• Hindi News
  • Rajasthan
  • Bhinmal
  • भीनमाल में गरीबों के लिए बनने थे 84 आवास, दो वर्ष से अधूरे पड़े
--Advertisement--

भीनमाल में गरीबों के लिए बनने थे 84 आवास, दो वर्ष से अधूरे पड़े

भीनमाल। महाराणा प्रताप कॉलोनी में अधूरा पड़ा मकानों का कार्य। भीनमाल में महाराणा प्रताप कॉलोनी में 2 करोड़ 44 लाख...

Dainik Bhaskar

Jul 06, 2018, 02:30 AM IST
भीनमाल में गरीबों के लिए बनने थे 84 आवास, दो वर्ष से अधूरे पड़े
भीनमाल। महाराणा प्रताप कॉलोनी में अधूरा पड़ा मकानों का कार्य।

भीनमाल में महाराणा प्रताप कॉलोनी में 2 करोड़ 44 लाख की लागत से बनने थे 84 आवास

भास्कर न्यूज | भीनमाल

स्थानीय राजकीय महाविद्यालय के पीछे स्थित महाराणा प्रताप कॉलोनी में गरीबों को पक्के मकान नसीब हो, इस उद्देश्य से एकीकृत आवास झोपड़पट्टी विकास योजना (आईएसएचडीपी) के तहत 7 वर्ष पूर्व मकान बनाए गए थे, लेकिन इनका कार्य ठेकेदार द्वारा बीच में ही छोड़ देने के कारण यह निर्माण कार्य अधूरा पड़ा है। पालिका प्रशासन की उदासीनता के कारण पुन: टेंडर प्रक्रिया नहीं की गई। ऐसे में कच्ची बस्ती में रहने वाले चयनित परिवारों को पक्की छत नसीब होने में समय लग रहा हैं। करीब दो साल से कार्य बंद रहने से अब यहां बबूल की झाडिय़ां उग गई है। नगरपालिका प्रशासन का कहना है कि स्टाफ की कमी के कारण कार्य में देरी हो रही है।

सात वर्ष पूर्व शुरू हुआ था कार्य : आईएसएचडीपी योजना के तहत 84 गरीब परिवारों को मकान मुहैया करवाने के लिए महाराणा प्रताप कॉलोनी में 2 करोड़ 44 लाख की लागत से सात वर्ष पूर्व में कार्य शुरू हुआ था। 2016 तक कार्य पूर्ण होकर सरकार की ओर से गरीबों को आशियाना मुहैया करवाना था। लेकिन इस कार्य का ठेकेदार कार्य को बीच में ही छोड़ कर चला गया। इससे यहां करीब बीस प्रतिशत कार्य अधूरा रह गया है। काफी समय से कार्य बंद पड़ा होने से परिसर में बबूल की झाडिय़ां उग आई है।

X
भीनमाल में गरीबों के लिए बनने थे 84 आवास, दो वर्ष से अधूरे पड़े
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..