Hindi News »Rajasthan »Bhinmal» सुथार समाज की सकारात्मक पहल, हमेली पट्टी ने मृत्युभोज किया बंद

सुथार समाज की सकारात्मक पहल, हमेली पट्टी ने मृत्युभोज किया बंद

स्थानीय खारी रोड स्थित विश्वकर्मा मंदिर का वार्षिकोत्सव मंदिर शिखर पर ध्वजारोहण कर मनाया गया। इस अवसर पर सुथार...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 20, 2018, 02:35 AM IST

  • सुथार समाज की सकारात्मक पहल, हमेली पट्टी ने मृत्युभोज किया बंद
    +1और स्लाइड देखें
    स्थानीय खारी रोड स्थित विश्वकर्मा मंदिर का वार्षिकोत्सव मंदिर शिखर पर ध्वजारोहण कर मनाया गया। इस अवसर पर सुथार समाज हमेली पट्टी द्वारा समाज में अफीम व मृत्युभोज पूर्ण रूप से बंद करने का निर्णय लिया गया। बैठक में सर्वसम्मति से सकारात्मक पहल करते हुए समाजहित में लिए निर्णय का सभी ने गर्मजोशी से स्वागत किया। समाजबंधुओं का कहना है कि एक तो संतप्त परिवार के घर माहौल गमजदा होता है वही दूसरे ओर मृत्युभोज देना अच्छी बात नहीं है। मृत्युभोज से समाज के लोगों पर अनावश्यक बोझ भी रहता है। इसी तरह शरीर के लिए नशा करना सबसे हानिकारक है ऐसे में अफीम का सेवन करने से भी शरीर को नुकसान पहुंचता है इस वजह से समाज ने अच्छी पहल करते हुए अफीम मनुहार पर भी पूर्णरूप से पाबंदी लगाई है। समाज द्वारा लिया गया उक्त निर्णय आने वाली पीढ़ी के लिए कल्याणकारी होगा और युवा वर्ग की सोच बदलने के साथ-साथ उन्हें आर्थिक परिस्थितियों में भी मददगार साबित होगा। इस अवसर पर भीनमाल सहित आसपास के गांव से हमेली पट्टी के भारी संख्या में समाजबंधु उपस्थित रहे।

    बैठक में सर्वसम्मति से सकारात्मक पहल करते हुए समाज हित में लिए निर्णय का सभी ने गर्मजोशी से स्वागत किया, समाजबंधुओं से किया सहयोग का आह्वान

    भीनमाल. विश्वकर्मा मंदिर शिखर पर ध्वजारोहण करते हुए समाजबंधु।

    विवाह समारोह में भी अफीम पर रहेगी पाबंदी

    विश्वकर्मा मंदिर वार्षिकोत्सव पर आयोजित बैठक में समाजबंधुओं द्वारा कई निर्णय लिए गए जिसमें मृत्युभोज, अफीम, डोडा का सेवन पूर्ण रूप से बंद करने व शोक के समय दी जाने वाली ओढोमणी पर भी पाबंदी लगाई गई है। इसी तरह विवाह समारोह में भी अफीम पर पाबंदी लगाई गई। समाजबंधुओं को मृत्युभोज व अफीम मनुहार का बहिष्कार करने के लिए जागरूक किया जा रहा है। सुथार समाज द्वारा इससे पूर्व राठौड़ पट्टी व चौहान पट्टी द्वारा भी मृत्युभोज बंद किया जा चुका है।

    आहोर में भोमिया राजपूत समाज ने मृत्युभोज पर लगाई पाबंदी, नशामुक्ति का संकल्प भी लिया

    छोगसिंह खीची बने भोमिया राजपूत समाज ब्लॉक अध्यक्ष

    आहोर | भोमिया राजपूत समाज ब्लॉक आहोर की मंगलवार को बैठक हुई। बैठक में आहोर ब्लॉक की नवीन कार्यकारिणी का गठन किया गया। जिसमें कंवला के छोगसिंह खीची को आहोर ब्लॉक अध्यक्ष बनाया गया। इसी प्रकार मोहनसिंह दहिया को वरिष्ठ उपाध्यक्ष, किशोरसिंह अजीतपुरा, भंवरसिंह पादरली व छगनसिंह नोसरा को उपाध्यक्ष, जबरसिंह दयालपुरा को कोषाध्यक्ष, पदमसिंह नोसरा को सचिव, जबरसिंह आईपुरा को महामंत्री, सुखसिंह बाला, जबरसिंह चांदराई व वेरीशालसिंह को मंत्री बनाया गया। इसी प्रकार भंवरसिंह हरियाली, राणसिंह आहोर, सुखसिंह गुड़ारामा, मांगूसिंह कांबा, परकसिंह गोलिया, नींबसिंह तरवाड़ा, भंवरसिंह कंवला, अचलसिंह, छतरसिंह, जोगसिंह बागूंदा, रणजीतसिंह बांकली, नैनसिंह भंवरानी, रघुवीरसिंह खंडप व कालूसिंह भंवरानी को सदस्य बनाया गया। बैठक में जिलाध्यक्ष वरदसिंह पांथेड़ी, ऊमसिंह चांदराई, आमसिंह परिहार समेत समाजबंधु मौजूद रहे। बैठक के दौरान समाजबंधुओं ने मृत्युभोज पर पाबंदी लगाने का निर्णय किया। साथ ही समाज को नशामुक्त बनाने का संकल्प लिया। इसी प्रकार समाज में बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सामाजिक गतिविधियों पर चर्चा की गई।

    अध्यक्ष का स्वागत करते समाजबंधु।

  • सुथार समाज की सकारात्मक पहल, हमेली पट्टी ने मृत्युभोज किया बंद
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhinmal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×