भीनमाल

--Advertisement--

जालोर शहर की 47 साइट की एक साथ 8 लाख में नीलामी

पांच जगह पर एलईडी लगाने के परिषद को मिले तीन लाख भास्कर न्यूज | जालोर शहर में प्रचार-प्रसार के लिए होर्डिंग्स व...

Dainik Bhaskar

Apr 25, 2018, 03:50 AM IST
पांच जगह पर एलईडी लगाने के परिषद को मिले तीन लाख

भास्कर न्यूज | जालोर

शहर में प्रचार-प्रसार के लिए होर्डिंग्स व एलईडी लगाने के लिए नगरपरिषद ने मंगलवार को नीलामी प्रक्रिया पूरी की। इस प्रक्रिया में परिषद को 11 लाख रुपए की आय हुई है। नीलामी प्रक्रिया में इस बार कुछ संशोधन भी किया गया है। जहां बीते वर्ष शहर में प्रचार के लिए होर्डिंग्स लगाने के लिए कुल 47 साइट्स को पांच भागों में बांटा हुआ था, वहीं इस बार मिलाकर सभी को एक भाग कर दिया। जिस कारण इस वर्ष अलग-अलग नहीं कर पूरे शहर में होर्डिंग्स का टेंडर एक ही कंपनी को मिल गया है। साथ ही इस बार विजुअल प्रचार की पांच साइट भी नीलाम की गई है।

आय नहीं हुई तो किया संशोधन : दरअसल, होर्डिंग्स लगाने के लिए शहर में कुल 47 साइट्स निर्धारित किए हुए हैं। बीते वर्ष तक इन सभी को पांच भागों में बांटा हुआ था, लेकिन बीते वर्ष केवल एक साइट सूरजपोल से लेकर रेलवे स्टेशन तक का ही टैंडर हो पाया था। शेष साइट्स के लिए कोई निविदा लगाने को तैयार नहीं हुआ। जिससे नगरपरिषद को आय भी कम हुई। इस कारण परिषद ने सभी साइड की साइट्स को मिलाकर एक कर दिया और एक ही कंपनी को टेंडर कर दिया। परिषद को इससे आठ लाख रुपए की आय प्राप्त हुई।

पांच सरकारी यूनिक पोल : शहर में नगरपरिषद के बाहर, रेलवे क्रॉसिंग, रेलवे स्टेशन के पास, चूंगी नाका, राजेन्द्र नगर में पांच स्थानों पर सरकारी यूनिक पोल लगाए हुए हैं। इन पर केवल सरकारी होर्डिंग्स ही लगाए जा सकेंगे।

ठेकेदारों ने लगाया मनमानी का आरोप : हालांकि, इससे जुड़े ठेकेदारों का कहना था कि अलग-अलग साइड रखकर टेंडर किए जाते तो परिषद को इससे भी बड़ी आय प्राप्त होती। ठेकेदारों ने परिषद पर मनमानी रवैया अपनाने का भी आरोप लगाया। संवेदकों ने बताया कि अस्पताल चौराहा से लेकर रेलवे स्टेशन तक दस साइट्स है। प्रति साइट पर प्रतिमाह होर्डिंग्स लगाने के लिए करीब पंद्रह हजार रुपए तक का किराया वसूल किया जाता है।

ऐसे में परिषद को कई संवेदकों को शामिल करना था। ताकि, परिषद को अधिक आय प्राप्त होती।

इन पांचों साइट को मिलाकर एक किया

शहर में होर्डिंग्स प्रचार के लिए सूरजपोल से रेलवे स्टेशन तक दस साइट्स, आहोर चौराहे से कॉलेज चौराहे तक, हॉस्पिटल चौराहे से बागोड़ा रोड तक, सूरजपोल से भीनमाल बायपास, तिलकद्वार चौराहा निर्धारित स्थान है। कुल 47 स्थान हैं, जिन्हें कंपनी को एक साल के लिए नीलाम किया गया है। इन 47 स्थानों पर प्रचार के लिए होर्डिंग्स लगाए जा सकेंगे। इनके अलावा कोई भी बड़े होर्डिंग्स लगाए पाए गए तो अवैध माने जाएंगे।

शहर में 5 स्थानों पर लगेगी एलईडी

परिषद ने एलईडी लगाने के लिए भी पांच स्थान नीलाम किए हैं। शहर में विभिन्न प्रमुख चौराहों व स्थानों पर कंपनी की ओर से एलईडी लगाने के लिए तीन लाख रुपए के टेंडर हुए हैं। वहीं तिलकद्वार से गिटको होटल तक के डिवाइडर पोल पर प्रचार के टेंडर नहीं हुए। यहां 26 पोल नीलाम किए जाते रहे हैं।

बीते वर्ष नीलामी नहीं हो पाई थी


X
Click to listen..