Hindi News »Rajasthan »Bhinmal» तालाब को स्वर्णिम रूप देने पर भामाशाहों का सम्मान

तालाब को स्वर्णिम रूप देने पर भामाशाहों का सम्मान

जाकोब तालाब स्थित नीमगोरिया खेतलाजी मंदिर के द्वितीय वार्षिकोत्सव के उपलक्ष्य में रविवार को भामाशाहों का...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 09, 2018, 02:40 AM IST

जाकोब तालाब स्थित नीमगोरिया खेतलाजी मंदिर के द्वितीय वार्षिकोत्सव के उपलक्ष्य में रविवार को भामाशाहों का सम्मान समारोह आयोजित किया गया। इस दौरान भामाशाह नाहर एवं कोठारी का नीम गोरिया ट्रस्ट व नगरवासियों की ओर से सम्मान किया गया। समारोह की शुरूआत अतिथियों की ओर से दीप प्रज्वलन के साथ हुई। जाकोब तालाब को स्वर्णिम रूप देने वाले अग्रणी भामाशाह सुखराज नाहर व पृथ्वीराज कोठारी का सामैया कर स्वागत किया गया। दोनों भामाशाहों को ट्रस्ट की ओर से दानवीर भामाशाह र|भूषण अलंकार से सम्मानित किया गया। इसके पश्चात उद्यान परिसर में स्थित दोनों भामाशाहों की माता शांतिदेवी नाहर व बदामी देवी कोठारी के स्मारक का अनावरण किया गया। इसके साथ ही मंदिर के सामने कोठारी परिवार की ओर से निर्मित यज्ञशाला का नारियल चढ़ाकर मुहूर्त किया गया। कार्यक्रम का संचालन घनश्याम व्यास ने किया।

नीमगोरिया खेतलाजी मंदिर का द्वितीय वार्षिकोत्सव, जाकोब तालाब के कायाकलप की प्रशंसा की

भीनमाल. भामाशाहों का सम्मान करते शहरवासी व उपस्थित नागरिक।

फिर सहयोग देंगे भामाशाह

भामाशाह सम्मान समारोह के दौरान दोनों भामाशाहों ने फिर सहयोग देने की बात कहीं। उन्होंने कहा कि जाकोब तालाब में खेतलाजी मंदिर से दादेली को पुल से जोड़ने, तालाब में नाले के जरिए आ रह मौहल्लों का गंदा पानी रोकने, फ्लाईओवर पर निर्माण कार्य के लिए सहयोग देने की बात कही। ट्रस्ट अध्यक्ष जीएम परमार ने कहा कि ट्रस्ट जाकोब तालाब के सौंदर्यीकरण व मंदिर प्रांगण में विकास कार्यों के लिए हमेशा प्रयासरत है। इस अवसर पर विधायक पूराराम चौधरी, पालिकाध्यक्ष सांवलाराम देवासी, प्रेमाराम, श्याम खेतावत, चंपालाल शर्मा, कालूराम माली, मोतीलाल सोलंकी, शेखर व्यास, पूर्व पालिकाध्यक्ष सुरेश बोहरा, प्रेमराज बोहरा, अशोक सेठ, भरतसिंह भोजाणी, हकसिंह राव, सुरेश सोनी, कपूर जीनगर, दिनेश नवीन, विजयसिंह राव, सालुराम देवासी आदि उपस्थित रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhinmal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×