Home | Rajasthan | Bhinmal | दो दिन पहले ससुराल के लिए निकली महिला व उसकी दोनों पुत्रियों के शव भीनमाल के जाकोब तालाब में मिले

दो दिन पहले ससुराल के लिए निकली महिला व उसकी दोनों पुत्रियों के शव भीनमाल के जाकोब तालाब में मिले

भीनमाल. मृतका के मोबाइल व चप्पल की पहचान करता उसका पिता। मोबाइल, चप्पल व कपड़े बरामद

Bhaskar News Network| Last Modified - May 16, 2018, 02:25 AM IST

1 of
दो दिन पहले ससुराल के लिए निकली महिला व उसकी दोनों पुत्रियों के शव भीनमाल के जाकोब तालाब में मिले
भीनमाल. मृतका के मोबाइल व चप्पल की पहचान करता उसका पिता।

मोबाइल, चप्पल व कपड़े बरामद जाकोब तालाब के किनारे से मंगलवार दोपहर 3 बजे किसी व्यक्ति को एक थैली में कपड़े, चप्पल व स्विच ऑफ हालत में मोबाइल मिला। पुलिस ने मौके पर पहुंच मृतका पंखुदेवी के पिता से मोबाइल, कपड़े व चप्पल की पहचान करवाई तो तीनों चीज पंखुदेवी की ही थी।

ग्रामीणों व परिजनों ने उठाई मामले की जांच की मांग

भास्कर न्यूज | भीनमाल

पूनासा बस स्टैंड से गत 13 मई की शाम लापता हुई विवाहिता व उसकी 2 व 5 माह की बच्चियों के शव मंगलवार को भीनमाल के जाकोब तालाब में मिले। यह विवाहिता पूनासा से ससुराल जोगाऊ जाने के लिए पिता के साथ पहुंची थी। इधर, घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गई। मौके पर मौजूद लोगों ने इस मामले का खुलासा करने की मांग को लेकर शव उठाने से भी इनकार कर दिया, लेकिन बाद में पुलिस की ओर से पांच दिन में मामले का खुलासा करने का आश्वासन देने के बाद परिजन शव उठाने पर राजी हुए।

जानकारी के अनुसार जेरण निवासी सुजाराम भील की पुत्री पंखुदेवी (21) गत 13 मई को उसके पिता के साथ जोराऊ स्थित उसके ससुराल के लिए रवाना हुई थी। उसके पिता ने पंखुदेवी को उसकी दोनों पुत्रियों के साथ जोगाऊ जाने के लिए शाम 4 बजे पूनासा गांव के बस स्टैंड पर छोड़ दिया था। इसके बाद वह मौखातरा चला गया। पंखुदेवी बस स्टैंड पर बस के इंतजार में 2 घंटे तक खड़ी और काफी इंतजार के बाद भी जोगाऊ के लिए बस नहीं आई तो अहमदाबाद में रह रहे उसके पति को फोन कर किसी को लेने के लिए भेजने को कहा। इस पर उसका जेठ अशोक कुमार शाम करीब 6 बजे पूनासा बस स्टैंड पर पहुंचा तो वहां पर पंखुदेवी नहीं मिली। अशोक ने पंखु के पिता सुजाराम को फोन कर कहा कि पंखुदेवी पूनासा गांव के बस स्टैंड पर नहीं है। इसके बाद आसपास काफी तलाश की, लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। उसका मोबाइल भी स्विच ऑफ था। इसके बाद सोमवार को पंखु के जेठ अशोक कुमार पुत्र वीरमाराम भील ने स्थानीय थाने में पंखु की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। इधर, मंगलवार सवेरे तालाब में तीनों के शव तैरते दिखाई देने पर लोगों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर जमा लोगों ने इस मामले का राज नहीं खोलने तक शव उठाने से इनकार कर दिया। इस पर पुलिस ने 5 दिन में पंखुदेवी की मौत का राज खोलने का आश्वासन दिया। विधायक पूराराम चौधरी ने परिजनों से समझाइश की। इसके बाद 8 घंटे बाद पंखुदेवी व उसकी दोनों पुत्रियों के शव उठाए। इस दौरान एसडीएमदौलतराम चौधरी, डीएसपी धीमाराम विश्रोई व सीआई कैलाशचंद्र मीणा भी मौजूद रहे।

6 दिन पूर्व आई थी जेरण : मृतका के पिता सुजाराम ने बताया कि उसकी सास की मृत्यु होने पर 6 दिन पूर्व पंखुदेवी भी उसकी सास के साथ मौखातरा आई थी और वहां से अपनी मां व सास के साथ जेरण मिलने के लिए आई। पंखु की सास तो एक दिन रहकर चली गई थी और पंखुदेवी जेरण ही रक गई थी। ससुराल जाने के लिए उसको उसके पिता ने रविवार को पूनासा गांव के बस स्टैंड पर बस का समय होने के कारण छोड़ा था।

पांच वर्ष पूर्व हुई थी शादी : मृतका पंखुदेवी की शादी करीब 5 वर्ष पूर्व झाब थानांतर्गत जोगाऊ गांव के फौजाराम के साथ हुई थी। पंखुदेवी का पति अहमदाबाद में किसी स्टील फैक्ट्री में मजदूरी करता है, जबकि पंखु जोगाऊ गांव में ही अपनी सास के साथ रहती थी। उसके दो पुत्रियां जोसना (2) व एक पांच माह की बच्ची थी।

भीनमाल. हादसे को लेकर मौके पर जमा भील समाज के लोगों से समझाइश करते विधायक चौधरी व एसडीएम।

पंखु देवी की दोनों मृतक पुत्रियां।

तीनों की मौत पर उठ रहे हैं कई सवाल

पूनासा से जोगाऊ जाने के लिए 2 घंटे इंतजार के बाद पति को फोन कर किसी को लेने भेजने की बात कही थी, लेकिन जब उसका जेठ आया तो वह वहां नहीं थी? आखिर वह किसके साथ वहां से गई?

यदि वह बस या किसी सवारी वाहन में जाती तो कोई ना कोई उसे जरूर देखता, लेकिन उसे किसी ने नहीं देखा। यानि, किसी निजी वाहन में बैठकर गई होगी।

पूनासा से जोगाऊ जाने के बजाय वह भीनमाल कैसे पहुंची? भीनमाल का रास्ता जोगाऊ से अलग है। ऐसे में वह भीनमाल कैसे और क्यों आई?

यदि उसने आत्महत्या की है तो इसके पीछे की वजह क्या होगी? पति-प|ी में कलह जैसी बात सामने नहीं आ रही है, क्योंकि पति बाहर नौकरी करता है।

यदि आत्महत्या की है तो तालाब की तरफ आते हुए किसी ने तो उसे देखा होगा?

भीनमाल. मृतका पंखुदेवी भील।

दो दिन पहले ससुराल के लिए निकली महिला व उसकी दोनों पुत्रियों के शव भीनमाल के जाकोब तालाब में मिले
दो दिन पहले ससुराल के लिए निकली महिला व उसकी दोनों पुत्रियों के शव भीनमाल के जाकोब तालाब में मिले
दो दिन पहले ससुराल के लिए निकली महिला व उसकी दोनों पुत्रियों के शव भीनमाल के जाकोब तालाब में मिले
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now