Hindi News »Rajasthan »Bhinmal» नियम विरुद्ध बनी इमारतें, 12 में से 5 के खिलाफ कार्रवाई, अब बंद

नियम विरुद्ध बनी इमारतें, 12 में से 5 के खिलाफ कार्रवाई, अब बंद

परिषद के पीछे की तरफ ममता प|ी नरपत कुमार की ओर से नियमों के विरुद्ध निर्माण कार्य करवाया जा रहा है। आयुक्त चैंबर के...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 11, 2018, 02:25 AM IST

  • नियम विरुद्ध बनी इमारतें, 12 में से 5 के खिलाफ कार्रवाई, अब बंद
    +2और स्लाइड देखें
    परिषद के पीछे की तरफ ममता प|ी नरपत कुमार की ओर से नियमों के विरुद्ध निर्माण कार्य करवाया जा रहा है। आयुक्त चैंबर के पीछे की तरफ करवाए जा रहे इस कार्य को लेकर नोटिस दिया गया है, लेकिन इसके बावजूद वहां कार्य चल रहा है। आयुक्त से जब इस संबंध में पूछा तो उन्होंने भी स्वीकार किया कि कार्य चल रहा है। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही कार्यवाही करेंगे।

    शहर में कई स्थानों पर बन रही नियमविरुद्ध इमारतों पर कार्रवाई को लेकर नगरपरिषद मौन

    भास्कर न्यूज | जालोर

    शहर में जगह-जगह बन रही नियम विरुद्ध इमारतों के खिलाफ नगर परिषद की ओर से गत 7 मई को 5 मामलों में की गई कार्रवाई के बाद अब 4 दिन से शेष बची इमारतों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने से आयुक्त की कार्यवाही को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं।

    नोटिस का समय पूर्ण होने के बावजूद पिछले चार दिन से नियम विरुद्ध इमारतों के खिलाफ कार्यवाही नहीं होने के मामले में आयुक्त शिकेस कांकरिया की ओर से समय नहीं मिलने की बात कही गई है। जिस पर नेता प्रतिपक्ष मिश्रीमल गहलोत ने इसे गैर जिम्मेदाराना बयान बताते हुए कहा कि नियम विरुद्ध इमारतों के खिलाफ कार्रवाई जारी रखनी चाहिए। गौरतलब है कि नगर परिषद की ओर से शहर में जगह-जगह बन रही बिल्डिंग का निरीक्षण करने के बाद नियम विरुद्ध बन रही 12 बिल्डिंग मालिकों को करीब 25 दिन पहले नोटिस देकर तीन दिन में जबाव मांगे थे। इसके बाद गत 7 मई को कार्यवाही करते हुए पांच बिल्डिंग को सीज करने की कार्यवाही की थी तथा शेष 7 बिल्डिंग के खिलाफ निरंतर कार्यवाही शुरू रखने की बात कही गई थी।

    आयुक्त बोले- समय नहीं मिल रहा ताे नेता प्रतिपक्ष ने कहा- ये गैर जिम्मेदाराना बयान

    नगर परिषद के पीछे चल रहा कार्य, नहीं हो रही कार्रवाई

    4 दिन से कार्यवाही ठप

    गत 7 मई को वन वे मार्ग पर दिलीप भंडारी, भीनमाल मार्ग पर अनिल चांडक के निजी अस्पताल, वन वे मार्ग पर प्रवीण कुमार माली, शिवाजी नगर स्थित महेंद्र राजपुरोहित व गौरव पथ पर नरपत कुमार माली की बिल्डिंग को सीज करने की कार्यवाही की गई थी। इसके बाद शेष अन्य 7 के खिलाफ कार्यवाही करने की बजाय 4 दिन से कार्यवाही नहीं हो रही है।

    कियोस्क तोड़ने के समय भी कुछ ऐसा ही हुआ था

    नगर परिषद की ओर आवंटित विभिन्न जगहों पर कियोस्क को तत्कालीन आयुक्त त्रिकमदान चारण के समय तोड़ने की कार्यवाही करवाई गई थी। इस दौरान जैन बोर्डिंग के सामने, वीरमदेव चौक तथा अस्पताल चौराहा के पास के कियोस्क को विरोध के बावजूद तोड़ने की कार्यवाही की गई थी। इसी के साथ नया बस स्टैंड पर बने कियोस्क भी तोड़ने थे, लेकिन इन तीन जगह पर कियोस्क तोड़ने के बाद कार्यवाही ठंडे बस्ते में चली गई थी और इन कियोस्क को नहीं तोड़ा गया। इधर, इस कार्यवाही में भी यही सामने आ रहा है। 5 बिल्डिंग को सीज करने के बाद अब कार्यवाही नहीं की जा रही है। ऐसे में आयुक्त की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में आ रही है।

    आयुक्त बोले : समय नहीं मिल रहा

    आयुक्त शिकेस कांकरिया से जब इस संबंध में पूछा गया कि 5 बिल्डिंग के खिलाफ कार्यवाही के बाद शेष अन्य के खिलाफ कार्यवाही क्यों नहीं की जा रही है तो उनका कहना था कि उन्हें समय नहीं मिल रहा है। बैठक आदि कार्य होने के कारण कार्यवाही करने के लिए समय नहीं निकाल रहे हैं। शीघ्र ही शेष नियम विरुद्ध बिल्डिंग के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

    नेता प्रतिपक्ष का कहना : गैर जिम्मेदाराना बयान

    नेता प्रतिपक्ष मिश्रीमल गहलोत का कहना है कि जब नियम विरुद्ध बिल्डिंग के खिलाफ कार्यवाही करते हुए 5 को सीज किया गया था तो इस कार्यवाही को जारी रखनी चाहिए थी। समय नहीं मिलने का बयान गैर जिम्मेदाराना है। इस तरह कार्यवाही में देरी करना आयुक्त की कार्यशैली पर सवाल खड़े कर रही है। नियमों के तहत जो भी कार्यवाही हो रही है उसमें निष्पक्षता होनी चाहिए। बिना भेदभाव कार्यवाही करनी चाहिए। आयुक्त इन दिनों एक व्यक्ति विशेष के कहे अनुसार चल रहे हैं, जो गलत है।

    विपक्ष इसका विरोध करेगी।

  • नियम विरुद्ध बनी इमारतें, 12 में से 5 के खिलाफ कार्रवाई, अब बंद
    +2और स्लाइड देखें
  • नियम विरुद्ध बनी इमारतें, 12 में से 5 के खिलाफ कार्रवाई, अब बंद
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhinmal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×