Hindi News »Rajasthan »Bhinmal» कैश लेनदेन के लिए बैंक में करना पड़ता है घंटों इंतजार

कैश लेनदेन के लिए बैंक में करना पड़ता है घंटों इंतजार

भारतीय स्टेट बैंक की खारी रोड स्थित शाखा में नकदी जमा करवानी हो अथवा बड़ी राशि आहरित करनी हो तो व्यक्ति को दस बार...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 05, 2018, 02:30 AM IST

कैश लेनदेन के लिए बैंक में करना पड़ता है घंटों इंतजार
भारतीय स्टेट बैंक की खारी रोड स्थित शाखा में नकदी जमा करवानी हो अथवा बड़ी राशि आहरित करनी हो तो व्यक्ति को दस बार सोचना पड़ता है। कारण कि ग्राहकों की लबी फेहरिस्त के चलते लाईन में घंटों इंतजार करने के बाद ही उसका नंबर लग पाता है। इसका मुख्य कारण है शाखा में स्टाफ की कमी है। स्टेट बैंक की यह मुख्य शाखा पिछले काफी समय से कर्मचारियों के अभाव की परेशानी से जूंझ रही है। इस शाखा में ३० हजार से अधिक खाताधारक होने की वजह से हमेशा बैंक में भीड़-भाड़ लगी रहती है। रोजाना आसपास के ग्रामीणों सहित करीब पांच सौ लोग इस बैंक में लेन-देन के लिए आते हैं। चेस्ट ब्रांच होने के नाते यहां काम भी अधिक है।

शहर की सभी छोटी बैंकों, शराब के ठेकेदारों एवं व्यापारियों का कैश एवं चालान यहां जमा होते हैं। नकदी को गिनने, उनकी जांच करने में भी काफी समय लग जाता है। सरकारी विभागों जैसे दूर संचार निगम, बिजली विभाग, जलदाय विभाग आदि में भी बिलों के भुगतान से जो राशि प्राप्त होती है वे भी इसी शाखा में जमा के लिए लाई जाती है। एक विभाग की राशि लाखों में होती है, ऐसे में इतनी अधिक राशि को चैक कर गिनने में लगने वाले समय के कारण नकद काउंटर पर अपनी बारी का इंतजार करने वालों की कतार बढ़ती ही रहती है।

उपभोक्ता है परेशान

कैश लेन-देन के लिए हमें इस बैंक में परेशानी हो रही है। घंटों तक लाइन में लगने के बाद ही हमारा नंबर आ पाता है। इस बैंक में आने से पूर्व सोचना पड़ता है क्योंकि लेन-देन में आधा दिन भी लग जाता है। - दिनेश राजपुरोहित, बैंक उपभोक्ता

बैंक में वर्तमान में ९ स्टाफ है जिसमें ४ अधिकारी, 2 कैशियर, 3 लिपिक कार्यरत है। फिलहाल दो स्टाफ अवकाश पर चल रहे हैं इस वजह से परेशानी जरूर हो रही है। -अभिनव रंजन, शाखा प्रबंधक

अनदेखी

भारतीय स्टेट बैंक की खारी रोड पर चेस्ट ब्रांच होने के कारण सभी विभाग यहां जमा करवाते हैं नकदी

भीनमाल. लेनदेन के लिए लगी उपभोक्ताओं की कतार।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhinmal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×