--Advertisement--

तृतीय राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन 14 जुलाई को

तृतीय राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन 14 जुलाई को जालोर | राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण एवं राजस्थान राज्य...

Danik Bhaskar | Jul 11, 2018, 02:30 AM IST
तृतीय राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन 14 जुलाई को

जालोर |
राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण एवं राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार जिला मुख्यालय जालोर सहित भीनमाल, सांचौर व रानीवाड़ा तालुका मुख्यालयों पर प्रत्येक न्यायालय में वर्ष 2018 की तृतीय राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन शनिवार 14 जुलाई को किया जाएगा। पूर्णकालिक सचिव पवन कुमार काला ने बताया कि लोक अदालत में न्यायालयों में लंबित समस्त दीवानी, राजस्व मामले, राजीनामा योग्य फौजदारी मामले, चैक अनादरण के मामले, मोटरवाहन दुर्घटना क्लेम के मामले, वैवाहिक विवाद, बैंक वसूली के मामले तथा बैंकों के ऋण वसूली संबंधी प्रिलिटिगेशन के मामलों की सुनवाई की जाकर पक्षकारों के राजीनामा के आधार पर मामलों का निपटारा किया जाएगा। जिस न्यायालय में पक्षकार का मामला लंबित है, उसी न्यायालय में लोक अदालत की पीठ बैठेगी। प्रिलिटिगेशन के मामलों के लिए एडीआर भवन में लोक अदालत लगेगी।

ये हैं लोक अदालत के फायदे

पक्षकरों के आपसी समझौते व राजीनामा के आधार पर फैसला होता है।इसलिए दोनों पक्षों की जीत होती है। आपसी संबंध मधुर बने रहते हैं। निर्णय जिसे पंचाट कहते हैं, अंतिम होता है, कोई अपील नहीं होती है। कोर्ट फीस वापस मिल जाती है। शीघ्र, सस्ता व सुलभ न्याय मिलता है।