• Hindi News
  • Rajasthan
  • Bhinmal
  • सांसद बैठे उपवास पर, समस्या समाधान के लिए धरना देने आए पार्षद को पुलिस ने भगाया
--Advertisement--

सांसद बैठे उपवास पर, समस्या समाधान के लिए धरना देने आए पार्षद को पुलिस ने भगाया

Bhinmal News - जालोर. धरना देने पहुंचे पार्षद को हाथ पकड़कर ले जाते डीएसपी। फोटो | भास्कर वक्ता बोले- इतिहास की पहली घटना, जब...

Dainik Bhaskar

Apr 13, 2018, 02:25 AM IST
सांसद बैठे उपवास पर, समस्या समाधान के लिए धरना देने आए पार्षद को पुलिस ने भगाया
जालोर. धरना देने पहुंचे पार्षद को हाथ पकड़कर ले जाते डीएसपी। फोटो | भास्कर

वक्ता बोले- इतिहास की पहली घटना, जब सत्ता सड़कों पर बैठी

उपवास पर बैठे सांसद देवजी एम पटेल ने संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस ने गरीब किसान की सुनवाई नहीं की। जिस कारण सत्ता उनके हाथों से चली गई। अब सरकार को संसद में काम नहीं करने देना चाहती है, उन्हें सद्‌बुद्धि देने की कामना के लिए उपवास किया गया है। पशुपालन बोर्ड उपाध्यक्ष भूपेन्द्र देवासी ने कहा कि पहला मौका है जब सत्ता को सड़कों पर बैठना पड़ा, क्योंकि, विपक्ष सदन में समय व धन बर्बाद कर रहा है। पूर्व मंत्री जोगेश्वर गर्ग ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा आपसी द्वेषता फैलाई है। उन्होंने कभी डॉ. अंबेडकर का सम्मान नहीं किया। अब भाजपा डॉ. अंबेडकर की जयंती मनाने जा रही है तो कांग्रेस दलितों को भड़का रही है। जिलाध्यक्ष रविन्द्रसिंह बालावत, आहोर विधायक शंकरसिंह राजपुरोहित, रानीवाड़ा विधायक नारायणसिंह देवल, जालोर विधायक अमृता मेघवाल, जिला प्रमुख डॉ. वन्नेसिंह गोहिल, उपप्रमुख गिरधरकवंर, किसान मोर्चा अध्यक्ष बजरंगसिंह राठौड़ ने भी संबोधित किया। उपवास के दौरान जिला महामंत्री हीराराम जाखड़, सायला प्रधान जबरसिंह, युवा मोर्चा अध्यक्ष हिंगलाजदान चारण, सायला सरपंच सुरेश राजपुरोहित, चितलवाना प्रधान हनुमानप्रसाद भादू, महिला मोर्चा अध्यक्ष सरजूबाला मत्तड, महेंद्रसिंह झाब समेत पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे।

वादे याद दिलाने बैठ रहा था धरने पर


पहले अनुमति नहीं ली


हास्यास्पद स्थिति


शहर की समस्याओं के समाधान के लिए धरने पर बैठना चाह रहा था पार्षद

दरअसल,वार्ड संख्या 29 का निर्दलीय पार्षद जितेन्द्र प्रजापत जालोर शहर में नर्मदा पानी की पूर्ण सप्लाई, अस्पताल व्यवस्था सुधारने, रेलवे ओवरब्रिज बनवाने, अतिवृष्टि में उजड़े आशियानों के परिवारों को मुआवजा दिलाने, शहर में सफाई व्यवस्था सुधारने की मांग को लेकर कलेक्ट्रेट परिसर के सामने वार्ड की महिलाओं और पुरुषों के साथ एक दिवसीय धरना देकर अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों का ध्यानाकर्षण करवाना चाह रहा था, लेकिन पुलिस व प्रशासन ने उसे धरना देने की अनुमति नहीं दी। उसके बाद पार्षद अपने समर्थकों के साथ कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचा तो डीएसपी नरेन्द्र कुमार दवे जाब्ता लेकर पहुंचे और उसे वहां से हटा दिया। उसके बाद पार्षद ने वार्ड की महिलाओं के साथ कलेक्टर को ज्ञापन देने का प्रयास किया। इसमें भी पुलिस ने एतराज करते हुए केवल दो महिलाओं को साथ जाने की अनुमति दी। इस पर कलेक्टर को पार्षद ज्ञापन देकर लौट गया।

भीनमाल विधायक बोले- गहलोत बहुत अच्छे हैं

कार्यक्रम में संबोधित करते हुए भीनमाल विधायक पूराराम चौधरी ने कहा कि वे लंबे समय से विधायक है और कई प्रकार के कार्य करवाए हैं। इस दौरान उन्होंने वरिष्ठ कांग्रेसी व पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तारीफ करते हुए कहा कि गहलोत बहुत अच्छे हैं, वे उनकी बुराई नहीं करना चाहते, लेकिन कांग्रेस अच्छी नहीं है।

उपवास और धरना तो विपक्ष का काम है


X
सांसद बैठे उपवास पर, समस्या समाधान के लिए धरना देने आए पार्षद को पुलिस ने भगाया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..