंचे तहसीलदार को ज्ञापन थमाया जिस पर तहसीलदार ने प्रधानाध्यापक का तबादला निरस्त करवाने का आश्वासन दिया। करीब डेढ़ घंटे तक अवरुद्ध रहे भीनमाल-दासपा मार्ग को समझाइश के बाद बहाल किया गया।

    उपखण्ड अधिकारी को सौंपा था ज्ञापन

    ग्रामीणों ने 2 जुलाई को तबादले के विरोध में उपखण्ड कार्यालय पर पहुंच प्रदर्शन कर उपखण्ड अधिकारी दौलतराम चौधरी को ज्ञापन भी सौंपा था। ग्रामीणों ने बताया कि प्रधानाध्यापक द्वारा विद्यालय का विकास, पौधरोपण, बालिका शिक्षा को बढ़ावा दिया गया है तथा बालिका सुरक्षा को लेकर हमेशा सतर्क रहते थे। ग्रामीणों ने बताया कि स्थानांतरण रद्द करवाने की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपे करीब 8 दिन गुजर गए मगर किसी तरह का सकारात्मक जवाब प्राप्त नहीं हुआ है ऐसे में उन्होंने मार्ग अवरुद्ध कर प्रशासन का ध्यान अवगत कराया है।

  • प्रधानाध्यापक का तबादला, ग्रामीणों ने स्कूल को ताला लगा डेढ़ घंटे रोका भीनमाल-दासपां मार्ग
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhinmal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×