• Hindi News
  • Rajasthan
  • Bhinmal
  • रोजाना 40 ट्रेनों का संचालन देख बनाया ओवरब्रिज, फिर भी सैकड़ों लोग जान जोखिम में डाल करते हैं पटरी पार
--Advertisement--

रोजाना 40 ट्रेनों का संचालन देख बनाया ओवरब्रिज, फिर भी सैकड़ों लोग जान जोखिम में डाल करते हैं पटरी पार

कृषि मंडी रोड से जसवंतपुरा बस स्टैंड जाने के लिए रेलवे द्वारा बाकायदा फुट ओवरब्रिज बना रखा है इसके बावजूद भी हालात...

Dainik Bhaskar

Jun 23, 2018, 02:35 AM IST
रोजाना 40 ट्रेनों का संचालन देख बनाया ओवरब्रिज, फिर भी सैकड़ों लोग जान जोखिम में डाल करते हैं पटरी पार
कृषि मंडी रोड से जसवंतपुरा बस स्टैंड जाने के लिए रेलवे द्वारा बाकायदा फुट ओवरब्रिज बना रखा है इसके बावजूद भी हालात यह है कि लोग ओवरब्रिज का उपयोग करने के बजाय जान जोखिम में डालकर पटरियां पार कर रहे हैं। रेलवे पुलिस द्वारा कार्रवाई न किए जाने से यात्री बिना किसी डर के पटरी पार करते नजर आ जाते हैं। यहां हर आधे घंटे में रेल गुजरती है। इससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। लोग छोटे-छोटे बच्चों को लेकर भी पटरियां पार करते नजर आ जाते हैं। दरअसल, रेलवे स्टेशन के पीछे की तरफ जसवंतपुरा बस स्टैंड स्थित है तथा यहां से रोजाना बस व टैक्सी के माध्यम से दर्जनों गांवों के यात्री आवागमन करते है। जसवंतपुरा बस स्टैंड से शहर की तरफ आने के लिए रेलवे प्रशासन ने बाकायदा फुट ओवरब्रिज बना रखा है, लेकिन लोग सीधे ही प्लेटफार्म फार्म पर चढ़कर पटरी पार करते हुए शहर पहुंचते है। रेलवे के नियमों का उल्लंघन करते ऐसा नजारा रोजाना देखने को मिल जाता है।

रेलवे पुलिस द्वारा कार्रवाई नहीं किए जाने से यात्री बिना किसी डर के पटरी पार करते हैं

भीनमाल। जसवंतपुरा बस स्टैंड की तरफ आने-जाने के लिए पटरियां पार करते लोग।

भारी पड़ सकती है जल्दबाजी

कृषि मंडी रोड से प्लेटफार्म से होते हुए जसवंतपुरा बस स्टैंड की तरफ आने-जाने वाले लोग रोजाना इन पटरियों को पार करते है। जसवंतपुरा बस स्टैंड से पावली, गजीपुरा, कोडिटा, मणधर, कारलू, पहाड़पुरा, राजीकावास सहित दर्जनों गांवों के ग्रामीण रोजाना आवागमन करते है। वे बस स्टैंड से उतरकर सीधे ही फुट ओवरब्रिज की तरफ न जाकर पटरियां पार कर ही शहर में आते व जाते है जबकि समदड़ी-भीलड़ी ट्रैक पर रोजाना 35-40 ट्रेनों का संचालन हो रहा है। जल्दबाजी के चक्कर में कई बार रामसीन रोड व जसवंतपुरा रेलवे फाटक पर लोग अपनी जान जोखिम में डालकर दोनों फाटकों से आवागमन करते है।

20 लोगों से वसूला है जुर्माना

रेलवे पुलिस के मुताबिक पटरियां पार करने वाले लोगों से रेलवे एक्ट 147 के तहत 20 लोगों से जुर्माना वसूला गया है। हालांकि यह आंकड़ा पिछले दो वर्ष की अवधि का है। रेलवे पुलिस ने हाल ही 5-6 महीनों में किसी से भी जुर्माना नहीं वसूला है।

एक करोड़ से बना है फुट ओवरब्रिज

भीलड़ी-समदड़ी आमान परिर्वतन के दौरान भीनमाल से जसवंतपुरा जाने वाले मार्ग पर स्थित रेलवे फाटक को बंद कर दिया था। इस कारण जसवंतपुरा मार्ग पर बसी कॉलोनी के बाशिंदों व जसवंतपुरा बस स्टैंड जाने वाले यात्रियों को पैदल आवागमन में खासी असुविधा हो रही थी। आमान परिवर्तन के दौरान स्थानीय रेलवे स्टेशन पर दोनों तरफ प्लेटफॉर्म की वजह से यात्रियों को दूसरे प्लेटफॉर्म पर जाने के लिए भी पैदल ही पटरियों को क्रॉस करना पड़ता था।

ये भी जानना है जरूरी

छह माह का कारावास या जुर्माने का है नियम

पटरी पार करने वाले लोगों पर रेलवे एक्ट की धारा 147 में कार्रवाई का प्रावधान है कि अगर कोई व्यक्ति बिना किसी उचित प्राधिकार के रेल क्षेत्र में प्रवेश करता या पटरी पार करता है तो ऐसी स्थिति में उस व्यक्ति को छह माह तक का कारावास अथवा एक हजार रुपए का दंड अथवा दोनों से ही दंडित किया जा सकता है।

नहीं बनता कोई क्लेम

अगर कोई व्यक्ति एक जगह से दूसरी जगह पर जाने के लिए रेलवे नियमों को तोड़कर पटरी पार करता है और अगर उस दौरान कोई हादसा हो जाता है तो रेलवे द्वारा कोई क्लेम देने का प्रावधान नहीं है। रेलवे में सिर्फ टिकट धारी यात्री को ही क्लेम दिया जाता है।

यात्रियों से करते है समझाइश


X
रोजाना 40 ट्रेनों का संचालन देख बनाया ओवरब्रिज, फिर भी सैकड़ों लोग जान जोखिम में डाल करते हैं पटरी पार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..