--Advertisement--

गोचर भूमि पर प्रभावशाली लोग कर रहे अतिक्रमण

भीनमाल. गोचर भूमि पर हो रहा पक्का निर्माण। भास्कर न्यूज | भीनमाल ग्राम पंचायत खानपुर के अधीन आने वाले भादरड़ा...

Danik Bhaskar | Jun 22, 2018, 02:30 AM IST
भीनमाल. गोचर भूमि पर हो रहा पक्का निर्माण।

भास्कर न्यूज | भीनमाल

ग्राम पंचायत खानपुर के अधीन आने वाले भादरड़ा गांव में गोचर भूमि पर प्रभावशाली लोग अतिक्रमण कर पक्का निर्माण करवा रहे हैं। गोचर भूमि पर अतिक्रमण की ग्राम पंचायत, राजस्व विभाग के उच्चाधिकारियों को शिकायत कर कार्रवाई की मांग की, लेकिन प्रशासन के ढीले रवैए के कारण आज दिन तक अतिक्रमण नहीं हटा है। उल्लेखनीय है कि भादरडा में पंचायत क्षेत्र में स्थित गोचर भूमि पर जो पशुओं के लिए चारागाह है। यहां पर वर्षों से गांव के ही प्रभावशाली लोगों ने मिलकर जगह-जगह पशुओं के लिए बाड़े बना रखे थे जिसकी अब चारदीवारी बनाकर उसमें पक्का मकान तक बना रहे हैं। इसको लेकर हाल ही में पटवारी द्वारा अतिक्रमण को रूकवाया गया था लेकिन कुछ दिन कार्य बंद रहने के बाद अब वापस शुरू कर देते हैं। गांव में अतिक्रमण की वजह से पशुओं के लिए गोचर भूमि पर चराई के लिए कम ही भूमि बची है। पशुपालकों ने चारागाह भूमि पर बढ़ते अतिक्रमण को लेकर कई बार शिकायतें की, लेकिन जिम्मेदारों के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही है। प्रशासन की उदासीनता के कारण अतिक्रमियों में कार्रवाई का कोई भय नहीं है।

इस तरह होता है अतिक्रमण : गोचर भूमि पर अतिक्रमण करने का मामला सिर्फ भादरडा गांव का ही नहीं है अपितु भीनमाल पंचायत समिति की ऐसी कई ग्राम पंचायतें है जिनमें गोचर भूमि पर गांव के प्रभावशाली लोगों द्वारा अतिक्रमण जमा रखा है। यह लोग सर्वप्रथम गोचर भूमि पर कच्ची बाड़ बनाकर पशुओं को रखते है फिर धीरे-धीरे बाड़ को पक्की चार दीवारी में बदल देते है। चार दीवारी बनने के बाद इसमें मकान, पशु बाडा, कारखाना तक बना देते है।

गोचर भूमि पंचायत की धरोहर : सुप्रीम कोर्ट का सख्त निर्देश है कि गोचर (चारागाह) भूमि पर कब्जे नहीं कर सकते हैं अगर पूर्व में कब्जे किए गए है तो उन्हें राजस्व विभाग को शीघ्र हटाने की कार्रवाई के आदेश दे रखे हैं। चारागाह पंचायत की धरोहर है, जो पशुओं की चराई के लिए होती है लेकिन अब चारागाह की भूमि पर ही अतिक्रमियों की नजरें टिकी हैं। दिनोंदिन हो रहे अवैध रूप से कब्जे किए जा रहे हैं। इस संबंध में प्रशासन ने आज दिन तक कोई कार्रवाई नहीं की।

हटाए जाएंगे अतिक्रमण


पूर्व में भी की थी कार्रवाई